बदलते मौसम के साथ बढ़ रही आंखों की एलर्जी, आपको रहना होगा सावधान

Eye allergies and care: बदलते मौसम में आंखों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। इस मौसम में अक्सर आंखों की एलर्जी की समस्या होती है जिसके लिए आपको सावधान रहना होगा।

How to take care of eyes in allergies changing season,आंखों की देखभाल, आंखों की एलर्जी
आंखो में जलन होने पर बार-बार आंखो को मसले नहीं।  |  तस्वीर साभार: BCCL

मुख्य बातें

  • मौसम के कारण अनुपयुक्त एलर्जी के दौरान एक नियंत्रित या वातानुकूलित वातावरण में घर के अंदर रहें।
  • आंखो में जलन होने पर बार-बार आंखो को मसले नहीं।
  • अगर जलन ज्यादा हो तो रात के समय बर्फ से आंखों की सिकाई करें।

नई दिल्ली : मौसम में जिस तरह से परिवर्तन हो रहा है, उसे देखते हुए आंखों की देखभाल करता जरूरी है। क्योंकी, मौसम में बदलाव होने के कारण आंखो की समस्या बढती दिखाई दे रही हैं। मौसम बदलने पर हवा में संक्रमण बढ जाता है औऱ हमारे शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता कम हो जाती है।

इसीलिए किसी भी तरह का संक्रमण हमें आसानी से अपनी गिरफ्त में लेता है। इस कारण आंखो में जलन होना, आंखो से पानी आना, आंख लाल होना, आंखो में खुजली होना, ऐसी तकलिफ होती है। इस कारण आंखों की एलर्जी होने से खुद को सुरक्षित करने के लिए डॉक्टर की सलाह लेना जरूरी है।

मौसम में बदलाव से आंखों में जलन हो सकती है

क्या मौसम में बदलाव के साथ आपकी आँखों में खुजली और जलन होने लगती है? क्या आपकी आंखे लाल होती है? क्या सुबह उठते ही आंखों में जलन महसूस होती है? ऐसी समस्या हो तो बिना किसी देरी के तुरंत एक विशेषज्ञ की सलाह लेनी चाहिए। क्योंकी यह आँखों की एलर्जी के लक्षणं है इनपर तुरंत इलाज किया जाए तो मरीज को जल्दी राहत मिल सकती है।

चिकित्सक के मुताबित प्रदूषण के कारण लोगों के आंखो में जलन, गंभीर एलर्जी और अत्याधिक सुखेपन की समस्या हो सकती है। वहीं आंखो के पपोटे सूजना, आंखो से पानी आना, आंखो में रेत जैसा चुभना, आंखो से धागे की तरह गंदगी निकलना और आंखो को खोलने में दिक्कत आने जैसी स्थिती पैदा हो सकती है। इसके अलावा कॉन्टेक्ट लेंस पहनना, सिगरेट के धुएं के कारण भी आंखो की समस्या हो सकती है।

तेज धूप के कारण भी आंखो की समस्या हो सकती है

तेज धूप के कारण भी आंखो की समस्या होती है। इसलिए इसे अनदेखा न करें। गर्मी के मौसम में एलर्जिक कंजेक्टिवाइटिस का प्रकोप बढ रहा है औऱ इस बिमारी से ग्रस्त मरीजों की संख्या में तेजी से बढ रही हैं। एलर्जिक कंजेक्टिवाइटिस की शुरूआत आंखों में खुजली होने से होती है। इसके बाद आंखें लाल हो जाती है, पलकें सूज जाती हैं और आंखों में सुखापन महसूस होता है। अगर ऐसी समस्याएं हो तो आपको तुरंत आंखों के डॉक्टर को दिखाना चाहिए। शरीर में रोगप्रतिरक्षा प्रणाली की कमी होने के कारण आंखों की समस्या होती है।

 विशेषज्ञ के अनुसार, आंखों की एलर्जी की स्थिती में घास-फूस, धूल-कण आदि हमारी आंखों के संपर्क में आते हैं, तब मासं कोशिकाएं हिस्टामिन नामक रसायन उत्सर्जित करती हैं। जब ऐसा होता है, तब रक्त कोशिकाओं में सूजन आ जाती है और आंखों में खुजली होने तथा आंखों से पानी आने की समस्याएं होने लगती है।

आंखो की समस्या हो तो क्या करना चाहिए-

  • आंखों में खुजली हो तो चेहरा धोना चाहिए। इससे त्वचा एवं आंखों के आसपास रहनेवाले एलर्जन को साफ कर सकते है।
  •  समय-समय पर आंखों पर पानी के छींटे मारे। यह आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। इससे आपकी आंखों में जमे एलर्जन को निकलने में मदद मिलती है।
  •  आंखों के आसपास ठंडा सेक लगाएं। इससे आंखों की खुजली एवं सूजन कम करने में मदद मिलेगी। गीला किया हुआ ठंडा तौलिया आंखों पर रख कर लेट जाएं तथा आंखों में ठंडेपन का असर होने दें। ऐसा करने से सूजन कम होगी।
  •   एलर्जी के कारण खुजली औऱ आंखो में सूजन को ठिक करनेवाले डॉक्टरद्वारा सुझाए गए आई ड्रॉप का ही इस्तेमाल करें।


बदलते मौसम के दौरान आंखों की एलर्जी से बचने के लिए क्या करें-

  1.  आंखो को एलर्जी हो ऐसे चिजों की संपर्क में ना आए। घर और कार्य स्थानों के लिए वेंटिलेशन और प्रकाश व्यवस्था में सुधार करें।
  2.  प्रदुषण औऱ धूल से बचें।
  3.  मौसम के कारण अनुपयुक्त एलर्जी के दौरान एक नियंत्रित या वातानुकूलित वातावरण में घर के अंदर रहें।
  4.  अपने पालतू जानवरों की देखभाल करें। लेकिन उन्हें अपने लिविंग एरिया में मत लाए।
  5.  नियमित रूप से घर के पर्दे, कालिन(कारपेट) औऱ ताकिया कवर को स्वच्छ रखें।
  6.   आंखो में जलन होने पर बार-बार आंखो को मसले नहीं।
  7.  अगर जलन ज्यादा हो तो रात के समय बर्फ से आंखों की सिकाई करें।
  8.   दिन में दोन या तीन बार ठंडे पानी से आंखो को धोए।
  9.   धुम्रपान नहीं करे।
  10.  डॉक्टर की सलाह लिए बिना दवा का सेवन न करें।
  11.  समय-समय पर अपने हाथ धोएं।
  12.  यदि आप कॉन्टेक्ट लेंस पहनते हैं तो उन्हें हटा दें और सोते समय उन्हें न पहनें।
  13.  तकिया कवर और बेडशीट को समय-समय पर साफ करें।
  14. आंखो की तकलीफ जादा हो तो तुरंत चिकित्सक से संपर्क करें।
  15.   आप अपने डॉक्टर द्वारा एलर्जी शॉट या दवा ले सकते हैं।

(डॉ. संजीव तनेजा, वरिष्ठ सलाहकार नेत्र विशेषज्ञ, अपोलो स्पेक्ट्रा अस्पताल, करोलाबाग नई दिल्ली )

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर