Azam Khan:बेहतर नहीं है अस्पताल में भर्ती आजम खान की हालत,डॉक्टर्स बोले-अगले 72 घंटे बेहद अहम

देश
रवि वैश्य
Updated May 12, 2021 | 18:50 IST

Azam Khan ki tabiyat ka kya haal hai: उत्तर प्रदेश के रामपुर से सांसद और समाजवादी पार्टी के कद्दावर नेता आजम खान की हालत सही नहीं है बताते हैं कि कि उनके लिए आने वाले 72 घंटे थोड़े क्रिटिकल हैं।

azam khan health
डॉक्टर ने जानकारी देते हुए बताया कि आजम खान के लिए आने वाले 72 घंटे थोड़ा क्रिटिकल रहेंगे 

लखनऊ: मेदान्ता अस्पताल में भर्ती पूर्व मंत्री व समाजवादी पार्टी के कद्दावर सीनियर लीडर आजम खान को मंगलवार को निमोनिया बढ़ने पर नॉन इनवेसिव वेंटिलेशन सपोर्ट पर रखा गया है गौर हो कि कोरोना संक्रमित होने के बाद अस्पताल में भर्ती करवाए गए आजम खान को सोमवार तबीयत बिगड़ने के बाद आईसीयू में शिफ्ट किया गया था। लखनऊ के मेदांता हॉस्पिटल के मेडिकल डायरेक्टर डॉ राकेश कपूर ने जानकारी देते हुए बताया कि आजम खान के लिए आने वाले 72 घंटे थोड़ा क्रिटिकल रहेंगे, अगर इसी में सुधार हो जाता है,तो उनके लिए बेहतर रहेगा।

डॉ कपूर ने बताया कि कल की तुलना में आज आजम खान की ऑक्सीजन की स्थिति में सुधार आया है,वो भोजन ले रहे हैं और उनकी हालत स्थिर है, मगर उन्होंने कहा कि 72 घंटे अहम हैं, वहीं उनके बेटे मो अब्दुल्ला खान की तबीयत स्थिर एवं संतोषजनक है। 

वहीं मंगलवार शाम को ही एसपी महासचिव राम गोपाल ने आजम खान की सेहत पर यूपी सरकार पर निशाना साधते हुए बद्दुआएं तक दे डालीं।

गौर हो कि सीतापुर के जिला कारागार में कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता व रामपुर के सांसद मोहम्मद आजम खान और उनके पूर्व विधायक बेटे अब्दुल्ला खान को रविवार को लखनऊ के मेदांता अस्पताल स्थानांतरित कर दिया गया था।

अस्पताल के चिकित्सकों ने शुरुआती जांच के बाद सपा सांसद को कोरोना वायरस का ‘माडरेट इंफेक्शन’ बताया था और साथ ही उन्हें चार लीटर ऑक्सीजन पर इलाज के लिए चिकित्सकों की निगरानी में रखा गया था।

Azam Khan ने सीतापुर जेल से बाहर जाने से इनकार कर दिया था

सीतापुर जिला कारागार के डिप्‍टी जेलर ओंकार पांडेय ने रविवार को बताया था कि आजम खान और उनके पुत्र अब्दुल्ला में 30 अप्रैल को आरटी पीसीआर जांच में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई थी। एक सप्ताह पहले दो मई को प्रशासन ने बेहतर इलाज के लिए आजम खान को लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज ले जाने की सलाह दी लेकिन उन्होंने सीतापुर जेल से बाहर जाने से इनकार कर दिया था।

उनकी विधायक पत्नी को अदालत ने जमानत दे दी थी

उल्लेखनीय है कि जमीन हथियाने, अतिक्रमण और अन्य गंभीर आपराधिक मामलों में आजम खान अपने बेटे के साथ फरवरी 2020 से ही जिला कारागार सीतापुर में बंद हैं। उनकी विधायक पत्नी को दिसंबर 2020 में अदालत ने जमानत दे दी थी।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर