डेंगू का D2 वैरिएंट कितना खतरनाक? LNJP की डॉक्टर रितु से जानिए

हेल्थ
हर्षा चंदवानी
हर्षा चंदवानी | Principal Correspondent
Updated Sep 10, 2021 | 17:00 IST

एलएनजेपी अस्पताल की एमएस डॉक्टर रितु ने कहा कि बच्चों की मौत डेंगू के D2 वैरिएंट की वजह से हो रही है। उन्होंने इसके बारे में विस्तार से हमें बताया। 

D2 variant of dengue is causing death of children
डेंगू के डी2 वैरिएंट बच्चों की मौत हो रही है  |  तस्वीर साभार: PTI

डेंगू के डी2 वैरिएंट पर एलएनजेपी अस्पताल की एमएस डॉक्टर रितु ने टाइम्स नाउ नवभारत से कहा कि उत्तर प्रदेश में बच्चों की मौत डी2 वैरिएंट से हो रही है। साथ ही उन्होंने इसके बारे में विस्तार से बताते हुए लोगों को सावधान किया। उन्होंने कहा कि डेंगू 4 तरीके होते हैं, उनका इलाज 3 तरह से किया जाता है। डेंगू का D2 वैरिएंट बाकी डेंगू की तुलना में ज्यादा खतरनाक है, हालांकि हम संक्रमण के लक्षण देखकर इलाज करते हैं। डेंगू D2 में बहुत बार हेमरेज यह समस्या आती है, जिसकी वजह से मरीज की मृत्यु हो सकती है। इसके अलावा बहुत ही तेज गति से प्लेटलेट घट जाते हैं और इंटरनल ब्लीडिंग की संभावना रहती है।

पोस्ट मॉनसून और नमी वाले इलाकों में जहां साफ पानी मिलता है। वहां डेंगू के मच्छर पनपने की संभावना रहती है। यही वजह है कि उत्तर भारत के मैदानी इलाकों में डेंगू बहुत तेजी से फैल रहा है। इसका इलाज घर पर नहीं करना चाहिए, क्योंकि कई बार गलत पेनकिलर या अन्य दवाई लेने से आंतरिक रक्तस्राव हो सकता है ,साफ सफाई का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है। कोरोना वायरस के दौर में जब तक बहुत ज्यादा जरूरत ना हो, तब तक हम मरीजों को खून मोटा करने की दवाई नहीं देते है।
 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर