Navratri 2021:व्रत में संजीवनी से कम नहीं सफेद मोतियों की तरह दिखने वाला साबूदाना, हड्डियों को बनाता है फौलाद

कैलोरी, कार्बोहाइड्रेट, आयरन, फाइबर, कैल्शियम औऱ मैग्नेशियम से भरपूर साबूदाना स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। उपवास के दौरान फलाहार के तौर पर इसका सेवन लगभग हर घर में किया जाता है।

Sabudana
Sabudana 

मुख्य बातें

  • एक कटोरी साबूदाने की खीर दिन के 40 से 50 प्रतिशत कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट की करती है पूर्ती।
  • साबूदाना शारीरिक स्वास्थ्य के साथ मस्तिष्क के लिए भी है बेहद फायदेमंद।
  • आयरन से भरपूर साबूदाना एनीमिया के संक्रमण से रखता है दूर।

नई दिल्ली. साबूदाने का सेवन लगभग हर घर में उपवास के दौरान फलाहार के रूप में किया जाता है। सफेद मोतियों की तरह दिखने वाला साबूदाना गुणों का खजाना होता है। जी हां कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट से भरपूर साबूदाना सेहत के लिए बेहद फायदेमंद होता है। 

कहीं दूध के साथ तो कभी इसकी स्वादिष्ट खिचड़ी साबूदाने का प्रयोग कई तरह के स्वादिष्ट व्यंजन बनाने के लिए किया जाता है। आपको बता दें साबूदाने की खिचड़ी सिर्फ नवरात्रों में ही नहीं बल्कि आम दिनों में भी खूब चाव से खाई जाती है। 

पोषक तत्वों से भरपूर साबूदाने में फैट की मात्रा नाममात्र की होती है। यह वजन बढ़ाने और घटाने दोनों में कारगार होता है। ऐसे में आइए जानते हैं साबूदाने के स्वास्थ्य लाभ।

वजन बढ़ाने और घटाने में कारगार
साबूदाना वजन बढ़ाने और घटाने दोनों में कारगार होता है। दुबले पतले लोगों के लिए साबूदाना वजन बढ़ाने के लिए रामबांण सिद्ध होता है। इसके लिए आप साबूदाने का खीर बनाकर इसका सेवन करें। 

आपको बता दें एक कटोरी साबूदाने की खीर दिन की 40 से 50 प्रतिशत कैलोरी और कार्बोहाइड्रेट की मात्रा की पूर्ती करता है, ये दोनों तत्व वजन बढ़ाने के लिए कारगार होते है। 

साबूदाना वजन कम करने में भी मददगार सिद्ध होता है, इसके लिए आप साबूदाने की खिचड़ी का सेवन कर सकते हैं। साबूदाने की खिचड़ी खाने से आपका पेट जल्दी भर जाता है और देर तक भूख नहीं लगती।

हड्डियों को बनाता है फौलाद
कैल्शियम, मैग्नीशियम और आयरन से भरपूर साबूदाना हड्डियों को मजबूत बनाता है। आपको बता दें जहां एक ओर कैल्शियम और मैग्नीशियम हड्डियों के विकास के साथ आपकी हड्डियों को मजबूत बनाता है।

आयरन ऑटिपॉरेसिस जैसे हड्डियों के विकार को दूर करने में कारगार होता है। ऐसे में आप नियमित तौर पर साबूदाने का सेवन अवश्य करें तथा उपवास के दौरान साबूदाने का सेवन जरूर करें।

ब्लड प्रेशर
साबूदाने में भरपूर मात्रा में पोटेशियम पाया जाता है, जिससे आपका ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है। यह ब्लड सर्कुलेशन को भी बेहतर बनाता है। ऐसे में साबूदाना हाई ब्लड प्रेशर वाले मरीजों के लिए लाभदायक सिद्ध होता है।

साबूदाना पाचनतंत्र को दुरुस्त रखने में मददगार होता है। यह गैस, कब्ज आदि समस्याओं से निजात दिलाने के साथ पाचन क्रिया को मजबूत बनाता है। ऐसे में उपवास के दौरान साबूदाने का सेवन करना ना भूलें।

मस्तिष्क के लिए फायदेमंद
साबूदाना सिर्फ शारीरिक स्वास्थ्य के लिए ही नहीं बल्कि मस्तिष्क के लिए भी बेहद फायदेमंद होता है। यह स्ट्रेस को दूर कर डिप्रेशन की समस्या से कोशो दूर रखता है। 

आपको बता दें साबूदाने में फोलेट की भरपूर मात्रा पाई जाती है, जो मस्तिष्क संबंधी विकार को दूर करने में सहायक होता है। ऐसे में साबूदाने का सेवन स्वास्थ्य के साथ दिमाग के लिए भी फायदेमंद होता है।

एनीमिया से दिलाए राहत
भारत में लगभग 60 प्रतिशत लोग एनीमिया की समस्या से ग्रस्त हैं। आयरन की कमी एनीमिया का सबसे बड़ा कारण है। जब शरीर में आयरन की कमी होती है तो शरीर में खून बनना कम हो जाता है। आयरन की कमी पुरुषों से अधिक महिलाओं में देखी जाती है। 

इस समस्या से निजात पाने के लिए साबूदाने का सेवन बेहतर साबित हो सकता है। साबूदाने में भरपूर मात्रा में आयरन पाया जाता है, नियमित तौर पर इसके सेवन से एनीमिया की समस्या को दूर किया जा सकता है और इसके लक्षणों से निजात पाया जा सकता है।

डायबिटीज
साबूदाना शुगर टाइप 2 रोगियों के लिए फायदेमंद होता है। इसमें पाया जाने वाला फाइबर, पोटेशियम और फॉसफोरस डायबिटी टाइप 2 रोगियों के लिए फायदेमंद होता है।

साबूदाना शारीरिक स्वास्थ्य के साथ त्वचा और चेहरे की खूबसूरती को भी निखारने में मदद करता है। इसमें जिंक ,कॉपर औऱ सिलेनियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है, जो त्वचा की खूबसूरती को निखारने के साथ त्वचा संबंधी रोग से निजात दिलाने और इनके संक्रमण से दूर रखने में भी कारगार है।
 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर