राम मंदिर भूमि पूजन में 150 अतिथि होंगे शामिल, सभी मुख्यमंत्रियों को भेजा जाएगा न्यौता

देश
ललित राय
Updated Jul 22, 2020 | 15:57 IST

राम मंदिर भूमि पूजन में अतिथियों की संख्या कितनी होगी इस पर से पर्दा हट चुका है। पांच अगस्त को उस ऐतिहासिक दिन 150 लोगों को बुलाया जाएगा। सोशल डिस्टेंसिंग के मद्देनजर अतिथियों की संख्या में कमी की गई है।

राम मंदिर भूमि पूजन में 150 अतिथि होंगे शामिल, सभी मुख्यमंत्रियों  को भेजा जाएगा न्यौता
पांच अगस्त 2020 को राम मंदिर की रखी जाएगी आधारशिला 

मुख्य बातें

  • पांच अगस्त को राम मंदिर की रखी जाएगी आधारशिला
  • भूमि पूजन में शामिल होने के लिए पीएम नरेंद्र नोदी को भेजा गया है न्यौता
  • मंदिर की डिजाइन में थोड़ा बदलाव अब होंगे पांच शिखर

नई दिल्ली। आस्था की इमारत(राम मंदिर) की नींव रखने के लिए तिथि मुकर्रर हो चुकी है। पांच अगस्त का दिन इसके लिए तय और अभिजित मुहुर्त में 32 सेकेंड के अंदर नींव के अंदर चांदी की पांच ईटों को रखने का संपन्न होगा। इसके लिए पीएम नरेंद्र मोदी को न्यौता भेजा गया है। राम मंदिर भूमिपूजन के लिए अतिथियों की कितनी संख्या होगी इससे भी पर्दा हट चुका है। 

भूमि पूजन में 150 गेस्ट होंगे शामिल
श्री रामजन्मभूमि तीर्थक्षेत्र ट्रस्ट के कोषाध्यक्ष गोविंद देव गिरि ने बताया कि पीएम मोदी मंदिर में भगवान राम की पूजा करेंगे और हनुमानगढ़ी में हनुमान जी की पूजा अर्चना करेंगे। भूमि पूजन के लिए सभी मुख्यमंत्रियों को न्यौता भेजा जाएगा। कोरोना काल में सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान देते हुए यह फैसला किया गया है कि 200 से ज्यादा लोग उस ऐतिहासिक अवसर पर मौजूद नहीं होंगे जिनमें अतिथियों की संख्या 150 होगी।

पांच अगस्त का दिन है खास
अयोध्या में श्री राम तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की बैठक में 3 अगस्त और पांच अगस्त की तारीख भूमि पूजन के लिए सुझाई गई थी और पीएम मोदी से शामिल होने का आग्रह किया  गया। लेकिन बाद में पांच अगस्त की तारीख फाइनल कर दी गई। पांच अगस्त के बारे में कहा जा रहा है कि उस दिन अभिजित मुहुर्त है और नींव नें ईंट रखने के लिए 32 सेकेंड का समय शुभ है। इसी अवधि में सारी प्रक्रियाओं को पूरा करना है।

देश और दुनिया में  कोरोना वायरस पर क्या चल रहा है? पढ़ें कोरोना के लेटेस्ट समाचार. और सभी बड़ी ख़बरों के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें

अगली खबर