Bihar: महागठबंधन की हार पर कांग्रेस नेता का बड़ा कबूलनामा, कहा- हमारी वजह से नहीं बनी सरकार

देश
किशोर जोशी
Updated Nov 13, 2020 | 09:05 IST

बिहार चुनाव में किसी राष्ट्रीय दल का सबसे खराब प्रदर्शन रहा तो वह है कांग्रेस, जो 70 सीटों पर चुनाव लड़ने के बावजूद केवल 19 सीटें हासिल कर सकी। इस हार के बार पार्टी नेता तारिक अनवर ने बड़ा बयान दिया है।

बिBihar Election results Tariq Anwar says  Grand Alliance lost because of Congress’ poor performanceहार में महागठबंधन की हार पर कांग्रेस नेता का बड़ा कबूलनामा
बिहार में महागठबंधन की हार पर कांग्रेस नेता का बड़ा कबूलनामा 

मुख्य बातें

  • तारिक अनवर बोले- कांग्रेस के खराब प्रदर्शन की वजह से नहीं बन पाई सरकार
  • तारिक ने कहा- ओवैसी की एंट्री बिहार के लिए शुभ संकेत नहीं
  • नीतीश पर तारिक का तंज, बोले- देखते हैं बकरे की मां कब तक खैर मनाएगी

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के 19  सीटों पर सिमट जाने के बाद पहली बार पार्टी के किसी बड़े नेता ने बड़ा कबूलनामा किया है। पार्टी महासचिव तारिक अनवर ने कहा है, 'ये सच्चाई है कि कांग्रेस के कमजोर प्रदर्शन की वजह से राज्य में महागठबंधन की सरकार नहीं बन पाई और ऐसे में हमारी पार्टी को आत्मचिंतन करना चाहिए तथा ये पता लगाना चाहिए कि हमसे कहां पर चूक हुई है।'

तारिक ने किया ट्वीट
तारिक अनवर ने ट्वीट करते हुए कहा, 'हमें सच को स्वीकार करना चाहिए। कांग्रेस के कमज़ोर प्रदर्शन के कारण महागठबंधन की सरकार से बिहार महरूम रह गया।कांग्रेस को इस  विषय पर आत्म चिंतन ज़रूर करना चाहिए कि उस से कहाँ चूक हुई ? AIMIM की बिहार में इंट्री शुभ संकेत नहीं है।' दरअसल असदउद्दीन ओवैसी की पार्टी AIMIM ने इस बार बिहार में शानदार प्रदर्शन किया है। सीमांचल इलाके में कांग्रेस को झटका देते हुए AIMIM ने पांच सीटें अपने नाम की हैं।

बकरे की मां कब तक खैर मनाएगी- तारिक

 अपने अगले ट्वीट में तारिक ने लिखा, 'बिहार चुनाव भले ही  भाजपा गठबंधन येन केन प्रकारेण चुनाव जीत गया,परन्तु सही में देखा जाए तो ‘बिहार’ चुनाव हार गया। क्योंकि इस बार बिहार परिवर्तन चाहता था।15 वर्षों की निकम्मी सरकार से छुटकारा-बदहाली से निजात चाहता था। भाजपा की मेहरबानी रही तो नीतीश जी इस बार अंतिम रूप से मुख्यमंत्री की शपथ लेंगे। देखते हैं बकरे की माँ कब तक खैर मनाएगी' 

एनडीए को मिला पूर्ण बहुमत

आपको बता दें कि बिहार विधानसभा चुनाव में बेहद रोमांचक मुकाबले में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले एनडीए ने 243 सीटों में से 125 सीटों पर कब्जा कर बहुमत का जादुई आंकड़ा हासिल कर लिया जबकि महागठबंधन खाते में 110 सीटें आई। भाजपा की 74 और जद (यू) की 43 सीटों के अलावा सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा को चार और विकासशील इंसान पार्टी (वीआईपी) को चार सीटें मिलीं।

वही विपक्षी महागठबंधन में राजद को 75, कांग्रेस को 19, भाकपा (माले) को 12 और भाकपा एवं माकपा को दो-दो सीटों पर जीत मिली। कांग्रेस का स्ट्राइक रेट सबसे खराब रहा जो 70 सीटों पर चुनाव लड़ने के बावजदू भी केवल 19 सीटें ही जीत सकी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर