छठ नहाय खाय : लौकी-चना दाल के जबरदस्त हेल्थ बेनिफिट, वेट लॉस में भी मददगार

Lauki Chana Dal Benefits for Weight Loss: छठ महापर्व में नहाय खाय के दिन लौकी और चने की दाल खाई जाती है। लौकी और चने की दाल के शरीर को दोहरा लाभ होता है। सेहत के लिहाज से यह काफी अहम है।

Lauki Chana Dal Health Benefits
सेहत के लिहाज से चना दाल और लौकी की सब्जी काफी लाभकारी है। ( तस्वीर के लिए साभार- iStock images ) 

मुख्य बातें

  • चना और लौकी दोनों के सेहत के लिहाज से लाभकारी है
  • लौकी के जूस और सब्जी से वजन कम होता है
  • चना दाल में भरपूर मात्रा में विटामिन और प्रोटीन होता है

नई दिल्ली: छठ महापर्व 18 नवंबर से शुरू हो चुका है जिसके तहत आज नहाय खाय है जिसमें नहाने के बाद लोग लौकी और चने दाल का सेवन करते हैं। छठ का जो भी प्रसाद या खानपान होता है वह पौष्टिक होता है। नहाय खाय के बाद लोग इस दिन लौकी की सब्जी और चने की दाल खाते है। दरअसल सेहत के लिए ये दोनों चीजें गुणकारी है। आइए जानते है स्वास्थ्य के लिए ये दोनों चीजें कितनी लाभकारी है।

लौकी खाने के फायदे

लौकी का जूस और सब्जी दोनों सेहत के लिहाज से लाभकारी होता है । लौकी का जूस और सब्जी दोनों वजन कम करने में मददगार होते है। लौकी से तेजी से वजन कम होता है। लौकी के जूस में आप नमक डालकर या सिर्फ लौकी को उबालकर  भी सेवन कर सकते हैं। दोनों स्थितियों में यह आपके लिए फायदेमंद है। लौकी में नेचुरल वॉटर है जिसके प्रयोग से त्वचा में निखार आता है। लौकी के स्लाइस को अगर आप चेहरे पर मसाज करते है तो इससे आपका रंग निखरता है।  

लौकी प्रोटीन और विटामिन से भरपूर 

लौकी में में कई तरह के प्रोटीन, विटामिन और लवण पाए जाते हैं. इसमें विटामिन ए, विटामिन सी, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम पोटेशियम और जिंक पाया जाता है. ये पोषक तत्व शरीर की कई आवश्यकताओं की पूर्ति करते हैं और शरीर को बीमारियों से सुरक्षित भी रखते हैं।

लौकी गैस हरने वाला और पाचन में भी मददगार

लौकी पाचन क्रिया को भी दुरुस्त करता है। लौकी के जूस से कब्ज और गैस की समस्या में राहत मिलती है। साथ ही मधुमेह रोगियों के लिए भी यह वरदान है। प्रतिदिन सुबह उठकर खाली पेट लौकी का जूस पीना मधुमेह के मरीजों के लिए बहुत फायदेमंद होता है।  कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए भी लौकी का सेवन फायदेमंद होता है। इसके इस्तेमाल से हानिकारक कोलेस्ट्रॉल कम हो जाता है।

चना दाल के फायदे 

देश में कई  तरह की दालें पाई जाती है जिसमें अरहर, मूंग, उड़द, मसूर, चना आदि इनमें से चने की दाल सेहत के नजरिए से बहुत फायदेमंद है।  चने की दाल में फाइबर ज्यादा मात्रा में होता है जिससे ये बढ़े हुए कोलेस्ट्रोल को कम करता है।

चान दाल विटामिन और प्रोटीन का बढ़िया स्रोत

चना दाल में जिंक, प्रोटीन, कैल्शियम व फोलेट का स्रोत होता है। डायबटीज को नियंत्रित करने के लिए चना दाल बहुत अच्छी मानी जाती है। चना की दाल से कब्ज और गैस की परेशानी भी परेशानी दूर होती है| चना दा ल में मौजूद अमीनो एसिड, शरीर को कोशिकाओं को मजबूत करता है। आपका पाचनतंत्र अच्छे से कार्य नहीं कर रहा हैं और आपको कब्ज, उलटी, डायरिया की परेशानी है तो चना दाल इसको ठीक कर सकता है।  

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर