चिराग की लालू यादव से 15 मिनट हुई बात, क्या बिहार में होने जा रहा बड़ा उलटफेर

लोजपा के टूटने के बाद बिहार में राजनीतिक उलटफेर होने की संभावनाएं बनी हुई हैं। राजद चाहता है कि चिराग उसके खेमे में आ जाएं। शनिवार को राजद नेता श्याम रजक की मुलाकात चिराग पासवान से हुई।

Chirag Paswan meets RJD's Shyam Rajak, speaks to Lalu Yadav
क्या बिहार में होने जा रहा बड़ा राजनीतिक उलटफेर। 

मुख्य बातें

  • गत शनिवार को चिराग पासवान से मिले राजद नेता श्याम रजक
  • सूत्रों का कहना है कि चिराग की लालू यादव से फोन पर बात हुई
  • चिराग को साथ आने का न्योता दे चुके हैं राजद नेता तेजस्वी यादव

नई दिल्ली : लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के नेता चिराग पासवान ने शनिवार को राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) के राष्ट्रीय महासचिव श्याम रजक से मुलाकात की। इस मुलाकात के बाद सियासी अटकलें लगनी शुरू हो गई हैं। दोनों नेताओं के बीच यह मुलाकात ऐसे समय हुई है जब चिराग के चाचा पशुपति पारस को केंद्र सरकार में राज्य मंत्री बनाया गया है। लोजपा की विरासत पर अपना हक जताने के लिए चिराग और पशुपति पारस के बीच राजनीतिक लड़ाई जारी है। अटकलें लग रही है कि क्या चिराग राजद के साथ जाएंगे क्योंकि तेजस्वी यादव पहले ही उन्हें अपने साथ आने का न्योता दे चुके हैं। 

चिराग से मिले श्याम रजक
समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक रजक ने कहा, 'चिराग के साथ यह एक शिष्टाचार मुलाकात थी। मैं चिराग पासवान सहित पासवान परिवार से मिलने के लिए गया था।' यह मुलाकात इस लिए भी चर्चा का विषय बनी हुई है क्योंकि चिराग से मुलाकात से एक दिन पहले श्याम रजक की शुक्रवार को राजद सुप्रीमो लालू यादव से मुलाकात हुई। समझा जाता है कि रजक राजद सुप्रीम को कोई संदेश लेकर चिराग से मिले। 

चिराग आते हैं तो उनका स्वागत है 
यह पूछे जाने पर कि चिराग यदि राजद के साथ जुड़ते हैं तो उनका स्वागत होगा या नहीं। इस पर रजक ने कहा, 'वे सभी जो लोहिया और अंबेडकर की विचारधारा को आगे बढ़ाना चाहते हैं, उन सभी का स्वागत है। चाहे वह चिराग पासवान हों अथवा कोई और।' 

लालू के बाद तेजस्वी से भी बात हुई 
राजद के एन अन्य शीर्ष सूत्र ने एएनआई से कहा कि शनिवार शाम को पासवान ने 15 मिनट से ज्यादा समय तक फोन पर राजद के राष्ट्रीय अध्यक्ष के साथ बातचीत की। लालू यादव से बातचीत करने के बाद चिराग ने तेजस्वी यादव के साथ बात की। सूत्र का कहना है कि दोनों नेताओं ने बिहार में भविष्य के राजनीतिक गठबंधन को लेकर चर्चा की। 

लोजपा पर पशुपति ने फिर किया दावा
पिछले महीने तेजस्वी ने चिराग को राजद के साथ आने का न्योता दिया। हालांकि उनके इस प्रस्ताव पर चिराग ने स्पष्ट रूप से कुछ नहीं कहा। इस बीच शुक्रवार को पशुपति पारस ने दावा किया कि लोजपा के असली उत्तराधिकारी वही हैं। पिछले महीने पशुपति पारस और चार अन्य सांसद बगावती तेवर दिखाते हुए चिराग से अलग हो गए। इन पांचों सांसदों ने लोकसभा स्पीकर ओम बिड़ला को पत्र लिखकर निम्न सदन में पार्टी के नेता पद से चिराग को हटाने की मांग की।  

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times Now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Now Navbharat पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर