मुख्तार के UP पहुंचने का काउंटडाउन शुरू, भारी फोर्स- एंबुलेंस लेकर पंजाब रवाना हुई बांदा पुलिस

Banda police leaves for Punjab : मुख्तार को वापस लाने के लिए दो सीओ के साथ लगभग 100 पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई है। इस टीम के साथ पीएसी के जवान भी होंगे। टीम के साथ एक एम्बुलेंस भी रवाना हुई है।

Banda police leaves for Punjab to bring back gangster Mukhtar Ansari
मुख्तार के UP पहुंचने का काउंटडाउन शुरू। 

मुख्य बातें

  • पंजाब की रोपड़ जेल में बंद है गैंगस्टर मुख्तार अंसारी
  • गैंगस्टर को वापस लाने के लिए रवाना हुई बांदा पुलिस
  • बांदा जेल की सुरक्षा बढ़ाई गई, जेल के बाहर अतिरिक्त पोस्ट

नई दिल्ली : पंजाब की जेल में बंद गैंगस्टर एवं बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के विधायक मुख्तार अंसारी को वापस प्रदेश में लाने के लिए बांदा पुलिस सोमवार को रवाना हो गई। मुख्तार पंजाब की रूपनगर जेल में बंद है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद पंजाब सरकार ने गैंगस्टर को यूपी पुलिस को सौंप रही है। जानकारी के मुताबिक मुख्तार को वापस लाने के लिए दो सीओ के साथ लगभग 100 पुलिसकर्मियों की एक टीम बनाई गई है। इस टीम के साथ पीएसी के जवान भी होंगे। टीम के साथ एक एम्बुलेंस भी रवाना हुई है जिसमें जिला अस्पताल के स्वास्थ्य विभाग के कर्मी मौजूद हैं। 

बांदा जेल सुरक्षा व्यवस्था काफी कड़ी कर दी गई है। यहां की सुरक्षा को अभेद्य बना दिया गया है। मुख्तार के जेल आने की तैयारी को पुख्ता करने के लिए जेल के सभी कर्मचारियों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं। 

डीआईजी ने जेल का निरीक्षण किया
सूत्रों का कहना है कि अधिकारी जेल की सुरक्षा में कोई खामी नहीं रहना देना चाहते। जेल अधीक्षक के साथ डीआईजी ने पूरे जेल परिसर का निरीक्षण कर सुरक्षा तैयारियों का जायजा लिया है। जेल में चिकित्साकर्मियों की संख्या भी बढ़ा दी गई है। रिपोर्टों के मुताबिक जोनल जेल में ड्यूटी के घंटे करीब आठ घंटे के हैं लेकिन मुख्तार के जेल पहुंचने की खबर के बाद काम के घंटे को बढ़ाकर 12 घंटे कर दिया गया है। पुलिसकर्मियों को सादे कपड़ों में तैनात होकर स्थानीय की घटनाओं पर नजर रखने के लिए कहा गया है। 

बांदा जेल के बाहर बने अतिरिक्त पोस्ट
बांदा जेल के बाहर दो अतिरिक्त पुलिस पोस्ट बनाए गए हैं, यहां पीएसी की एक बटालियन तैनात की गई है। बता दें कि बांदा मंडल जेल से मुख्तार के पंजाब जेल जाने के बाद तत्कालीन डेप्युटी जेलर तारकेश्वर का पहले तबादला और फिर निलंबित कर दिया गया। जेल अधीक्षक प्रमोद कुमार त्रिपाठी ने मीडिया से बातचीत में कहा, 'मुख्तार को बांदा जेल कब लाया जाएगा, इसकी तिथि अभी तय नहीं है। तिथि तय करना सरकार और वरिष्ठ अधिकारियों का काम है। जेल में सुरक्षा के सभी बंदोबस्त कर लिए गए हैं।'

पंजाब के सीएम अमरिंदर ने लिखा पत्र
गौरतबल है कि पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने अपर मुख्य सचिव (गृह) अवनीश कुमार अवस्थी को लिखे पत्र में बताया कि गैंगस्टर को आठ अप्रैल से पहले उत्तर प्रदेश सरकार को सौंप दिया जाएगा। अंसारी को सड़क मार्ग के जरिए बांदा जेल लाया जाएगा।    

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर