UP: अखिलेश यादव का बड़ा कदम, सपा की सभी राष्ट्रीय एवं राज्य कार्यकारिणी को किया भंग

माना जा रहा है कि पिछले विधानसभा चुनाव में शिकस्त के बाद हाल में सपा को अपना मजबूत गढ़ माने जाने वाले रामपुर और आजमगढ़ लोकसभा क्षेत्रों के उपचुनाव में भी पराजय मिलने के मद्देनजर वर्ष 2024 के लोकसभा चुनाव से पहले संगठन को मजबूत करने के लिए यह कवायद की गई है।

Akhilesh Yadav dissolves all national state executive bodies of Samajwadi Party with immediate effect
2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी के रूप में देखा जा रहा अखिलेश का यह कदम 
मुख्य बातें
  • अखिलेश यादव ने की सपा कई सभी कार्यकारिणी भंग
  • 2024 के लोकसभा चुनाव की तैयारी के रूप में देखा जा रहा अखिलेश का यह कदम
  • हालिया विधानसभा चुनाव और लोकसभा उपचुनाव में मिली थी पार्टी को हार

लखनऊ: लोकसभा उपचुनाव में रामपुर और आजमगढ़ सीट पर मिली हार के बाद समाजवादी पार्टी के मुखिया अखिलेश यादव ने पार्टी के सभी युवा संगठनों, महिला सभा, अन्य प्रकोष्ठों और राष्ट्रीय एवं राज्य कार्यकारिणी को भंग कर दिया है। इस बाद की जानकारी खुद समाजवादी पार्टी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल से ट्वीट करके दी है।

पार्टी ने ट्वीट कर दी जानकारी

ट्वीट में कहा गया है, ‘समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव जी ने पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष को छोड़कर पार्टी के सभी युवा संगठनों, महिला सभा एवं अन्य सभी प्रकोष्ठों के राष्ट्रीय अध्यक्षों, प्रदेश अध्यक्षों एवं जिला अध्यक्षों तथा राष्ट्रीय, राज्य एवं जिला कार्यकारिणी को तत्काल प्रभाव से भंग कर दिया है।’ माना जा रहा कि अब अखिलेश संगठन में पूरी तरह से बदलाव करने जा रहे हैं। आने वाले दिनों में अखिलेश यादव युवा और अनुभव के मिश्रण के साथ नई टीम का गठन कर संगठन को मजबूत करने की दिशा में कई कदम उठा सकते हैं।

लैपटॉप मुद्दे पर अखिलेश यादव ने योगी आदित्यनाथ पर साधा निशाना, चुनावी नतीजों पर साध ली चुप्पी

2024 की तैयारी!

पार्टी के एक प्रवक्ता के मुताबिक सपा अध्यक्ष ने पार्टी की उत्तर प्रदेश इकाई के अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल को छोड़कर सभी संगठनों की तमाम इकाइयों के साथ-साथ राष्ट्रीय कार्यकारिणी और राज्य कार्यकारिणी को भंग कर दिया है। अखिलेश यादव द्वारा इस तरह का कदम उठाना पार्टी संगठन को मजबूत करने की दिशा में एक कदम माना जा रहा है। विधानसभा चुनाव के बाद लोकसभा के उपचुनाव में मिली हार के बाद अखिलेश यादव की आलोचना भी हो रही है और अब 2024 की तैयारी के मद्देनजर इस कदम को देखा जा रहा है। 

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर