World Obesity Day: ऑफिस कैंटीन में खाएं न्यूट्रिशन से भरा आहार, डायटिशियन से जानें मोटापे से बचने का उपाय

हेल्थ
Updated Oct 11, 2019 | 00:20 IST | Priyanka Singh

भागदौड़ भरी जिंदगी के साथ लोगों ने पौष्टिक आहार का सेवन करना कम कर दिया है। जिसकी वजह से ओबेसिटी, ब्लडप्रेशर, हाई ब्लड शुगर जैसी समस्याएं होने लगी हैं। ऐसे में लोगों को जागरुक होने की जरूरत है।

world obesity day 2019
world obesity day 2019 

मुख्य बातें

  • ब्रेकफास्ट नहीं करने से होती हैं ये परेशानियां
  • कैंटीन में चाय ब्रेक नहीं बल्कि लें फ्रूट ब्रेक
  • वजन कम करने के लिए डायटिशियन से लें खास सलाह

World Obesity Day: आजकल उचित आहार नहीं खाने की वजह से लोगों में बीमारियों की संख्या करीबन 11 प्रतिशत बढ़ गई है। लोग पौष्टिक आहार लेने के बजाए जंक फूड पर निर्भर होते जा रहे हैं। जिसका असर शरीर पर आसानी से देखने को मिल रहा है। बता दें कि सिर्फ पौष्टिक आहार ही नहीं बल्कि खाने के उचित समय को भी निर्धारित करना उतना ही आवश्यक है। डायटिशियन के मुताबिक खाने में बलैंस आहार होना बहुत जरूरी है, जो कि इन दिनों कामकाजी लोग नहीं ले पाते हैं।

दिल्ली के मैक्स हॉस्पिटल की चीफ न्यूट्रीशनिस्ट डॉ. चारू दुआ ने हाल ही में टाइम्स नाउ हिंदी से खास बातचीत की। इस दौरान उन्होंने बताया काम की वजह से हम सुबह का नाश्ता करना लोग भूल गए हैं। कई लोग हैं,जिन्हें ये नहीं पता कि उन्हें नाश्ता कब तक कर लेना चाहिए। ऐसे में फल की महत्व को कैसे समझेंगे। उन्होंने बताया कि नाश्ता लोगों को सुबह उठने के दो घंटे बाद ही कर लेना चाहिए। एक्सपर्ट के मुताबिक नाश्ता के 5 से 6 घंटे बाद लंच करना चाहिए। सुबह के नाश्ते से लेकर रात का खाना तक, हर किसी की अपनी एक अहमियत है। ऐसे में रूटीन के साथ चलेंगे तो ना सिर्फ ओबेसिटी बल्कि अन्य बीमारियों से भी बच सकते हैं।

सुबह नाश्ता नहीं करने से होती हैं ये परेशानियां
ओबेसिटी का होना
सुगर इंबैलेंस हो जाना
ब्लडप्रेशर, हाई ब्लड शुगर जैसी समस्याएं आने लगती है

कैंटीन में चाय ब्रेक नहीं बल्कि लें फ्रूट ब्रेक

ज्यादातर कंपनी में चाय ब्रेक होते हैं, जो कि स्वास्थ के लिए हानिकारक होता है। ऐसे में लोगों को चाय की जगह फल खाना चाहिए। कोशिश रहे कि आप पौष्टिक आहार खाने के लिए ब्रेक लें। कई लोग चाय अधिक पीते हैं, जिसकी वजह से उन्हें भूख नहीं लगती। फिर लंबे वक्त तक भूखे रह जाते हैं। ऐसे में धीरे धीरे आप ओबेसिटी का शिकार होने लगते हैं। ऑफिस में जिस तरह समोसा या फिर दूसरे चाइनिज फूड लोगों को दिया जाता है। वैसे ही कुछ फल या फिर पौष्टिक से भरा आहार भी शामिल करना चाहिए। जिससे लोग पौष्टिक आहार का सेवन कर सकें। जैसे स्प्राउट सैलेड,पनीर, उबला हुआ अंडा आदि।

तली हुई चीजों से रहें दूर
डायटिशियन के मुताबिक हर एक व्यक्ति को महीने में सिर्फ आधा लीटर तेल इस्तेमाल करना चाहिए। चाहे वो सिर्फ सब्जी में इस्तेमाल हो या फिर रोटी में घी के तौर। खाना घर का खाए या फिर बाहर का खाए तेल का ध्यान हमेशा रखना चाहिए। एक कटोरी सब्जी आपको 100 कैलोरी भी दे सकती है या वहीं सब्जी आपको 500 कैलोरी भी दे सकती है।

वजन कम करने के लिए डायटिशियन से लें खास सलाह

आज कल लोग गूगल या फिर जिम ट्रेनर से सलाह लेकर वजन कम करने के बजाय और बीमारियों को बुलावा दे रहे हैं। लोगों को ध्यान देने की जरूरत है डायट या फिर दूसरे लोगों से सलाह लेने के बजाय डायटिशियन से संपर्क करें। अगर किसी को 5 से 6 किलों कम करना है तो वो बैलेंस आहार और थोड़ी एक्सरसाइज करें तो वजन आसानी से कम कर सकते हैं। लेकिन जिन्हें 15 किलो से ज्यादा वजन कम करना है वो डायटिशियन से बिना सलाह लिए कोई भी डायट फॉलो ना करें।

लोकप्रिय वीडियो
अगली खबर
World Obesity Day: ऑफिस कैंटीन में खाएं न्यूट्रिशन से भरा आहार, डायटिशियन से जानें मोटापे से बचने का उपाय Description: भागदौड़ भरी जिंदगी के साथ लोगों ने पौष्टिक आहार का सेवन करना कम कर दिया है। जिसकी वजह से ओबेसिटी, ब्लडप्रेशर, हाई ब्लड शुगर जैसी समस्याएं होने लगी हैं। ऐसे में लोगों को जागरुक होने की जरूरत है।
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...
taboola