Corona Booster Dose:मॉडर्ना ने कहा हमारी वैक्सीन की बूस्टर डोज ओमिक्रॉन के खिलाफ प्रभावी 

हेल्थ
आईएएनएस
Updated Dec 21, 2021 | 00:04 IST

मॉडर्ना कंपनी के अनुसार, 100 माइक्रोग्राम की बूस्टर खुराक देने पर एंटीबॉडीज का स्तर और भी बढ़ गया और 83 गुणा अधिक न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडीज पैदा हुईं।

vaccination
मॉडर्ना ने कहा हमारी वैक्सीन की बूस्टर डोज ओमिक्रॉन के खिलाफ प्रभावी (प्रतीकात्मक फोटो) 

वाशिंगटन: अमेरिकी दवा निमार्ता मॉडर्ना ने सोमवार को घोषणा करते हुए कहा कि साधारण दो खुराक के मुकाबले उसकी बूस्टर खुराक नए ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ प्रभावी है। कंपनी ने अपने एक बयान में कहा कि उसकी वैक्सीन की दो खुराकों ने ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ कम संख्या में न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडीज पैदा कीं, लेकिन 50 माइक्रोग्राम की बूस्टर खुराक ने वैरिएंट के खिलाफ 37 गुना अधिक न्यूट्रलाइजिंग एंटीबॉडीज पैदा कीं।

मॉडर्ना के मुख्य कार्यकारी अधिकारी स्टीफन बैंसेल ने बयान में इसकी पुष्टि की है।माडर्ना ने कहा, बूस्टर की पूरी खुराक का असर और भी ज्यादा था, जिससे एंटीबॉडी के स्तर में 83 गुना वृद्धि हो गई।मॉडर्ना के अनुसार, यह प्रारंभिक प्रयोगशाला डेटा है और इसकी अभी तक वैज्ञानिक समीक्षा नहीं हुई है। चूंकि परिणामों की अभी तक पूर्ण रूप से समीक्षा नहीं की गई है, इसलिए कंपनी की योजना सरकारी स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ डेटा साझा करने की है।

ओमिक्रॉन वैरिएंट अब तक लगभग 90 देशों में फैल चुका है

कंपनी ने कहा कि वह एक ओमिक्रॉन-विशिष्ट बूस्टर कैंडिडेट भी विकसित करना जारी रखेगी, जिसे 2022 की शुरूआत में नैदानिक परीक्षणों में प्रवेश करना चाहिए। वैरिएंट ऑफ कंसर्न के तौर पर बताया जा रहा ओमिक्रॉन वैरिएंट अब तक लगभग 90 देशों में फैल चुका है, जिसके बारे में कहा जा रहा है कि यह अन्य वैरिएंट्स के मुकाबले अधिक संक्रामक है और वैक्सीन का भी इस पर कोई खास असर नहीं होता है।

इजराइली शोधकतार्ओं द्वारा किए गए अध्ययन के अनुसार, फाइजर की कोविड वैक्सीन का तीसरा शॉट भी नए ओमिक्रॉन वैरिएंट के खिलाफ महत्वपूर्ण सुरक्षा प्रदान करता है। हालांकि, चीन की सिनोफार्म द्वारा विकसित कोविड की एक बूस्टर खुराक ओमिक्रॉन के खिलाफ कमजोर प्रतिरक्षा प्रतिक्रिया देते हुई दिखाई दी है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर