महबूबा मुफ्ती के DNA में खामी, साबित करें कितना भारतीय हैं- अनिल विज

टी-20 वर्ल्ड कर में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत पर कुछ इलाकों में आतिशबाजी हुई है और वो विषय सियासी हो गया। महबूबा मुफ्ती ने जहां आतिशबाजी का समर्थन किया वहीं हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने महबूबा के डीएनए को दोषपूर्ण बताया।

India Pakistan T20 World Cup, Anil Vij, Mehbooba Mufti, Fireworks in many areas of India
महबूबा मुफ्ती के DNA में खामी, साबित करें कितना भारतीय हैं- अनिल विज  |  तस्वीर साभार: BCCL
मुख्य बातें
  • पाकिस्तानी टीम की टी-20 में जीत पर महबूबा मुफ्ती के बोल पर भड़के अनिल विज
  • अनिल विज ने कहा कि महबूबा मुफ्ती के डीएनए में दोष है
  • हरियाणा सरकार में गृह मंत्री हैं अनिल विज

मौजूदा आईसीसी टी20 क्रिकेट विश्व कप में भारत के खिलाफ पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने वाले देश के कुछ नागरिकों की खबरों की निंदा करते हुए हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने मंगलवार को दावा किया कि पाकिस्तान की जीत में पटाखे फोड़ने वालों का डीएनए भारतीय नहीं हो सकता। विज ने चेतावनी दी कि लोगों को ऐसे "देशद्रोहियों" से सावधान रहने की जरूरत है जो हमारे ही देश में छिपे हुए हैं।

महबूबा मुफ्ती के डीएनए में खामी
अनिल विज ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म ट्विटर पर एक पोस्ट में कहा कि पाकिस्तान के क्रिकेट मैच जीतने पर भारत में पटाखे फोड़ने वालों का डीएनए भारतीय नहीं हो सकता। अपने ही घर में छिपे देशद्रोहियों से सावधान रहें। महबूबा मुफ्ती का डीएनए खराब है, उन्हें साबित करना होगा कि वह कितनी भारतीय हैं।  पीडीएफ प्रमुख महबूबा मुफ्ती के "पाकिस्तान की जीत का जश्न मनाने के लिए कश्मीरियों के खिलाफ गुस्सा क्यों हैं। महबूबा मुफ्ती ने कहा कि जो लोग पाकिस्तान की जीत पर जश्न मनाने का विरोध कर रहे हैं उन्हें विराट कोहली से सीखना चाहिए। 

यह है मामला
रविवार को भारत पाकिस्तान टी-20 मैच में पाकिस्तान की जीत के बाद घाटी के कुछ हिस्सों में आतिशबाजी हुई थी। उस आतिशबाजी के समर्थन में महबूबा मुफ्ती खुलकर सामने आईं और कहा कि आखिर उसमें गलत ही क्या है। खेल को खेल की तरह लेना चाहिए। लेकिन उनके खिलाफ बीजेपी ने कहा कि महबूबा हमेशा से देश के खिलाफ बोलती रही हैं, उन्हें भारत की दिक्कतों में किसी तरह की दिलचस्पी नहीं है। वो सिर्फ और सिर्फ निहित स्वार्थ के लिए इस तरह की बातें करती हैं।

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर