नड्डा का लालू पर निशाना, 'जेपी की उंगली पकड़ राजनीति सीखने वाले आज कर रहे कांग्रेस से गलबहियां'

देश
श्वेता कुमारी
Updated Oct 11, 2020 | 19:26 IST

Bihar chunav 2020: बिहार में विधानसभा चुनाव के मद्देनजर एक रैली को संबोध‍ित करते हुए बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने लालू प्रसाद और महागठबंधन पर निशाना साधा।

नड्डा का लालू पर निशाना, 'जेपी की उंगली पकड़ राजनीति सीखने वाले आज कर रहे कांग्रेस से गलबहियां'
नड्डा का लालू पर निशाना, 'जेपी की उंगली पकड़ राजनीति सीखने वाले आज कर रहे कांग्रेस से गलबहियां'  |  तस्वीर साभार: Twitter

मुख्य बातें

  • बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने गया में रैली को संबोधित किया
  • उनके निशाने पर आरजेडी प्रमुख लालू प्रसाद और महागठबंधन रहा
  • उन्‍होंने कांग्रेस और आरजेडी के बीच गठबंधन को लेकर सवाल उठाए

गया : बिहार में होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एक रैली को संबोधित करते हुए बीजेपी अध्‍यक्ष जेपी नड्डा ने राज्‍य के पूर्व मुख्‍यमंत्री व आरजेपी प्रमुख लालू प्रसाद पर जमकर हमला बोला। उन्‍होंने आरजेडी प्रमुख का नाम लिए बगैर कहा कि जिन लोगों ने कभी कांग्रेस के खिलाफ जयप्रकाश नारायण की उंगली पकड़कर राजनीति में उतरे, वे आज उसी पार्टी के साथ गलबहियां कर रहे हैं। उनका निशाना बिहार में महागठबंधन पर था, जिसमें आरजेडी और कांग्रेस साझीदार है।

गया के गांधी मैदान में एक रैली को संबोधित करते हुए नड्डा ने कहा, 'जयप्रकाश नारायण ने कभी कांग्रेस के खिलाफ आंदोलन शुरू किया था। जेपी के आशीर्वाद से जो नेता और आगे चलकर मुख्‍यमंत्री बने, वही आज उसी पार्टी के साथ गलबहियां कर रहे हैं।' उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों की भी उम्र इस वक्‍त 50-60 साल के आसपास है, उन्‍होंने जेपी आंदोलन को देखा होगा। स्‍वतंत्र भारत में उन्‍होंने संभवत: पहली बार ऐसी आवाज और राजनीतिक विचारधारा सुनी होगी, जो कांग्रेस की सोच से अलग थी।

लालू, नीतीश की तुलना

जेपी आंदोलन से ही सियासत में बुलंदियों को छूने वाले लालू प्रसाद और बिहार के मौजूदा सीएम नीतीश कुमार की तुलना करते हुए नड्डा ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ मिलकर नीतीश जी ने बिहार की राजनीतिक संस्‍कृति बदल दी। पूर्व में कांग्रेस जाति और मजहब के आधार पर वोट बैंक की राजनीति करती थी। लेकिन पीएम मोदी ने सरकार के कामकाज के रिपोर्ट कार्ड के आधार पर जनता के बीच जाने की संस्कृति शुरू की है।'

बीजेपी अध्‍यक्ष ने कहा, 'जब हम विकास की बात करते हैं और विकास की दृष्टि से बिहार को देखते हैं तो पहले के बिहार और आज के बिहार में काफी अंतर है।' उन्‍होंने लोगों को लालू प्रसाद के शासनकाल की याद दिलाते हुए कहा कि कारोबारियों के प्रदेश छोड़ने सहित उस दौर में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब थी। उन्‍होंने कहा, 'याद करें उस दौर को जब शाम होने के बाद लोग सुरक्षित महसूस नहीं करते थे।'

एनडीए के लिए जनादेश की अपील

एनडीए के पक्ष में जनादेश की अपील करते हुए बीजेपी अध्‍यक्ष ने कहा, 'आज देश का नेतृत्व पीएम मोदी के हाथ में सुरक्षित है, आवश्यकता इस बात की है कि बिहार का नेतृत्व नीतीश जी के हाथ में सुरक्षित हो।' उन्‍होंने इस दौरान केंद्र सरकार की कई योजनाओं का भी जिक्र किया और कहा कि राज्‍य में इस वक्‍त विकास के नए अध्याय लिखे जा रहे हैं, उसे जारी रखना सभी की जिम्‍मेदारी है और इसलिए लोग एनडीए के पक्ष में जनादेश दें। 

इससे पहले सुबह नड्डा कदमकुआं स्थित जेपी आवास भी गए और उनकी जयंती पर आयोजित कार्यक्रम में शामिल हुए। नड्डा ने कहा कि जेपी के बताए आदर्शों और मूल्यों पर चलना ही हमारा संकल्प है। 'लोकनायक' के नाम से मशहूर जयप्रकाश नारायण का जन्म 11 अक्‍टूबर, 1902 को हुआ था। 1970 के दशक में जेपी की अगुवाई में हुए आंदोलन ने इंदिरा गांधी की अगुवाई वाली कांग्रेस सरकार को हिलाकर रख दिया था।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर