Patanjali Coronil Medicine Price: पतंजलि ने लॉन्च की कोरोना की आयुर्वेदिक दवा 'Coronil'

हेल्थ
नवीन चौहान
Updated Jun 23, 2020 | 14:38 IST

Patanjali Corona Medicine: पंतजलि ने हरिद्वार स्थित पतंजलि योग पीठ में आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में कोरोना की आयुर्वेदिक दवा 'Coronil' को लॉन्च किया। जानिए कितनी है इसकी कीमत और कैसे करेगी काम।

Patanjali Coronil Medicine Kit
Patanjali Coronil medicine 
मुख्य बातें
  • 3 दिन में 69 प्रतिशत मरीज कोरोनिल के इस्तेमाल से हुए ठीक
  • दवा के परीक्षण के दौरान किसी भी मरीज की नहीं हुई मौत
  • 7 दिन में 10 प्रतिशत रहा कोरोनिल का रिकवरी रेट

नई दिल्ली: कोरोना वायरस के कहर के बीच पतंजलि आज कोरोना के इलाज के लिए अपनी आयुर्वेदिक दवा कोरोनिल को बाजार में उतारा। पतंजलि योग पीठ हरिद्वार में आयोजित विशेष कार्यक्रम में इस दवा को लॉन्च किया गया। स्वामी रामदेव ने कोरोनिल की लॉन्चिंग के दौरान कहा कि आज हम ये कहते हुए गौरव अनुभव कर रहे हैं कि कोरोना की पहली आयुर्वेदिक, क्लीनिकली कंट्रोलड, ट्रायल, एविडेंस और रिसर्च आधारित दवाई पतं​जलि रिसर्च सेंटर और NIMS के संयुक्त प्रयास से तैयार हो गई है। 

बाबा रामदेव ने आगे कहा, पूरी दुनिया इस पल की प्रतीक्षा कर रहे थे कि कहीं न कहीं से कोई न कोई दवा निकलेगी। हमें गर्व है कि पतंजलि ने कोरोना की पहली आयुर्वेदिक दवा विकसित की है। नीम्स के संयुक्त प्रयास से इस दवा को पतंजलि ने विकसित किया है। डॉक्टर बलवीर सिंह तोमर की टीम के सहयोग से दवा की क्लीनिकल कंट्रोल स्टडी की गई देश के कई शहरों में की गई। 280 मरीजों को सम्मिलित किया गया। सौ प्रतिशत मरीजों की रिकवरी हुई। कोरोना और कोराना के सभी कॉम्पलीकेशन को एक साथ नियंत्रित कर पाए। क्लीनिकल कंट्रोल ट्रायल के लिए नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंस का सहयोग मिला। 100 रोगियों पर इसका परीक्षण किया गया। 

स्वामी रामदेव ने बताया कि इस दवाई पर हमने दो ट्रायल किए हैं, 100 लोगों पर क्लीनिकल स्टडी की गई उसमें 95 लोगों ने हिस्सा लिया। 3 दिन में 69 प्रतिशत मरीज़ ठीक हो गए, 7 दिन में सौ प्रतिशत मरीज ठीक हो गए। बाबा रामदेव ने ये भी दावा किया है कि ये दवा इलाज के साथ साथ बचाव में भी कारगर है। 

पतंजलि के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने कहा, आज पतंजलि परिवार के लिए बहुत बड़ा दिन है। मानवता की सेवा में विनम्र प्रयास पूरा होने की खुशी आप सब से साझा करते हुए अत्यंत हर्ष का अनुभव हो रहा है। पतंजलि के सभी वैज्ञानिकों ने NIMS यूनिवर्सिटी के बलवीर सिंह तोमर व सभी डॉक्टरों को बधाइयां आपका प्रयास आज साकार हो रहा है। आयुर्वेद अब अपने अतीत के वैभव को प्राप्त कर शक्ति संपन्न बनेगा 

आचार्य बाल कृष्ण ने आगे कहा, करोड़ों की पुकार व आशा का केंद्र पतंजलि है, तो हमारी जिम्मेदारी और भी बढ़ जाती है। आज ऐसा लग रहा है, मानो कोई स्वप्न देख रहे हों, स्वप्न को साकार होते भी स्वप्न लगे यह पहली बार अनुभव हो रहा है। ये औषधियां रेस्पेरेटरी सिस्टम, इम्यून सिस्टम से लेकर पूरे शरीर की ऊर्जा को संतुलित करती हैं एवं रोग-प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती हैं। 

कितनी है कोरोनिल की कीमत

पतंजलि की कोरोना किट की कीमत 545 रुपये होगी। इस किट में तीस दिन की दवा उपलब्ध होगी। एक सप्ताह के भीतर पूरे भारत में ये दवा उपलब्ध होगी। पतंजली मेगा स्टोर्स और पंतजली के आयुर्वेदिक स्टोर्स में ये दवा उपलब्ध होगी। हालांकि बड़ी मात्रा में दवा को उपलब्ध करा पाना पतंजलि के लिए चुनौतीपूर्ण होगा। 

3 दिन में 69 प्रतिशत और 7 दिन में 100 प्रतिशत रिकवरी रेट 
बाबा रामदेव ने बताया कि दवा के परीक्षण के दौरान किसी भी मरीज की मौत नहीं हुई। इस दवा का तीन से सात दिन रिकवरी रेट 100 प्रतिशत है और जीरो पर्सेंट डेथ रेट है। दवा के इस्तेमाल से 3 दिन में 69 प्रतिशत मरीज ठीक हुए। इस दवा को विकसित करने में तकरीबन 500 डॉक्टरों की टीम ने दिन रात काम किया। 

सोमवार से शुरू होगा दवा की डिलिवरी का काम
सोमवार को पतंजलि ऑर्डर मी नाम का  एप्प लॉन्च करेगी और इसके माध्यम से श्वसारी, अणुतेल और कोरोनिल दवा को लोगों के घर तक तीन दिन में पहुंचाएंगे।


 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर