केरल: हथिनी की मौत मामले में वन विभाग की टीम ने शुरू की जांच

देश
नवीन चौहान
Updated Jun 04, 2020 | 15:45 IST

Probe started on death of a wild elephant: केरल सरकार द्वारा गठित वनविभाग की टीम ने गर्भवती हथिनी की मौत की घटना की जांच शुरू कर दी है।

elephant_1
elephant_1 

मुख्य बातें

  • गर्भवती हथिनी की मौत के बाद देश के लोगों ने सोशल मीडिया पर दिखाया रोष
  • अनानास के अंदर पटाखे रखकर हथिनी को खिलाया गया था,जो मुंह के अंदर फट गया था
  • इसके कुछ दिन बाद हथिनी की मौत हो गई, पोस्टमॉर्टम में पता चला था कि हथिनी गर्भवती थी

नई दिल्ली: केरल में गर्भवती हथिनी की अमानवीय तरीके से हुई मौत पर चौतरफा दबाब बनने के बाद केरल सरकार ने मामले की जांच शुरू कर दी है। केरल सरकार ने बुधवार को ही वनविभाग की टीम द्वारा मामले की जांच करने का आदेश जारी कर दिया था। वहीं केंद्र सरकार नें भी राज्य सरकार से इस मामले में रिपोर्ट तलब की है। 

ऐसे में जांच के लिए वनविभाग की टीम ने हथिनी की मौत की जांच शुरू तक दी है। अनासान में हथिनी को पठाखा और बारूद खिला दिया गया था जो उसके मुंह के अंदर फट गया था और कुछ दिन बाद उसकी मौत हो गई। पोस्टमार्टम के दौरान पता चला की हथिनी गर्भवती थी।

जांच शुरू होने के बाद अधिकारी इस बात को लेकर कन्फ्यूज हैं कि हथिनी रास्ता कैसे भटक गई। जांच दल ने घटना स्थल के करीब के वृक्षारोपण के काम में लगे लोगों से पूछताछ की है। जांच दल के अधिकारियों को संदेह है कि जंगली हथिनी कई किमी दूर से चलकर यहां पहुंची थी। उसे पहले बार 23 मई को अंबल अप्परा में देखा गया था। हालांकि इसके उसे पल्लकड जिले के मनर्कड वन मंडल में मृत पाया गया। 


 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर