भाजपा नेता का बयान, राम मंदिर के निर्माण कार्य के साथ ही खत्म होने लगेगी कोरोना महामारी 

Ram Temple's construction: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता रामेश्वर शर्मा का कहना है कि अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कार्य शुरू होते ही कोरोना महामारी का खात्मा भी होने लगेगा।

End of Covid-19 to begin with start of Ram Temple's construction: BJP's Rameshwar Sharma
अयोध्या में पांच अगस्त को है राम मंदिर का भूमिपूजन।  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • कोरोना महामारी की चपेट में आने वाला दुनिया का तीसरा बड़ा देश है भारत
  • कोविड-19 का टीका विकसित करने में जुटे हैं कई बड़े देश, टीके का ट्रायल जारी है
  • पांच अगस्त को अयोध्या में होगा राम मंदिर का शिलान्यास, पीएम होंगे मौजूद

ग्वालियर (मध्य प्रदेश) : मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कहा है कि अयोध्या में राम मंदिर का निर्माण कार्य शुरू होते ही कोविड-19 महामारी खत्म होने लगेगी। अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन कार्यक्रम पांच अगस्त को होना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंदिर निर्माण की नीव रखेंगे। शर्मा ने बुधवार को मीडियाकर्मियों से बातचीत में कहा, 'भगवान राम ने मानवता के कल्याण के लिए अवतार लिया और उस समय के राक्षसों का वध किया। जैसे ही राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होगा कोरोना महामारी का भी खात्मा होना प्रारंभ हो जाएगा।'

पांच अगस्त को होगा भूमि पूजन
शर्मा ने आगे कहा, 'कोरोना वायरस के प्रकोप से केवल भारत ही नहीं बल्कि पूरी दुनिया पीड़ित है। हम केवल सोशल डिस्टेंसिंग का ही पालन नहीं कर रहे बल्कि अपने आराध्य देवी-देवताओं को भी याद कर रहे हैं। अयोध्या में राम मंदिर निर्माण कार्य करने का आदेश सुप्रीम कोर्ट ने दिया है।' इसके पहले श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र के ट्रेजरर स्वामी गोविंद देव गिरि ने बताया कि पीएम मोदी पांच अगस्त को राम मंदिर की नीव रखेंगे। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाएगा और इस कार्यक्रम में 200 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे।

कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का होगा पालन
गिरि ने समाचार एजेंसी एएनआई से कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। कार्यक्रम में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने के लिए हमने तय किया है कि कार्यक्रम में 200 से ज्यादा लोग शामिल नहीं होंगे। समारोह में करीब 150 अतिथि शिरकत करेंगे।' उन्होंने बताया कि भूमि पूजन करने के बाद पीएम मोदी हनुमान गढ़ी, राम लला मंदिर जाएंगे और पौधारोपण करेंगे।

मंदिर के मॉडल में होगा बदलाव
बता दें कि अयोध्या में पांच अगस्त से राम मंदिर निर्माण का कार्य शुरू होने को लेकर देशवासियों में काफी उत्साह है। लोगों का कहना है कि वर्षों का इंतजार अब जाकर समाप्त हुआ है। अयोध्या में पांच अगस्त के कार्यक्रम की तैयारी न्यास शुरू कर चुका है। राम मंदिर निर्माण के लिए लोग दान देने के लिए भी आगे आ रहे हैं। राम मंदिर के नए मॉडल में कुछ बदलाव किया गया है। मंदिर की लंबाई, ऊंचाई और चौड़ाई में बदलाव किया गया है। बताया जा रहा है कि मंदिर में तीन गुंबद की जगह अब पांच गुंबद होंगे। मंदिर में प्रवेश के लिए भी पांच गेट बनाए जाएंगे। 

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर