कोलेस्ट्रॉल से लेकर हाई BP की समस्‍या से मिलेगा छुटकारा, अगर रुद्राक्ष रखेंगे पास

हेल्थ
Updated Jul 20, 2019 | 17:52 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित मरीजों के लिए भी रुद्राक्ष काफी फायदेमंद है। पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। यहां जानें इसके और भी फायदे...

Rudraksha Health Benefits
Rudraksha   |  तस्वीर साभार: Getty Images

मुख्य बातें

  • रुद्राक्ष में विद्युत चुंबकीय शक्ति पायी जाती है
  • पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है
  • रुद्राक्ष पहनने से व्यक्ति का मन शांत रहता है

नई दिल्‍ली। Rudraksha Health Benefits: आमतौर पर हिंदू धर्म में रुद्राक्ष को बहुत शुभ माना जाता है। कहा जाता है कि रुद्राक्ष की उत्पत्ति भगवान शिव के नेत्रों से हुई थी, इसलिए इसका धार्मिक महत्व भी बहुत अधिक है। भगवान शिव को रुद्राक्ष बहुत प्रिय है इसलिए रुद्राक्ष के रुप में भी भगवान शंकर की पूजा की जाती है।

पौराणिक कथाओं के अनुसार एक बार भगवान शिव ने त्रिपुरासुर को जलाकर राख कर दिया, तब द्रवित होने की वजह से उनकी आंखों से आंसू गिरने लगा। कहा जाता है कि जिस जिस स्थान पर भगवान शंकर के आंसू गिरे वहां रुद्राक्ष का वृक्ष उग आया। तभी से रुद्राक्ष को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है। लेकिन रुद्राक्ष का सिर्फ धार्मिक महत्व ही नहीं है बल्कि यह सेहत के लिए भी कई मायनों में फायदेमंद है। आइये जानते हैं रुद्राक्ष के कुछ मुख्य फायदों के बारे में।

भूलने की समस्या होती है दूर  
रुद्राक्ष में विद्युत चुंबकीय शक्ति पायी जाती है। एक शोध में पाया गया है कि रुद्राक्ष पहनने से मस्तिष्क में मौजूद रसायन पर इसका सकारात्मक प्रभाव पड़ता है जिसके कारण भूलने की समस्या दूर हो जाती है। इसलिए व्यक्ति को हमेशा रुद्राक्ष धारण किए रहना चाहिए।

उच्च रक्तचाप की समस्या से मिलता है छुटकारा
उच्च रक्तचाप की समस्या से पीड़ित मरीजों के लिए भी रुद्राक्ष काफी फायदेमंद है। पंचमुखी रुद्राक्ष धारण करने से ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है और व्यक्ति को डिप्रेशन एवं चिंता की समस्या नहीं होती है।

दो मुखी रुद्राक्ष पहनने से ये बीमारियां होती हैं दूर 
यदि आप आंख, हृदय, मस्तिष्क या फेफड़े से जुड़ी बीमारियों से ग्रसित हैं तो दो मुखी रुद्राक्ष पहनने से सभी तरह की बीमारियां दूर हो जाती है। इसके अलावा रुद्राक्ष पहनने से व्यक्ति का मन भी शांत रहता है।

सिरदर्द, चिंता और बेचैनी से मिलती है राहत 
आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में थकान की वजह से सिरदर्द, चिंता, बेचैनी, उलझन और घबराहट होना बेहद आम बात है। रुद्राक्ष पहनने से इस तरह की समस्याएं नहीं होती हैं और आप काफी राहत महसूस करते हैं।

रुद्राक्ष में मौजूद हैं ये गुण
रुद्राक्ष में फास्फोरस, एल्युमिनियम, आयरन, कैल्शियम, पोटैशियम, सिलिका और सोडियम जैसे गुण मौजूद है। रुद्राक्ष धारण करने पर जब यह शरीर से स्पर्श होता है तो ये सभी तत्व शरीर में पहुंचते हैं जिसके कारण नर्वस सिस्टम बेहतर होता है।

कोलेस्ट्रॉल को भी करे नियंत्रित
रुद्राक्ष में केमो फार्माकोलॉजिकल गुण पाये जाते हैं जो कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है और हृदय रोगों से शरीर की रक्षा करता है।

हिंदू मान्‍यता के अनुसार अगर आप रुद्राक्ष धारत कर रहे हैं तो इसे सबसे पहले शिव जी के सामने समर्पित करें। इसे सावन या महाशिवरात्रि के दिनों में धारण करना शुभ माना जाता है। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर