Maharashtra Rain: भारी बारिश से महाराष्ट्र का बुरा हाल, कई इलाके जलमग्न, बचाव में उतरी सेना

महाराष्ट्र में लगातार हो रही बारिश से जनजीवन अस्त व्यस्त हो गया है। रेलवे ट्रैक पर चट्टानें एवं मलबा गिरने से रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुई है। राहत एवं बचाव कार्य के लिए सेना की मदद ली जा रही है।

 Maharashtra: Rain uproots rail lines,  Army indian army in relief work
महाराष्ट्र में हो रही भारी बारिश से बाढ़ जैसी स्थिति।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र के कई इलाकों में 48 घंटे से ज्यादा समय से बारिश हो रही है
  • भारी बारिश की वजह से कोंकण क्षेत्र सहित राज्य के कई इलाके पानी में डूबे
  • रेलवे ट्रैक पर चट्टानें गिरने से रेल यातायात बुरी तरह प्रभावित हुआ है

मुंबई : महाराष्ट्र में भारी बारिश की वजह से राज्य के कई इलाकों में बाढ़ जैसी स्थिति पैदा हो गई है। कई इलाके जलमग्न हो गए हैं और जनजीवन पटरी से उतर गया है। भारी बारिश की वजह से रेल सेवाएं बुरी तरह प्रभावित हुई हैं। मुंबई-पुणे, मुंबई-नासिक और मुंबई कोंकण मार्ग की रेल पटरियां उखड़ जाने से ट्रेनों का संचालन प्रभावित हुआ है। रेलवे इन मार्गों पर ट्रैक को ठीक करने की कोशिश में जुटा है। दरअसल, कोंकण रेलवे पर ट्रैक ठीक करने में ज्यादा मुश्किलें आ रही हैं क्योंकि यहां रेलवे ट्रैक तक सड़क मार्ग से पहुंचा जा सकता है लेकिन ये सड़कें बाढ़ की गाद से भरी पड़ी हैं। रेल मार्ग पर फंसे यात्रियों को बसों के जरिए वहां से निकाला गया है।

पीएम मोदी ने बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे से फोन पर बातकर बाढ़ की स्थिति का जायजा लिया। पीएम ने उद्धव को हरसंभव मदद देने का भरोसा दिया है। 

घाट सेक्शन में रेलवे ट्रैक पर गिरीं चट्टानें
सेंट्रल रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी शिवाजी सुतार का कहना है कि पहाड़ी इलाकों में रेल ट्रैक सड़क के साथ-साथ चलते हैं। घाट सेक्शन के रेल ट्रैक तक सड़क मार्ग से पहुंचना एक चुनौती बनी हुई है। इस इलाके में लगातार बारिश हो रही है। इस रूट पर बड़ी संख्या में यात्री फंसे हुए थे जिन्हें बस के जरिए ले जाया गया। 

भीमाशंकर मंदिर पानी में डूबा
महराष्ट्र के रत्नागिरी इलाके में भी भारी बारिश हो रही है। यहां के ज्यादातर इलाके पानी में डूब दए हैं। पुणे का भीमाशंकर मंदिर और इसके आस-पास का इलाका पानी में डूबा हुआ है। भीमाशंकर मंदिर 12 ज्योतिर्लिंगों में से एक है। 

राहत एवं बचाव कार्य में जुटी सेना
मुंबई स्थित  मौसम विभाग का कहना है कि गोवा और महाराष्ट्र के रायगढ़, रत्नागिरी, सिंधुदुर्ग, पुणे घाट, सतारा और कोल्हापुर में भारी बारिश हो रही है। इसकी वजह से इन इलाकों के ज्यादातर हिस्से में जलजमाव होने के साथ-साथ बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है। महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया है कि रत्नागिरी एवं रायगढ़ जिलों में से सेना और नौसेना की टीमें राहत एवं बचाव कार्य में जुट गई हैं।   

कोल्हापुर जिले में 47 गांवों का संपर्क टूटा
महाराष्ट्र में भारी बारिश और नदियों में उफान आने से बृहस्पतिवार को कोंकण रेलवे मार्ग पर ट्रेन सेवाएं प्रभावित हो गई और करीब छह हजार यात्री फंस गए। भारी बारिश की वजह से मुंबई सहित राज्य के कई अन्य हिस्सों में रेल और सड़क यातायात प्रभावित हुआ है। इसकी वजह से अधिकारियों को बचाव कार्य में प्रशासन की मदद के लिए राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) बुलाना पड़ा है। इस बीच, राज्य के कोल्हापुर जिले में भारी बारिश के चलते सड़कों के जलमग्न हो जाने पर करीब 47 गांवों का संपर्क टूट गया है और 965 परिवारों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाना पड़ा। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर