Cyclone Nivar: 'निवार' की चपेट में चेन्‍नई, मरीना बीच पर समुद्र में बढ़ी हलचल, फ्लाइट्स के ऑपरेशन सस्‍पेंड

Chennai weather update: चेन्‍नई में चक्रवात निवार के कारण भारी बारिश व तूफान की आशंका जताई जा रही है। चेन्‍नई एयपोर्ट से फ्लाइट्स का ऑपरेशन गुरुवार सुबह 7 बजे तक सस्‍पेंड कर दिया गया है।

Cyclone Nivar: 'निवार' की चपेट में चेन्‍नई, मरीना बीच पर समुद्र में बढ़ी हलचल, फ्लाइट्स का ऑपरेशन सस्‍पेंड
Cyclone Nivar: 'निवार' की चपेट में चेन्‍नई, मरीना बीच पर समुद्र में बढ़ी हलचल, फ्लाइट्स का ऑपरेशन सस्‍पेंड  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • चक्रवाती तूफान निवार की तेजी से चेन्‍नई की तरफ बढ़ रहा है
  • मध्‍यरात्रि तक इसकी रफ्तार 120-130 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है
  • भयंकर तूफान के कारण यहां फ्लाइट का ऑपरेशन सस्‍पेंड कर दिया गया है

चेन्नई: गंभीर चक्रवाती तूफान निवार एक बहुत ही भयंकर चक्रवाती तूफान में बदल गया है। भारत मौसम विभाग के अनुसार, यह पश्चिम-पश्चिमोत्‍तर की तरफ बढ़ रहा है। फिलहाल यह चक्रवाती तूफान तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई से 220 किलोमीटर दूर दक्षिण-पूर्व में है। चक्रवात निवार के बुधवार की मध्यरात्रि पुडुचेरी के पास कराईकल और मामल्लपुरम के बीच तमिलनाडु-पुडुचेरी के तटों को पार करने का अनुमान है। गुरुवार तड़के तहत इसकी रफ्तार 120-130 किमी प्रति घंटे की हो सकती है और यह भयंकर चक्रवाती तूफान का रूप ले सकता है। इस दौरान हवा की रफ्तार बढ़कर 145 किमी प्रति घंटे तक हो सकती है।

आईएमडी के अनुसार, चेन्नई, कराईकल और श्रीहरिकोटा में डॉपलर वेदर रडार के जरिये चक्रवात पर नजर रखी जा रही है। मौसम विभाग ने पहले ही तमिलनाडु और पुडुचेरी के तटीय इलाकों में रहने वालों के लिए एक रेड मैसेज चेतावनी जारी की है। तमिलनाडु की राजधानी चेन्नई के कई इलाकों में आज अत्यधिक वर्षा को लेकर अलर्ट जारी किया गया है। हालात की गंभीरता को देखते हुए चेन्‍नई एयरपोर्ट पर बुधवार शाम 7 बजे से गुरुवार सुबह 7 बजे तक फ्लाइट का ऑपरेशन सस्‍पेंड कर दिया गया है।

भारी बारिश, तूफान की आशंका

आईएमडी के अनुसार, चेन्नई में 80-90 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने का अनुमान है, जो बुधवार मध्यरात्रि से गुरुवार की तड़के तक 100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार तक बढ़ सकती है। चक्रवात के कारण चेन्नई में छतों के गिरने, मेटल शीट्स के उड़ जाने, फूस के घरों व झोपड़ियों को नुकसान पहुंचने, बिजली एवं संचार लाइनों के क्षतिग्रस्‍त हो जाने, सड़कों के टूट जाने, पेड़ों शाखाओं के टूट जाने व पेड़ उखड़ जाने, केले और पपीते के पेड़ों तथा बागवानी, फसलों और बागों को गंभीर नुकसान सहित कई तरह की आशंकाएं जताई जा रही हैं।

चक्रवात निवार के कारण भारी बारिश की आशंका है और ऐसे में चेन्नई में जलभराव की समस्‍या भी पैदा हो सकती है। प्रशासन ने चेंबरमबक्कम जलाशय से अडयार नदी में लगभग 1,000 क्यूसेक पानी छोड़ना बुधवार से ही शुरू कर दिया, क्योंकि इसमें स्‍टोरेज का स्‍तर पहले ही 3 अरब क्यूबिक फीट को छू चुका था, जबकि इसकी अधिकतम क्षमता 3,645 Mcft थी। फिलहाल 30 निचले इलाकों से भी जलभराव की सूचना मिल रही है, जिसके बाद ग्रेटर चेन्नई कॉर्पोरेशन (जीसीसी) बारिश के पानी को निकालने के काम में जुटा है।

पुलिस ने राहत कार्यों के लिए नावों और अन्य आवश्यक उपकरणों से लैस 12 टीमों को तैनात किया है। पुलिस ने 9498181239 पर एक अस्थायी नियंत्रण कक्ष भी स्थापित किया है। इसके अलावा, जीसीसी ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किए हैं, जो कि 044-25384530 और 044-25384540 हैं।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर