Best Milk For Weight Loss: वजन घटाने के लिए कौन सा दूध है बेहतर, स्किम्ड दूध या डबल टोंड दूध

Best Milk For Weight Loss: वजन घटाने के लिए दूध मददगार होता है। लेकिन अक्सर लोगों में इस बात को लेकर भ्रम रहता है कि वजन घटाने के लिए कौन सा दूध सर्वोत्तम होता है। यहां जानिए पूरी डिटेल।

 what is the difference between skimmed milk and double toned milk
दूध वजन घटाने में भी मददगार होता है। (तस्वीर के लिए साभार -iStock images) 

मुख्य बातें

  • सही तरीके से दूध का सेवन किया जाए तो यह वजन घटाने में सहायक होता है
  • वेट लॉस के लिए सोया और बादाम दूध का सेवन करना आम बात है
  • स्किम्ड दूध फैट रहित होता है और इसमें फैट की 0.5 ग्राम से कम फैट होता है

नई दिल्ली: वेट लॉस के लिए सोया और बादाम दूध का सेवन करना आम बात है। लेकिन ज्यादातर लोग सिक्मड और टोन्ड मिल्क को लेकर कंफ्यूज रहते हैं कि किस दूध को पीने से वजन नहीं बढ़ता है। जब भी हम वेट लॉस की बात करते हैं तो सबसे पहले अपनी डाइट में फैट फूड को कम करते हैं। दूध एक ऐसी चीज है जिसमें सबसे ज्यादा फैट होता है। इसलिए हम उन चीजों को अपनी डाइट में शामिल करते हैं जिसमें फैट की मात्रा कम होने के साथ- साथ सेहत के लिए भी फायदेमंद हों।

लोग अपनी डाइट में टोन्ड मिल्क, स्किमड मिल्क, सोया और बादाम का दूध शामिल करते हैं। वेट लॉस के लिए सोया और बादाम दूध का सेवन करना आम बात है। लेकिन ज्यादातर लोग सिक्मड और टोन्ड मिल्क को लेकर कंफ्यूज रहते हैं कि किस दूध को पीने से वजन नहीं बढ़ता है। आइए बिना देर किए जानते हैं कि कौन सा दूध पीने से वेटलॉस होता है और साथ ही सेहत के लिए फायदेमंद होता है।

स्किम्ड दूध

स्किम्ड दूध फैट रहित होता है और इसमें फैट की 0.5 ग्राम से कम फैट होता है। स्किम्ड दूध पूरे दूध की तरह मलाईदार नहीं होता है और इसमें हल्का और पतला होता है। यह पेट पर हल्का और फैट से मुक्त है और इस तरह वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों की पसंद होता है। एक गिलास फुल क्रीम दूध में लगभग 10 ग्राम फैट होता है, जबकि एक गिलास स्किम्ड दूध में 2 ग्राम या 0 ग्राम फैट होता है। पूर्ण फैट वाले दूध की तुलना में स्किम्ड दूध में कैल्शियम, प्रोटीन, फास्फोरस, विटामिन डी और ए भी अधिक होता है और इसमें शक्कर भी नहीं होती है।

डबल टोंड

डबल टोंड मिल्क को पूरे दूध को स्किम्ड मिल्क या स्किम्ड मिल्क पाउडर के साथ मिलाकर बनाया जाता है। पूरे भैंस के दूध को स्किम्ड दूध के साथ मिलाकर डबल टोंड दूध दिया जाता है। दूध फैट और कैलोरी में कम है और वजन कम करने की कोशिश कर रहे लोगों के लिए आदर्श है। डबल टोन्ड दूध में लगभग 1.5 प्रतिशत फैट होता है।

यह हृदय रोग से पीड़ित लोगों के लिए एक बढ़िया विकल्प है। दूध आसानी से पचने योग्य होता है, विटामिन डी से भरपूर होता है और इसमें टोन्ड दूध की तुलना में कम कैलोरी होती है। एक कप डबल टोंड मिल्क में 114 कैलोरी होती है, जबकि एक कप टोंड मिल्क में 150 कैलोरी होती है।

स्किम्ड मिल्क टोंड मिल्क से बेहतर

दोनों प्रकार के दूध वजन घटाने के लिए बहुत अच्छे होते हैं क्योंकि दोनों में फैट और कैलोरी कम होता है। लेकिन वजन कम करने में स्किम्ड मिल्क टोंड मिल्क से बेहतर है, क्योंकि स्किम्ड मिल्क में डबल टोंड मिल्क से ज्यादा प्रोटीन होता है। प्रोटीन जैसा कि हम सभी जानते हैं कि हमें तृप्त रखने में मदद करता है और हमें लगातार खाने से रोकता है और इस तरह वजन कम करता है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर