Agniveer Bharti: अमित बनकर अग्निवीर बनने पहुंचा था ताहिर, भर्ती के दौरान सेना को हुआ शक तो पकड़ी गई चोरी

उत्तराखंड के रानीखेत में चल रही अग्निवीर भर्ती के दौरान एक हैरानी भरा मामला सामने आया है। ताहिर नाम का शख्स फर्जी प्रमाण पत्रों के साथ यहां भर्ती होने पहुंचा था जो रंगेहाथ पकड़ा गया।

Agniveer Recruitment Tahir, who came to join the army in the name of Amit arrested in Ranikhet
अमित बनकर अग्निवीर बनने पहुंचा था ताहिर, ऐसे खुल गई पोल 
मुख्य बातें
  • उत्तराखंड में इन दिनों चल रही है अग्निवीरों की भर्ती
  • रानीखेत के सोमनाथ ग्राउंड में हो रही भर्ती रैली में फर्जी प्रमाणपत्रों के साथ पहुंचा था ताहिर
  • आरोपी युवक को गिरफ्तार कर भेज दिया गया जेल

रानीखेत: उत्तराखंड में इन दिनों सेना के अग्निवीरों की भर्ती हो रही है। कोटद्वार में इस भर्ती प्रक्रिया की शुरूआत हुई थी और फिलहाल अल्मोड़ा जिले के रानीखेत में भर्ती हो रही है। भर्ती को लेकर युवाओं में जबरदस्त क्रेज देखा जा रहा है और बड़ी संख्या में लोग भर्ती होने के लिए पहुंच रहे हैं। बुधवार को जब  कुमाऊं रेजिमेंट सेंटर (KRC) मुख्यालय के सोमनाथ ग्राउंड में अग्निवीर सैनिक भर्ती रैली हो रही थी तो इसी दौरान एक हैरान करने वाला मामला सामने आया जब एक युवक फर्जी प्रमाणपत्रों के साथ पकड़ा गया। पुलिस ने मामला दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है।

अमित बन गया था ताहिर

सेना की जांच में पता चला कि गिरफ्तार युवक ताहिर खान यूपी के बुलंदशहर के अलीपुरा, थाना सिकंदराबाद, कोकर का रहने वाला है। उसने न केवल हाईस्कूल का प्रमाण पत्र फर्जी बनवा रखा था बल्कि हल्द्वानी के पते पर फर्जी स्थायी निवास, जाति प्रमाण पत्र और आधार कार्ड बनवाया है। ताहिर खान ने भर्ती के लिए रजिस्ट्रेशन अपना नाम अमित लिखा था। यहीं पर सैन्य अधिकारियों को उन पर शक हुआ। पूछताछ हुई तो ताहिर टूट गया और उसने सच बयां कर दिया। बाद में उसे स्थानीय पुलिस के हवाले कर दिया गया। ताहिर तो पकड़ा गया लेकिन हल्द्वानी प्रशासन की भूमिका संदेह के घेर में आ गई है कि आखिर कैसे ताहिर को मूल निवास प्रमाण पत्र मिल गया।

IAF Agniveer Result 2022 : जारी हो गया अग्निपथ भर्ती योजना 2022 परिणाम, यहां से करें चेक

1600 मीटर की दौड़ भी की पार

अंदेशा ये भी जताया जा रहा है कि इसके पीछे एक सिंडिकेट हो सकता है। ताहिर ने तय समय में 1600 मीटर की दौड़ भी पूरी कर ली थी। इसके बाद जब दस्तावेजों का सत्यापन हुआ तो सेना के अधिकारियों को शक हुआ और उन्होंने गहनता से पड़ताल की तो ताहिर ने सच कबूल कर लिया। ताहिर के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर उसे जेल भेज दि या गया है। 

इन धाराओं के तहत दर्ज हुआ केस

सीओ तिलक राम वर्मा ने बताया कि ताहिर खान के खिलाफ आईपीसी की धारा 467, 468, 471 के तहत मामला दर्ज किया गया है। आरोपी को कोर्ट में पेश करने के बाद जेल भेज दिया गया है। वहीं, हल्द्वानी के एसडीएम ने बताया कि ताहिर ने रेलवे बाजार के पते पर जाली दस्तावेजों के माध्यम से अपना प्रमाण पत्र तैयार करवाया था। यहां उसके खिलाफ मामला भी दर्ज किया गया है।

Agniveer recruitment 2022: अग्निवीर भर्ती योजना के तहत महिलाओं के लिए जारी हुई वैकेंसी, जल्द करें आवेदन

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर