Harayana: फिर चुनाव लड़ेंगे योगेश्वर दत्त, बीजेपी ने बरोदा सीट पर उपचुनाव के लिए बनाया उम्मीदवार

देश
किशोर जोशी
Updated Oct 16, 2020 | 08:23 IST

हरियाणा की बरोदा सीट पर होने वाले उप चुनाव में भारतीय जनता पार्टी ने एक बार फिर ओलंपक पदक विजेता योगेश्वर दत्त पर दांव लगाया है और उन्हें अपना कैंडिडेट बनाया है।

 BJP fields wrestler Yogeshwar Dutt for the upcoming by-elections in Haryana
फिर चुनावी अखाड़े में उतरेंगे योगेश्वर दत्त,BJP ने दिया टिकट 

मुख्य बातें

  • योगेश्वर दत्त को बीजेपी ने उपचुनाव में बनाया अपना उम्मीदवार
  • बरोदा उपचुनाव में बीजेपी ने दिया टिकट, पिछली बार भी इसी सीट से चुनाव लड़े थे योगेश्वर दत्त
  • कांग्रेस ने अभी तक नहीं किया है अपने उम्मीदवार का ऐलान

चंडीगढ़:  कुश्ती के दंगल में दुनिया के बड़े-बड़े पहलवानों को चित्त करने वाले पहलवान और ओलंपिक पदक विजेता योगेश्वर दत्त एक बार फिर चुनावी अखाड़े में उतरने जा रहे हैं। हरियाणा में सत्तारूढ़ भाजपा ने बरोदा विधानसभा सीट पर होने वाले उपचुनाव के लिए योगेश्वर दत्त को अपना उम्मीदवार  घोषित किया है। पार्टी की ओर से जारी बयान में कहा गया कि पहलवान से नेता बने दत्त सोनीपत की बरोदा सीट पर तीन नवंबर को होने वाले उपचुनाव में पार्टी के प्रत्याशी होंगे। इस सीट पर नामांकन दाखिल करने का आखिरी दिन शुक्रवार है।

कांग्रेस विधायक के निधन की वजह से खाली हुई सीट
 इस सीट पर वर्ष 2019 में निर्वाचित कांग्रेस विधायक श्रीकृष्ण हुड्डा का इस साल अप्रैल में निधन होने की वजह से उपचुनाव कराया जा रहा है। 2019 के चुनाव में इसी सीट से योगेश्वर दत्त को हुड्डा से हार मिली थी। इस चुनाव में योगेश्वर को 16729 वोट मिले थे और वो तीसरे पायदान पर रहे। कांग्रेस के श्रीकृष्ण हुड्डा को 50,530 वोट मिले जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंदी इनेलो के उम्मीदवार कपूर सिंह नरवाल को 45,347 वोट हासिल हुए थे। यह एक ऐसी सीट है जिस पर भाजपा आज तक जीत हासिल नहीं कर सकी है। वहीं इस  सीट से कांग्रेस ने अब तक अपने प्रत्याशी का नाम घोषित नहीं किया है।

पिछले साल हुए थे बीजेपी में शामिल

आपको बता दें कि योगेश्वर दत्त ने हरियाणा विधानसभा चुनाव से ठीक पहले बीजेपी की सदस्यता ली थी। बीजेपी में शामिल होने पर योगेश्वर ने कहा था, 'मैं लोगों की सेवा करने के लिए राजनीति में आना चाहता था। लोगों ने हमेशा मुझे प्यार और आशीर्वाद दिया है, इसलिए बदले में उन्हें कुछ देना मेरा कर्तव्य है। मेरी भी पुलिस में नौकरी थी और मैंने वहां भी लोगों की सेवा की। लेकिन राजनीति के साथ मैं उन लोगों के साथ अधिक संपर्क में रह सकता हूं जिनकी जरूरत है।'

ओलंपिक पदक विजेता है योगेश्वर

मूल रूप से हरियाणा के सोनीपत के रहने वाले योगेश्नर दत्त ने साल 2012 में लंदन ओलंपिक में देश के लिए कांस्य पदक जीता था। योगेश्वर को पद्मश्री से भी सम्मानित किया जा चुका है। उन्होंने साल 2010 में दिल्ली और 2014 में ग्लास्गो में आयोजित राष्ट्रमंडल खेलों में भी स्वर्ण पदक जीता था। साल 2014 में इंचियोन में आयोजित एशियाई खेलों में भी वो स्वर्ण पदक जीत चुके हैं। 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर