कोरोना वैक्सीन आवंटन में पक्षपात पर हेल्थ मिनिस्टर ने सामने रखी हकीकत, कहा- अपनी अक्षमता को छिपाने का प्रयास 

देश
रवि वैश्य
Updated Apr 08, 2021 | 19:33 IST

Corona Vaccine Update: कोरोना वैक्सीन के आवंटन को लेकर कुछ राज्य सवाल उठा रहे हैं इसपर केंद्र सरकार ने बात रखते हुए कहा कि वैक्सीन का आवंटन सही प्रकार से किया जा रहा है।

Corona Vaccine Allocation
राजेश टोपे के दावे पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि किसी भी राज्य में टीकों की कमी नहीं है 

मुख्य बातें

  • महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि राज्य में वैक्सीन की भारी कमी है
  • राजस्थान ने पिछले महीने ही राज्य में वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया था
  • केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा था कि किसी भी राज्य में टीकों की कमी नहीं है

देश में जारी कोरोना संकट के बीच अब सारा जोर कोरोना वैक्सीन के तेजी से क्रियान्वयन पर लगा हुआ है ऐसे में कोरोना वैक्सीन आवंटन को लेकर केंद्र सरकार पर कुछ गैर बीजेपी शासित राज्यों ने आरोप लगाया है कि उन्हें कोरोना वैक्सीन दी गई है जिससे उनके राज्य में कोरोना बेकाबू होता जा रहा है।

महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा था कि राज्य में वैक्सीन की भारी कमी है उन्होंने कहा है कि राज्य में केवल तीन दिन के लिए 14 लाख टीके बचे हैं। टोपे ने कहा कि टीकों की कमी के कारण कई वैक्सीनेशन सेंटर बंद करने पड़ रहे हैं।  टोपे ने दावा किया कि जबकि उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, गुजरात और हरियाणा जैसे राज्यों को इससे ज्यादा वैक्सीन की डोज दी गई हैं।

राजेश टोपे के दावे पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन ने कहा कि किसी भी राज्य में टीकों की कमी नहीं है,हर्षवर्धन ने कहा कि कुछ राज्य सरकारें पर्याप्त संख्या में लाभार्थियों को टीका लगाए बिना सभी के लिए टीकों की मांग कर लोगों में दहशत फैलाने और अपनी विफलताएं छिपाने की कोशिश में लगी हुई हैं, हर्षवर्धन ने कहा कि टीकों की कमी के आरोप पूरी तरह निराधार हैं।


वहीं राजस्थान ने पिछले महीने ही राज्य में वैक्सीन की कमी का मुद्दा उठाया था। इस पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा था कि केंद्र सरकार ने राजस्थान को 37.61 लाख डोज दी थी, जबकि इसमें से सिर्फ 24.28 लाख डोज का ही यूज किया गया।

वहीं ओडिशा सरकार ने केंद्र सरकार को पत्र लिखकर कहा है कि उनके पास सिर्फ तीन दिन का स्टॉक बचा है। ओडिशा ने केंद्र से कहा है कि वैक्सीनेशन ड्राइव को बिना किसी बाधा के चलाने के लिए 15 से 20 लाख कोविशील्ड की डोज उपलब्ध कराई जाए।

वहींछत्तीसगढ़ में रोजाना दो लाख लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा रही है। राज्य के पास 5 अप्रैल तक सिर्फ दो लाख वैक्सीन ही बची हुई थी। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंह देव ने कहा कि वैक्सीन की सप्लाई को लेकर अनिश्चितता बनी हुई है।ओडिशा के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा है कि अगर वैक्सीन का स्टॉक नहीं आया तो दो दिन बाद वैक्सीनेशन प्रोग्राम बंद करना पड़ेगा। यही नहीं, राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री ने तो केंद्र सरकार की ओर से भेजे गए वेंटिलेटर की क्वालिटी पर ही सवाल उठा दिया है और दावा किया है कि वेंटिलेटर दो से ढाई घंटे में ही खराब पड़ रहे हैं।


 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर