Weather Alert: 16 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, मौसम विभाग ने जारी की चेतावनी

देश
किशोर जोशी
Updated May 14, 2020 | 09:16 IST

Weather Forecast: भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) के मुताबिक दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर और दक्षिण अंडमान सागर के पास एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है, जिससे 16 मई चक्रवाती तूफान आ सकता है।

IMD declares cyclone alert in the Bay of Bengal as low forms
16 मई को आ सकता है चक्रवाती तूफान, IMD ने जारी की चेतावनी 

मुख्य बातें

  • मौसम विभाग के अनुसार, बंगाल की खाड़ी में बन रहे दवाब की वजह से आ सकता है चक्रवाती तूफान
  • मौसम विभाग के अनुसार इस तूफान का नाम अम्फान रखा गया है
  • वहीं उत्तर भारत में भी तेज हवाओं के साथ हो सकती है बारिश

नई दिल्ली: मौसम को लेकर भारतीय मौमस विभाग (IMD) ने एक महत्वपूर्ण भविष्यवाणी की है जिसके मुताबिक 16 मई को  बंगाल की खाड़ी के दक्षिण पूर्वी क्षेत्र और उससे सटे दक्षिण अंडमान सागर पर एक निम्न दबाव का क्षेत्र तैयार हुआ है जिसकी वजह 16 मई की शाम तक एक चक्रवाती तूफान आने की संभावना है। मौसम विभाग के मुताबिक अगले 24 घंटों में देश के कई राज्यों में धूल भरी आंधी भी चल सकती है। 

अम्फान रखा गया है तूफान का नाम

मौसम विभाग ने जानकारी दी कि दक्षिण-पूर्वी बंगाल की खाड़ी के ऊपर और दक्षिण अंडमान सागर के पास एक कम दबाव का क्षेत्र तैयार हो रहा है जिससे चक्रवाती तूफान के विकसित होने की संभावना है। इस तूफान का नाम अम्फान (Amphan) रखा गया है। मौसम विभाग की मानें तो यदि तूफान विकसित हुआ तो फिर यह उत्तर पूर्व की तरफ बढ़ेगा और अंडमान-निकोबार में 15-16 मई को भारी बारिश हो सकती है।

केरल में नहीं रहेगा प्रभाव

 हालांकि केरल चक्रवाती तूफान से सीधे प्रभावित नहीं हो सकता है। यह अनुमान लगाया गया है कि केरल में इस तूफान के प्रभाव के बगैर 17 मई तक भारी वर्षा होगी। केरल में बारिश के साथ हल्की और तेज हवा चलेगी। मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मद्देनजर, केरल के विभिन्न जिलों में एक यलो अलर्ट जारी किया गया था। आईएमडी की चेतावनी के अनुसार, बंगाल की खाड़ी और दक्षिण अंडमान सागर पर कम दबाव का क्षेत्र शुक्रवार को तेज हो सकता है जो शनिवार शाम तक चक्रवाती तूफान में तब्दील सकता है।

उत्तर भारत को लेकर भी अलर्ट

चेतावनी के मुताबिक 15 मई को दक्षिण और बंगाल की खाड़ी के आस  45-55 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती है जो बढ़कर 65 किलोमीटर प्रति घंटा तक पहुंच सकती है। इसके अलावा मौसम विभाग ने बताया है कि गुरुवार और शुक्रवार को दक्षिण के तमिलनाडु, कर्नाटक, लक्ष्यद्वीप में तेज बारिश हो सकती है जबकि उत्तर भारत में पश्चिमी विक्षोभ की वजह से उत्तराखंड, हिमाचल, जम्मू-कश्मीर, यूपी, हरियाणा और पंजाब में तेज हवाओं के साथ बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने इसे लेकर ऑरेंज अलर्ट जारी किया है।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर