ड्रोन भेजने की हरकतों से बाज आएं पाकिस्तानी रेंजर्स, कमांडेंट स्तर की बैठक में BSF ने जताया कड़ा विरोध 

BSF Lodges Protest with Pakistan Rangers : बीएसएफ के प्रवक्ता ने कहा कि ऑक्ट्रोई सीमा चौकी में पाकिस्तानी रेंजर्स के साथ कमांडेंट स्तर की बैठक हुई जिसमें ड्रोन की गतिविधियों पर विरोध दर्ज कराया गया।

BSF Lodges Protest with Pakistan Rangers Over Drones Activities in Jammu
पाकिस्तानी रेजर्स के समक्ष सीमा पार से ड्रोन भेजने का मुद्दा उठा।  |  तस्वीर साभार: PTI
मुख्य बातें
  • ऑक्ट्रोई सीमा चौकी में बीएसएफ और पाकिस्तानी रेंजर्स के बीच हुई बैठक
  • बैठक में सीमा पार से ड्रोन भेजे जाने और अन्य मुद्दों पर बातचीत हुई
  • दोनों देशों के कमांडर आपसी बातचीत से सभी मसलों का हल निकालने पर राजी हुए

नई दिल्ली : सीमा पार से ड्रोन भेजकर अंतरराष्ट्रीय सीमा का उल्लंघन करने को लेकर सीमा सुरक्षा बल (BSF) ने पाकिस्तान से कड़ा विरोध दर्ज कराया है। बीएसएफ ने कहा है कि पाकिस्तान को इस तरह की गतिविधियों से दूर रहना चाहिए। बीएसएफ के प्रवक्ता ने कहा कि कमांडेंट अजय सूर्यवंशी की अगुवाई वाला बीएसएफ का शिष्टमंडल 13 विंग चिनाब के विंग कमांडर लेफ्टिनेंट कर्नल आकिल के नेतृत्व वाले पाकिस्तानी प्रतिनिधिमंडल से मिला। प्रवक्ता ने बताया कि ऑक्ट्रोई सीमा चौकी में पाकिस्तानी रेंजर्स के साथ कमांडेंट स्तर की हुई बैठक में विरोध दर्ज कराया गया। 

कमांडेंट स्तर की बैठक में कई मुद्दों पर हुई चर्चा

प्रवक्ता ने आगे बताया, 'इस बैठक में सीमा स्तंभों के रखरखाव,जारी बनियादी संरचना की गतिविधियों, पाकिस्तान की तरफ से आने वाले ड्रोन एवं अन्य गतिविधियों सहित कई मुद्दों पर चर्चा हुई।' उन्होंने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने सीमा पर बीएसएफ की ओर से हो रहे बचाव निर्माण कार्य पर विरोध जताया। हालांकि, दोनों देशों के कमांडर आपसी बातचीत से सभी अभियानगत मामलों का हल निकाले के लिए तैयार हुए। 

सौहार्दपूर्ण एवं  रचनात्मक माहौल में हुई बैठक

प्रवक्ता ने कहा कि पाकिस्तान की तरफ से भारत में आने वाले ड्रोन के मामलों पर बीएसएफ ने पाकिस्तान के समक्ष कड़ा विरोध दर्ज कराया। पाकिस्तानी कमांडरों से इस तरह की गतिविधियों से दूर रहने के लिए कहा गया। प्रवक्ता ने बताया कि बैठक सौहार्दपूर्ण और रचनात्मक माहौल में हुई और दोनों कमांडर सीमा पर शांतिपूर्ण माहौल बनाए रखने के लिए काम करने पर सहमत हुए।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर