प्रदूषण में हल्की वृद्धि भी कोरोना के केस बढ़ाएगी, AIIMS के निदेशक ने किया आगाह

Coronacases in India: अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने अगले कुछ दिनों में प्रदूषण के बढ़ने वाले स्तर को लेकर आगाह किया है।

AIIMS Director says increase in pollution levels could lead to rise in corona cases
प्रदूषण में हल्की वृद्धि भी कोरोना के केस बढ़ाएगी, AIIMS के निदेशक ने किया आगाह।  |  तस्वीर साभार: PTI

मुख्य बातें

  • स्वास्थ्य विशेषज्ञों को आशंका है कि सर्दी के मौसम में कोरोना के मामले बढ़ेंगे
  • सर्दी के मौसम में प्रदूषण का स्तर बढ़ता है, इससे श्वास रोगियों की दिक्कतें बढ़ती हैं
  • एम्स के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने लोगों से विशेष सावधानी बरतने के लिए कहा है

नई दिल्ली : पिछले कुछ दिनों में देश में कोरोना संक्रमण की संख्या में कमी देखने को मिली है। इस कमी को सकारात्मक संकेत के रूप में लिया गया है लेकिन अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के निदेशक रणदीप गुलेरिया ने अगले कुछ दिनों में प्रदूषण के बढ़ने वाले स्तर को लेकर आगाह किया है। स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि त्योहारों के सीजन और सर्दी के मौसम में सांस लेने से जुड़ी दिक्कतें बढ़ सकती हैं। साथ ही प्रदूषण के स्तर में वृद्धि कोरोना के मामलों को दोगुना से तीन गुना कर सकती है। 

एम्स के निदेशक ने रिपोर्ट का हवाला दिया
'इंडिया टुडे' के साथ बातचीत में एम्स के निदेशक डॉ. रणदीप गुलेरिया ने लोगों से सर्दी के मौसम में सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने कहा, 'चूंकि सर्दी के मौसम में प्रदूषण के स्तर में वृद्धि देखने को मिलेगी। चीन और इटली के कुछ आंकड़े हैं जो यह बताते हैं कि जिन इलाकों में पर्टिकुलेट मैटर (पीएम) 2.5 के स्तर में थोड़ी भी वृद्धि हुई वहां कोरोना से संक्रमण के मामलों में आठ से नौ फीसदी की वृद्धि हुई।'

सर्दी में मैदानी भागों में बढ़ता है प्रदूषण 
गुलेरिया ने कहा, 'वायु प्रदूषण फेफड़े में सूजन एवं जलन पैदा करता है और सार्स-कोविड-2 भी फेफड़े को प्रभावित करते हुए सूजन लाता है। ऐसा संभव है कि प्रदूषण का स्तर बढ़ने पर खासकर मैदानी भागों में श्वास रोग से पीड़ित लोगों में संक्रमण बढ़े। क्योंकि सर्दी के मौसम में  मैदानी भागों में प्रदूषण का स्तर बढ़ जाता है।' गुलेरिया ने बताया कि हेल्थ की प्रतिष्ठित पत्रिका लैंसेट में 22 सितंबर को प्रदूषण एवं कोविड-19 पर एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई है।

देश में 68 लाख से अधिक हुए कोरोना केसप
देश में बृहस्पतिवार को कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 68 लाख से अधिक हो गई। वहीं, संक्रमण से अब तक 58,27,704 लोग उबर चुके हैं। इसके साथ देश में मरीजों के ठीक होने की दर बढ़कर 85.25 प्रतिशत पर पहुंच गई है। केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक देश में अभी तक कोविड-19 के 68,35,655 मामले सामने आ चुके हैं। वहीं पिछले 24 घंटे में 971 और लोगों की संक्रमण से मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 1,05,526 हो गई। 

पीएम ने कोरोना के खिलाफ 'जन आंदोलन' छेड़ा
देश में कोरोना के खिलाफ नए सिरे से जंग छेड़ने के लिए पीएम मोदी ने आह्वान किया। गुरुवार को पीएम ने कोरोना के खिलाफ ‘जन आंदोलन’ की शुरुआत की। उन्होंने कोरोना संक्रमण के खिलाफ संघर्ष में लोगों से एकजुट होने की अपील की। अपने एक ट्वीट में प्रधानमंत्री ने कहा, ‘आइए, कोरोना से लड़ने के लिए एकजुट हों! हमेशा याद रखें: मास्क जरूर पहनें। हाथ साफ करते रहें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें।‘दो गज की दूरी’ बनाए रखें।’
 

India News in Hindi (इंडिया न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर। साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) के अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें.

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर