हिमाचल प्रदेश में बोले केजरीवाल- बच्चों का भविष्य उज्जवल चाहिए तो AAP को मौका दें

हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि मैं शिक्षा-रोजगार के नाम पर वोट मांगने आया हूं। मैं बीजेपी-कांग्रेस को चैलेंज करता हूं कि शिक्षा, रोजगार के नाम पर वोट मांग कर दिखा दे।

Arvind Kejriwal
अरविंद केजरीवाल 
मुख्य बातें
  • हिमाचल प्रदेश के हमीरपुर में अरविंद केजरीवाल ने कहा
  • किसी पार्टी ने कहा कि आपके बच्चों को अच्छी शिक्षा देंगे?
  • इन्हें 5 साल और देंगे तो आपके बच्चों के 5 साल और खराब होंगे

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को हिमाचल प्रदेश के मतदाताओं से अपील की कि अगर वे चाहते हैं कि उनके बच्चों का भविष्य उज्जवल हो तो वे आम आदमी पार्टी (BJP) को आगामी विधानसभा चुनाव में मौका दें। हमीरपुर जिले के टाउन हॉल में एक सभा को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में आप सरकार ने शिक्षा प्रणाली में सकारात्मक बदलाव करके 1100 से अधिक सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 16 लाख छात्रों का भविष्य सुरक्षित किया है।

केजरीवाल ने कहा कि अगर आप चाहते हैं कि हिमाचल प्रदेश के सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले 8.5 लाख छात्रों का भविष्य उज्जवल हो, तो आप को मौका दें। दिल्ली सरकार ने राष्ट्रीय राजधानी के कुल बजट का 25 प्रतिशत शिक्षा के लिए आवंटित करके पिछले सात वर्षों में सरकारी स्कूलों पर 80,000-85,000 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। 

दिल्ली के सीएम ने कहा कि अगर भाजपा और कांग्रेस के नेताओं में हिम्मत है तो उन्हें शिक्षा और रोजगार के नाम पर वोट मांगने को कहें। मैं यहां शिक्षा और स्वास्थ्य के नाम पर वोट मांगने आया हूं। अगर आप चाहते हैं कि आपके बच्चों का भविष्य उज्जवल हो, तो आप को एक मौका दें। हम इतने बुरे नहीं हैं। हिमाचल प्रदेश में 14 लाख छात्र स्कूलों में जाते हैं, जिनमें से 8.5 लाख सरकारी स्कूलों में जाते हैं जबकि 5.5 लाख निजी स्कूलों में जाते हैं। इसका मतलब है कि ज्यादातर छात्र सरकारी स्कूलों में जाते हैं जो राज्य में गरीबी को दर्शाता है। हिमाचल प्रदेश की शिक्षा व्यवस्था को देखें तो इन 8.5 लाख छात्रों का भविष्य अंधकार में है। राज्य में 2,000 स्कूल हैं जहां सिर्फ एक शिक्षक और 722 स्कूल हैं जिनमें सिर्फ एक कमरा है। 

उन्होंने कहा कि हिमाचल में कांग्रेस ने 30 और BJP ने 20 साल राज किया। इन्हें 5 साल और देंगे तो आपके बच्चों के 5 साल और खराब होंगे। अगर आपका बच्चा कक्षा 8 में पढ़ रहा है, तो अगले चुनाव तक 12वीं पास कर जाएगा। उसका भविष्य तो गया। आपके पास यही एक मौका है। हमने दिल्ली के सारे प्राइवेट स्कूलों का ऑडिट कराया। जान के ताज्जुब होगा कई स्कूलों ने 40-50 करोड़ की FD कराई हुई थी और बच्चों की फीस बढ़ा रहे थे। भारत के इतिहास में पहली बार हुआ कि हमने FD तुड़वा कर बच्चों की फीस वापस करवाई। दिल्ली सरकार के स्कूलों के 400+ बच्चे IIT पास कर रहे हैं। हिमाचल के 55 स्कूल ऐसे हैं, जहां 12वीं में एक भी बच्चा पास नहीं हो रहा है।

क्या केजरीवाल अभी भी सोचते हैं कि सत्येंद्र जैन निर्दोष हैं? स्मृति ईरानी ने दिल्ली के सीएम पर साधा निशाना

30 सालों में कश्मीरी पंडितों का दो बार पलायन हुआ, दोनों बार BJP सत्ता में रही: केजरीवाल

Times Now Navbharat पर पढ़ें India News in Hindi, साथ ही ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर