PM Modi: संसद में हंगामे के बीच विपक्ष पर पीएम मोदी का तंज, कहा- किसी पार्टी या व्यक्ति का विरोध करना देश के खिलाफ नहीं होना चाहिए

देश
दीपक पोखरिया
Updated Jul 25, 2022 | 20:24 IST

PM Modi: दिवंगत हरमोहन सिंह यादव की 10वीं पुण्यतिथि पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने भी विपक्ष पर तंज कसा और कहा कि किसी पार्टी या व्यक्ति का विरोध देश के खिलाफ नहीं होना चाहिए।

Amidst the uproar in Parliament PM Modi taunt on opposition said opposing any party or person should not be against the country
संसद में हंगामे के बीच विपक्ष पर प्रधानमंत्री मोदी का तंज।   |  तस्वीर साभार: Twitter

PM Modi: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की ओर से लगाए गए 'आपातकाल' का जिक्र किया और कहा कि जब देश के लोकतंत्र को समय के दौरान कुचल दिया गया था, तो 'सभी प्रमुख दल एक साथ आए और संविधान को बचाने के लिए लड़े'। दिवंगत हरमोहन सिंह यादव की 10वीं पुण्यतिथि पर आयोजित एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने भी विपक्ष पर तंज कसा और कहा कि किसी पार्टी या व्यक्ति का विरोध देश के खिलाफ नहीं होना चाहिए।

संसद में हंगामे के बीच विपक्ष पर प्रधानमंत्री मोदी का तंज

Parliament Monsoon Session: कांग्रेस के 4 लोकसभा सांसदों को पूरे मानसून सत्र के लिए किया गया निलंबित, हंगामा करने पर हुई कार्रवाई

किसी पार्टी या व्यक्ति का विरोध देश के खिलाफ न हो- पीएम मोदी

पीएम मोदी ने वर्चुअल इवेंट के दौरान कहा कि साल 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान सभी राजनीतिक दल सरकार के साथ खड़े थे, लेकिन जब आपातकाल लगाया गया तो सभी प्रमुख दल संविधान को बचाने के लिए एक साथ आए। संसद में विभिन्न मुद्दों का विरोध करने वाले विपक्ष के अप्रत्यक्ष संदर्भ में पीएम मोदी  ने कहा कि ये हर राजनीतिक दल की जिम्मेदारी है कि किसी पार्टी या व्यक्ति का विरोध देश के खिलाफ न हो। पीएम मोदी ने कहा कि विचारधाराओं की अपनी जगह होती है, लेकिन देश पहले, समाज पहले, राष्ट्र पहले।

'Agniveer' पर PM से राहुल का सवाल- हर साल रिटायर हो रहे 60,000 सैनिकों में सिर्फ 3000 को सरकारी नौकरी, अग्निवीरों का क्या होगा?

पीएम मोदी ने आगे कहा कि एक ट्रेंड है कि विचारधाराओं और राजनीतिक हितों को राष्ट्र और समाज के आगे रखा जा रहा है। पीएम ने कहा कि हमारे लिए समाज हमारी संस्कृति और प्रकृति है। प्रधानमंत्री का संदर्भ ऐसे समय में आया है, जब मूल्य वृद्धि, जीएसटी और अन्य मुद्दों पर चर्चा की मांग को लेकर विपक्ष के विरोध के कारण संसद में बार-बार व्यवधान और स्थगन देखा गया है।

पीएम मोदी ने ये भी कहा कि लोकतंत्र के लिए आज का दिन बहुत बड़ा है, क्योंकि आदिवासी समुदाय की एक महिला ने भारत के राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली है। पीएम ने कहा कि आजादी के बाद पहली बार आदिवासी समुदाय की एक महिला हमारे देश का नेतृत्व करने जा रही है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
ET Now
ET Now Swadesh
Mirror Now
Live TV
अगली खबर