Purnia की रैली में बोले अमित शाह- मेरे दौरे से नीतीश और लालू के पेट में दर्द, BJP के रहते किसी से डरने की जरूरत नहीं

देश
किशोर जोशी
Updated Sep 23, 2022 | 13:53 IST

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने पूर्णिया, बिहार में 'जन भावना महासभा' को संबोधित करते हुए नीतीश कुमार और लालू यादव पर जमकर हमला किया।

Amit Shah attacks on Nitish and Lalu yadav at Purnias rally says here is no need to fear anyone while BJP
पूरे बिहार में जंगलराज का खतरा मंडरा रहा है- अमित शाह  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • पूरे बिहार में जंगलराज का खतरा मंडरा रहा है- अमित शाह
  • अमित शाह बोले- 2024 में बिहार फैसला सुनाएगा, बिहार में बनेगी बीजेपी सरकार
  • नीतीश जी, लालू जी की गोद में बैठ गए हैं, अब यहां डर का माहौल बन गया है- शाह

Amit Shah Purnia Rally: गृह मंत्री अमित शाह ने आज बिहार के सीमांचल पूर्णिया में एक रैली को संबोधित किया। नीतीश कुमार के एनडीए गठबंधन से बाहर होने के बाद शाह ने नीतीश कुमार-तेजस्वी यादव महागठबंधन सरकार के खिलाफ जमकर हमला बोला। अपने भाषण की शुरूआत में अमित शाह ने कहा, 'दिनकर जी की कविताओं ने आजादी के आंदोलन को धार दी साथ ही उनकी लेखनी ने भारतीय संस्कृति को भी मजबूती प्रदान करने का काम किया। आज मैं जब बिहार में आया हूं तब लालू और नीतीश की जोड़ी को पेट में दर्द हो रहा है। वो कह रहे हैं कि बिहार में झगड़ा लगाने आए हैं, कुछ करके जाएंगे। लालू जी झगड़ा लगाने के लिए मेरी जरूरत नहीं है, आप झगड़ा लगाने के लिए पर्याप्त हो, आपने पूरा जीवन यही काम किया है। प्रधानमंत्री बनने के लिए नीतीश बाबू ने पीठ में छुरा भोंक कर आज आरजेडी और कांग्रेस की गोद में बैठने का काम किया।'

नीतीश कुमार पर हमला

नीतीश कुमार पर तीखा हमला बोलते हुए अमित शाह ने कहा, 'बीजेपी को धोखा देकर लालू की गोद में बैठ। इस तरह से क्या दल बदल कर क्या नीतीश बाबू पीएम बन सकते हैं क्या? नीतीश बाबू आपने राजनीति की शुरूआत से ही ऐसा किया है सबसे पहले जनता पार्टी के देवीलाल गुट के साथ यहीं किया, फिर लालू जी के साथ यहां किया। लालू जी को छोड़ा तो फिर सबसे प्रतिष्ठित समाजवादी नेता जॉर्ज फर्नाडीज के साथ धोखा दिया, उसके बाद शरद यादव, जीतन राम मांझी, रामविलास पासवान और फिर लालू यादव को धोखा देकर बीजेपी के पास आए। मैं लालू जी और नीतीश जी को कहना चाहता हूं  कि जो आप ये धोखा कर रहे हो ये बीजेपी या मोदी जी के साथ नहीं बल्कि बिहार की जनता के साथ है।'

बिहार यात्रा पर गृह मंत्री अमित शाह, जानें क्या हैं राजनीतिक मायने

बिहार से होगा परिवर्तन

अमित शाह ने कहा, 'बिहार की भूमि परिवर्तन का केंद्र रही है। अंग्रेजों के खिलाफ स्वतंत्रता का आंदोलन हो या लोकतंत्र के खिलाफ जो इंदिरा जी ने आपातकाल लगाया तब जय प्रकाश नारायण जी का आंदोलन हो, ये बिहार की भूमि से ही शुरू हुआ है। मेरे दौरे से नीतीश- लालू के पेट में दर्द, बीजेपी के रहते किसी से डरने की जरूरत नहीं। आज भाजपा को धोखा देकर लालू की गोद में बैठकर नीतीश जी ने स्वार्थ और सत्ता की राजनीति का जो परिचय दिया है उसके खिलाफ बिगुज फूंकने की शुरुआत भी यही बिहार की भूमि से शुरुआत होगी।'

2024 में होगा महागठबंधन का सूपड़ा साफ

अमित शाह ने कहा 'लालू नीतीश की जोड़ी भले ही आ गई है लेकिन मैं आपको कहना चाहता हूं कि डरिए मत ऊपर मोदी जी की सरकार है। सीमावर्ती जिलों में रहने वाले लोगों को डरने की जरूरत नहीं है। नीतीश बाबू  जनता सब जानती है। 2014 में यहीं किया था लोकसभा में 2 सीटें आई थी, 2024 आने दो बिहार की जनता लालू नीतीश जी का सूपड़ा साफ कर देगी। 2025 में राज्य में पूर्ण बहुमत से बीजेपी की सरकार बनेगी। नीतीश कुमार की कोई विचारधारा नहीं है, वो लालू के साथ जा सकते हैं, वामपंथियों के साथ जा सकते हैं। वो किसी के साथ भी जा सकते हैं।'

गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सलियों के खिलाफ 'सराहनीय सफलता' पर सुरक्षा बलों को सराहा, कहा-जीरो टॉलरेंस की नीति रहेगी जारी 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर