अंडमान निकोबार में बेहतर होगी सुविधा, पीएम मोदी बोले- ऐसे होगा नए भारत का निर्माण

देश
भाषा
Updated Aug 09, 2020 | 19:21 IST

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि पूरे देश के संतुलित विकास से ही नए भारत का निर्माण होगा। उन्‍होंने यह भी कहा कि इसमें अंडमान एवं निकोबार द्वीप समूह की महत्‍वपूर्ण भूमिका होगी।

अंडमान निकोबार में बेहतर होगी सुविधा, पीएम मोदी बोले- ऐसे होगा नए भारत का निर्माण
अंडमान निकोबार में बेहतर होगी सुविधा, पीएम मोदी बोले- ऐसे होगा नए भारत का निर्माण  |  तस्वीर साभार: ANI

मुख्य बातें

  • पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि नए भारत के निर्माण के लिए पूरे देश का संतुलित विकास आवश्यक है
  • उन्‍होंने कहा कि अंडमान और निकोबार द्वीप समूह आत्मनिर्भर भारत में प्रमुख भूमिका निभाएगा
  • वह अंडमान-निकोबार द्वीप समूह के बीजेपी कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये संवाद कर रहे थे

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को कहा कि नए भारत के निर्माण के लिए पूरे देश का संतुलित विकास आवश्यक है और इसी को ध्यान में रखकर उनकी सरकार काम कर रही है। अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के भाजपा कार्यकर्ताओं से वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संवाद करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने यह भी कहा कि यह द्वीप समूह आत्मनिर्भर भारत और नए भारत के विकास और उसकी सुरक्षा में प्रमुख भूमिका निभाएगा।

उन्होंने कहा, 'नए भारत के निर्माण के लिए पूरे देश का संतुलित विकास आवश्यक है। हमने सुनिश्चित किया है कि सरकार भले ही एक जगह से काम करती हो लेकिन उसके कार्यों का लाभ देश के कोने-कोने तक पहुंचना चाहिए।' उन्होंने कहा कि सरकार के कार्यक्रमों का लाभ समाज की आखिरी पंक्ति में खड़े व्यक्ति ही नहीं बल्कि देश के आखिरी छोर पर खड़े व्यक्ति को भी मिलना चाहिए।

'कई परियोजनाओं पर हो रहा काम'

उन्होंने कहा, 'एक तरफ हम गरीबों के घर, शौचालय, रसोई गैस, पीने का पानी, बिजली, मोबाइल, इंटनरनेट, सड़क, रेल कनेक्टिविटी जैसी बहुत ही मूल जरूरतों को पूरा कर रहे हैं। वहीं, दूसरी तरफ मेगा और आधुनिक परियोजनाओं पर भी तेजी से काम कर रहे हैं।'

प्रधानमंत्री ने कहा कि जिस अंडमान निकोबार द्वीप समुह ने भारत की आज़ादी के आंदोलन को ताकत दी उसकी आत्मनिर्भर भारत के लिए, नए भारत की रक्षा-सुरक्षा और समृद्धि के लिए भी व्यापक भूमिका है। उन्होंने कहा, 'इसी को समझते हुए 2017 में ही द्वीप समूह विकास एजेंसी का गठन किया गया था।'

'अंडमान निकोबार में बेहतर होगी सुविधा'

प्रधानमंत्री ने कहा कि चेन्नई और पोर्ट ब्लेयर के बीच समुद्र के भीतर बिछाई गई केबल संपर्क सुविधा (ओएफसी) से अंडमान निकोबार द्वीपसमूह में मोबाइल और लैंडलाइन दूरसंचार सेवाएं बेहतर होंगी। उन्होंने कहा, 'इंटरनेट कनेक्टिविटी में बहुत बड़ा सुधार हो जाएगा। नेटवर्क की समस्या की चर्चा बार-बार आती है उसका भी समाधान होगा। बच्चों को ऑनलाइन पढ़ाई-लिखाई सुविधा का ज्यादा से ज्यादा लाभ मिलना संभव हो पाएगा। पर्यटन और दूसरे कारोबार से जुड़े साथियों को भी देश और दुनिया से जुड़ने में अब कोई समस्या नहीं आएगी।'

उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री सोमवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिये दिल्ली से इस परियोजना का उद्घाटन करेंगे। समुद्र के भीतर बिछा यह केबल पोर्ट ब्लेयर, स्वराज दीप (हैवलॉक), लिटिल अंडमान, कार निकोबार, कामोरता, ग्रेट निकोबार, लांग आईलैंड और रंगट को भी जोड़ेगा।

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर