सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में रखा विश्वास मत का प्रस्ताव, बीजेपी से कहा- एक विधायक भी तोड़कर दिखाओ

देश
पुलकित नागर
पुलकित नागर | SPECIAL CORRESPONDENT
Updated Aug 29, 2022 | 13:20 IST

Arvind Kejriwal: केजरीवाल ने कहा कि आज अगर ये लोग अपने दोस्तों के जितने कर्ज माफ किए हैं, वह ना करें तो महंगाई कम हो सकती है। अंग्रेज लगान लेकर हमारे देश के लोगों पर पैसा खर्च नहीं करते थे, वैसे ही ये लोग कर रहे हैं।

CM Kejriwal proposed confidence motion in the assembly
सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में रखा विश्वास मत का प्रस्ताव। (File Photo)  |  तस्वीर साभार: ANI

Arvind Kejriwal: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने सोमवार को विधानसभा में विश्वास मत का प्रस्ताव रखने के साथ बीजेपी पर हमला बोला। मुख्यमंत्री ने कहा कि ये बड़े दुख की बात है कि आज इतने अहम विषय पर चर्चा होनी है और विपक्ष गैर जिम्मेदाराना रवैया रख रहा है और वह चर्चा करना ही नहीं चाहते, केवल ड्रामेबाजी करना चाहते हैं। साथ ही कहा कि लोग देख रहे होंगे कि ये लोग बात ही नहीं करते नौटंकी करते हैं।

सीएम केजरीवाल ने विधानसभा में रखा विश्वास मत का प्रस्ताव

बीजेपी पर निशाना साधते हुए मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि आज पूरे देश के लोग महंगाई से बहुत परेशान हैं उनके घर नहीं चल रहे। साथ ही कहा कि बहुत से लोगों ने एक टाइम की सब्जी और दूध लेना कम कर दिया है। जब लोगों से पूछते हैं तो बहुत से लोगों को लगता है कि महंगाई अपने आप हो रही है जबकि महंगाई अपने आप नहीं हो रही, इन लोगों ने टैक्स लगाया है इस वजह से हो रही है।

AAP का Make India No.1 मिशन लॉन्च कर केजरीवाल ने दिए 5 मंत्र, पूछा- भगवान ने भारत को सब दिया, फिर हम पीछे क्यों?

केजरीवाल ने कहा कि इन्होंने दही, लस्सी, छाछ, गेहूं, चावल पर टैक्स लगा दिया है। इन पर तो अंग्रेजों ने भी टैक्स नहीं लगाया था। साथ ही कहा कि मेरे गुजरात के दोस्त बता रहे थे कि इन्होंने तो गरबा डांस पर भी टैक्स लगा दिया। टैक्स लगाने से अरबों-खरबों रुपए इनके पास आ रहे हैं, ये पैसा जा कहां रहा है? उनके कुछ खरबपति दोस्त हैं, उन्होंने बैंकों से हजारों करोड़ रुपए का कर्ज लिया। कर्ज लेने के बाद इनके दोस्तों की नीयत खराब हो गई। उनके पास कर्ज लौटाने के पैसे हैं, लेकिन नीयत खराब हो गई। 

उन्होंने जाकर इनको बोला कि हमारे बैंकों के कर्ज माफ करा दो, इन्होंने माफ करा दीजिए। 10 लाख करोड़ रुपए के कर्ज माफ किए। किसान दर-दर की ठोकर खा रहा है, उसका कर्ज माफ नहीं करते। साथ ही कहा कि किसान अगर एक किस्त ना दे तो घर पर आ जाते। एक मिडिल क्लास वाला अपनी कार की एक किस्त ना दे उसको नहीं छोड़ते।

Kejriwal सरकार ने क्लॉसरूम बनवाने में किया घोटाला, बिना टेंडर पास किया 500 करोड़ का बजट- BJP

केजरीवाल ने अंग्रेजों से की बीजेपी की तुलना

केजरीवाल ने कहा कि आज अगर ये लोग अपने दोस्तों के जितने कर्ज माफ किए हैं, वह ना करें तो महंगाई कम हो सकती है। अंग्रेज लगान लेकर हमारे देश के लोगों पर पैसा खर्च नहीं करते थे, वैसे ही ये लोग कर रहे हैं। ये लोग आपके लिए स्कूल, अस्पताल वगैरह नहीं बना रहे, अपने खरबपति दोस्तों के कर्ज माफ कर रहे हैं। पेट्रोल डीजल पर भी टैक्स लगा रखा है। ये सारा पैसा ऑपरेशन लोटस में जाता है।

ऑपरेशन लोटस का मतलब ये है कि अलग-अलग राज्यों में विधायकों को तोड़ो खरीदो और अपनी सरकार बनाओ। हमारे 12 विधायकों ने बताया कि 20 करोड़ रुपए ऑफर कर कह रहे हैं कि आप छोड़कर बीजेपी में आ जाओ। केजरीवाल ने कहा कि 40 विधायकों को तोड़ने का इनका प्लान था। उन्होंने मध्य प्रदेश, कर्नाटक, महाराष्ट्र, गोवा, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश के बाद कुछ दिन में झारखंड की भी सरकार गिरा देंगे। उन्होंने पिछले कुछ सालों में 277 विधायकों को प्रति 20 करोड़ रुपए के हिसाब से खरीदा। 

साथ ही कहा कि ये नौटंकी कह रहे हैं कि शराब में पैसा खा लिया। आज इनको ऊपर से आर्डर मिला है कि समय पर बात नहीं करनी बल्कि क्लास रूम की बात करनी हैं। कह रहे हैं टॉयलेट ज्यादा बना दिए- हां जी बनाएंगे। आज हम विश्वास मत लेकर आए हैं तो लोग पूछ रहे हैं कि इसकी क्या जरूरत है। इसकी जरूरत है, क्योंकि ये दिखाना है कि आम आदमी पार्टी का कोई विधायक मंत्री बिकाऊ नहीं है, वह कट्टर ईमानदार है। विश्वास मत में हम दिखाएंगे कि एक भी विधायक नहीं बिका। चैलेंज करता हूं कि एक भी विधायक तोड़कर दिखा दो।

आप विधायक दुर्गेश पाठक ने LG पर लगाया 1,400 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप

वहीं आम आदमी पार्टी विधायक दुर्गेश पाठक ने सदन में LG विनय कुमार सक्सेना पर 1,400 करोड़ रुपए के घोटाले का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि एलजी जब खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के अध्यक्ष थे तो नोटबंदी के दौरान ब्लैक मनी को व्हाइट किया गया। नोटबंदी के दौरान जब लोग भूखे और परेशान थे, तब हमारे उपराज्यपाल 1400 करोड़ रुपए का भ्रष्टाचार कर रहे थे।

दो कैशियर संजीव कुमार और प्रदीप यादव का धन्यवाद, जिन्होंने सारी बात सामने रखी। संजीव कुमार खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के हेड कैशियर थे, उन्होंने ये बयान देते हुए कहा कि मैंने 500 और 1000 रुपए का नोट भवन प्रबंधक के कहने पर स्वीकार किया। प्रबंधक ने कहा कि अगर बैंक नोट ले रहा है तो आप जमा करें। प्रबंधक ने कहा है कि चेयरमैन का दबाव है, अगर नहीं किया तो चेयरमैन साहब नाराज हो जाएंगे। जो भी मैंने अनुचित काम किया वह प्रबंधक के कहने पर किया। मैं दुखी मन से बैंक में कैश जमा कराना था। सीबीआई में मामला दर्ज हुआ, लेकिन एलजी का नाम तक नहीं लिखा गया। इसके अलावा न सीबीआई ने रेड की और न FIR में नाम लिखा और मामले में लीपा पोती कर दी गई। आप विधायक ने  कहा कि हम मांग करते हैं कि सीबीआई की FIR में विनय कुमार सक्सेना का नाम डाला जाए।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर