कर्नाटक अल्पसंख्यक आयोग ने इस्लामिक विद्वानों और अल्पसंख्यक समुदाय से 'हर घर तिरंगा' अभियान का प्रचार करने का किया आग्रह

Har Ghar Tiranga Abhiyan: कर्नाटक अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अब्दुल अजीम ने कहा कि मैं अल्पसंख्यक समुदायों के सभी सदस्यों से आह्वान करता हूं कि वे इस कार्यक्रम का प्रचार करें और अपने घर, पूजा स्थलों, स्कूलों, कॉलेजों आदि पर राष्ट्रीय तिरंगा फहराएं।

Karnataka Minorities Commission urges Islamic scholars and minority community to promote Har Ghar Tiranga campaign
'हर घर तिरंगा' अभियान। (फोटो- iStock) 

Har Ghar Tiranga Abhiyan: कर्नाटक अल्पसंख्यक आयोग के अध्यक्ष अब्दुल अजीम ने पत्र लिखकर अल्पसंख्यकों से हर घर तिरंगा पहल का प्रचार करने को कहा है। उन्होंने आवासीय भवनों, स्कूलों आदि पर झंडा फहराने के लिए कहा है। अब्दुल अजीम की ओर से जारी एक प्रेस नोट में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर देश के सभी नागरिकों से 'हर घर तिरंगा' कार्यक्रम के तहत अपने घरों पर 13 अगस्त से 15 अगस्त तक 3 दिनों के लिए राष्ट्रीय तिरंगा फहराने का आह्वान किया है ताकि 75 वें स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम को यादगार बनाया जा सके।

Har Ghar Tiranga Abhiyan: 2002 से पहले घर पर तिरंगा फहराना गैरकानूनी था!  तिरंगा फहराते हुए किन किन बातों का रखना है ध्यान

भारतीय राष्ट्रीय ध्वज पूरे राष्ट्र के लिए राष्ट्रीय गौरव का प्रतीक है। ये कार्यक्रम हर जगह भारतीयों को अपने घरों, पूजा स्थलों, स्कूलों, कॉलेजों आदि पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रेरित करता है, ताकि वे अपनी देशभक्ति, एकजुटता और राष्ट्र के प्रति प्रेम को व्यक्त कर सकें।

Har Ghar Tiranga Abhiyan: मोदी सरकार के देशभक्ति अभियान में शामिल होने का ये है तरीका

अब्दुल अजीम ने कहा कि मैं अल्पसंख्यक समुदायों के सभी सदस्यों से आह्वान करता हूं कि वे इस कार्यक्रम का प्रचार करें और अपने घर, पूजा स्थलों, स्कूलों, कॉलेजों आदि पर राष्ट्रीय तिरंगा फहराएं। इसके अलावा मैं इस्लामी विद्वानों, ईसाई चर्चों के पादरियों, सिख समुदाय के गुरुओं, बौद्धों के भिक्षुओं, पारसियों के पुजारी और जैन मुनियों से भी अनुरोध करता हूं कि वे इस आयोजन में सक्रिय भागीदारी के लिए समुदाय को उपयुक्त निर्देश जारी करें।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर