Lakshmi Taru Leaves: ब्रेस्ट कैंसर में फायदेमंद हैं इस पेड़ के पत्ते, एक्ट्रेस छवि मित्तल ने भी किया था सेवन

Lakshmi Taru Leaves: लक्ष्मी तरु को सिमरूबा भी कहते हैं। ये पेड़ दक्षिण और मध्य अमेरिका में पाया जाता है। वैज्ञानिक शोध में पाया गया है कि इसके तनों में कैंसर रोधी तत्व होते हैं। साथ ये रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी फायदेमंद होता है।

Lakshmi Taru Leaves
Lakshmi Taru Leaves for breast cancer 
मुख्य बातें
  • कैंसर को दूर करने में फायदेमंद है लक्ष्मी तरु के पत्ते
  • इसकी छाल से दूर होता है बुखार
  • पेट और आंत की समस्या में भी है फायदेमंद

Lakshmi Taru Leaves: ब्रेस्ट कैंसर की समस्या महिलाओं में होने वाली सबसे बड़ी समस्या है। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन के अनुसार साल 2020 में दुनियाभर में 685,000 महिलाओं की मौत हुई थी। अभी हाल ही में टीवी एक्ट्रेस छवि मित्तल ने भी ब्रेस्ट कैंसर से जंग जीती है, वहीं बॉलीवुड एक्ट्रेस महिमा चौधरी भी ब्रेस्ट कैंसर की समस्या से जूझ चुकी हैं। छवि मित्तल को जब से अपने कैंसर के बारे में पता चला है, तब से वो लगातार सोशल मीडिया के जरिए खुलकर अपने अनुभवों को बता रही हैं। इसी कड़ी में उन्होंने एक वीडियो शेयर कर बताया है कि ब्रेस्ट कैंसर से उबरने के लिए लक्ष्मी तरु के पत्ते बहुत फायदेमंद होते हैं और उन्होंने भी इनका सेवन किया। तो चलिए आपको बताते हैं लक्ष्मी तरु के पत्तों के फायदे और इनके सेवन करने का तरीका-

Also Read: Tips To Improve Memory: बार-बार भूलने की समस्या से हैं परेशान, तो अपनाएं ये टिप्स

ब्रेस्ट कैंसर में फायदेमंद है लक्ष्मी तरु के पत्ते, ऐसे करें सेवन

लक्ष्मी तरु के पत्ते कैसे हैं कैंसर में सहायक

लक्ष्मी तरु को सिमरूबा भी कहते हैं। ये पेड़ दक्षिण और मध्य अमेरिका में पाया जाता है। वैज्ञानिक शोध में पाया गया है कि इसके तनों में कैंसर रोधी तत्व होते हैं। साथ ये रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में भी फायदेमंद होता है। ये भी माना जाता है कि इसका तना ही नहीं, बल्कि इसके पत्ते भी कैंसर के इलाज में सहायक होते हैं। 

Also Read: Mulethi Benefits: इम्यूनिटी बढ़ाने में ही नहीं, कई समस्याओं को दूर करने में कारगर है मुलेठी, ऐसे करें सेवन

लक्ष्मी तरु पत्तों के फायदे

रिसर्च के मुताबिक, लक्ष्मी तरु के पत्तों से लेकर तना और छाल भी औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं। इसके तेल के अर्क में ओलिक एसिड और फैटी एसिड होता है। वहीं, छाल की बात करें तो इसमें मलेरिया को दूर करने के गुण होते हैं। इतना ही नहीं बुखार, पेट और आंत के रोगों को दूर करने के लिए भी इसकी छाल का उपयोग किया जाता है। इसके अलावा जो लोग कैंसर की समस्या से जूझ रहे हैं, उनके लिए इसके पत्तों को पानी में उबालकर पीना लाभदायक होता है। 

लक्ष्मी तरु के पत्तों का सेवन कैसे करें? 

जिन लोगों की कैंसर जैसी घातक बीमारी है, वो इसके पत्तों को पानी में उबालकर पिएं। इसके लिए एक गिलास पानी में कुछ पत्ते डालकर उबाल लें। अब इस पानी को 5-6 मिनट तक उबालते रहें। फिर इसे हल्का ठंडा करके छानकर पी लें। इससे कैंसर की सेल्स तो कम होते ही हैं, साथ ही इम्यूनिटी भी मजबूत होती है। 

( डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर