Asani Cyclone Updates: गंभीर चक्रवाती तूफान में तब्दील हुए 'असानी', ओडिशा और पश्चिम बंगाल अलर्ट पर

देश
किशोर जोशी
Updated May 09, 2022 | 07:25 IST

Cyclone Asani Updates:इससे पहले, भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने रविवार को मछुआरों को बंगाल की खाड़ी और अंडमान सागर में नहीं जाने की सलाह दी थी।

Asani intensifies into severe cyclonic storm; IMD alert in Odisha and West Bengal
चक्रवाती तूफान 'असानी' को लेकर मौसम विभाग जारी कर चुका है अलर्ट 
मुख्य बातें
  • चक्रवात ‘असानी’ अधिक तीव्र होकर एक भीषण चक्रवाती तूफान में बदला
  • पश्चिम बंगाल, आंध्र प्रदेश और ओडिशा में असानी तूफान को लेकर अलर्ट
  • ओडिशा के कई जिलों में भारी बारिश की संभावना

Asani Cyclone Update: बंगाल की दक्षिण-पूर्वी खाड़ी के ऊपर बना चक्रवात ‘असानी’ रविवार शाम को अधिक तीव्र होकर एक भीषण चक्रवाती तूफान में तब्दील हो गया है। भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि  'गंभीर' चक्रवाती तूफान में तब्दील हुए ‘असानी’95-105 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से पूर्वी तट की ओर बढ़ रहा है। हालांकि, इसके लैंडफॉल बनने की संभावना नहीं है। असनी के कारण तीन राज्यों पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश और ओडिशा के प्रभावित होने की आशंका है जहां मौसम विभाग ने अलर्ट कर दिया गया है।

10 मई तक पहुंचेगा यहां

यह 10 मई की रात तक उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ेगा और उत्तर आंध्र प्रदेश और ओडिशा तटों से पश्चिम मध्य और उससे सटे उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी तक पहुंच जाएगा। मौसम विभाग ने रविवार को कहा कि इसके बाद यह उत्तर-उत्तर-पूर्व की तरफ बढ़ेगा और ओडिशा तट से उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी की ओर बढ़ेगा। ओडिशा के विशेष राहत आयुक्त (एसआरसी) पीके जेना ने कहा कि राज्य सरकार ने बचाव अभियान के लिए पर्याप्त व्यवस्था की है।

धीरे-धीरे कम होगी तीव्रता

मौसम ब्यूरो के चक्रवात निगरानी विभाग के प्रभारी आनंद कुमार दास ने बताया, 'हम उम्मीद करते हैं कि आसनी सोमवार की सुबह और तेज हो जाएगा और अपनी अधिकतम तीव्रता तक पहुंच जाए। चक्रवात 10 मई को विशाखापत्तनम से लगभग 130 किमी दूर एक बिंदु तक पहुंचने की संभावना है और फिर यह ओडिशा तट की ओर बढ़ना शुरू कर देगा। यह धीरे-धीरे कमजोर हो सकता है। 11 मई को तट के पास होने पर इसकी तीव्रता को कम कर सकती हैं। यह ओडिशा तट को नहीं छुएगा।'

Cyclone Asani : IMD का अनुमान-उत्तर अंडमान में हो सकती है भीषण बारिश, 36 घंटे अहम

मौसम विभाग ने कहा कि चक्रवात के मंगलवार से शुक्रवार तक गंगीय पश्चिम बंगाल में हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना है, साथ ही कोलकाता के तटीय जिलों में एक या दो स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग ने मछुआरों को सलाह दी है कि वे मंगलवार से अगली सूचना तक समुद्र और पश्चिम बंगाल और ओडिशा के तटों पर न जाएं।


 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर