Gandhi Jayanti: खुद को फिट रखने के लिये गांधी जी पीते थे रोज बकरी का दूध, जानें इसके जबरदस्त फायदे

हेल्थ
Updated Sep 30, 2019 | 15:29 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

Gandhi Jayanti: बकरी के दूध में विशिष्ट प्रकार के पौष्टिक तत्व पाये जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ एवं फिट रखने में सहायता करते हैं। बकरी के दूध के इन्हीं गुणों के कारण गांधी जी बकरी का दूध पीना पसंद करते थे।

Gandhi Jayanti
Gandhi Jayanti  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • बकरी के दूध में उच्च मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है
  • बकरी के दूध के अलावा इसके दूध से बना दही खाना भी फायदेमंद है
  • बकरी के दूध में उच्च मात्रा में फैटी एसिड होता है। इसे पीने से शरीर में फैट जमा नहीं होता

Goat milk health benefits: दूध में कैल्शियम और प्रोटीन सहित अन्य जरूरी तत्व प्रचुर मात्रा में पाये जाते हैं। इसलिए दूध को संपूर्ण आहार भी माना जाता है। यह हर उम्र के लोगों के शरीर को आवश्यक पोषक तत्व प्रदान करता है और बच्चों के शारीरिक विकास सहित हड्डियों को मजबूत रखने का कार्य करता है।

कहा जाता है कि बकरी के दूध के इन्हीं गुणों के कारण महात्मा गांधी नियमित रूप से दूध का सेवन करते थे। लेकिन आपको यह जानकार हैरानी होगी कि गांधी जी गाय या भैंस नहीं बल्कि बकरी के दूध का सेवन किया करते थे। वास्तव में बकरी के दूध में विशिष्ट प्रकार के पौष्टिक तत्व पाये जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ एवं फिट रखने में सहायता करते हैं। बकरी के दूध के इन्हीं गुणों के कारण गांधी जी बकरी का दूध पीना पसंद करते थे। आइये जानते हैं बकरी का दूध पीने के क्या फायदे हैं।

बकरी का दूध पीने से शरीर को मिलते हैं ये फायदे 

आसानी से पच जाता है
बकरी के दूध में गाय या भैंस के दूध के अलावा कम मात्रा में लैक्टोस पाया जाता है जो आसानी से पच जाता है। इसके अलावा इसमें पाये जाने वाले फैट ग्लोब्यूल्स भी छोटे होते हैं जिसके कारण पेट गड़बड़ नहीं होता है और पाचन ठीक रहता है। बकरी के दूध के अलावा इसके दूध से बना दही खाना भी फायदेमंद है।

त्वचा के लिए फायदेमंद
बकरी के दूध में फैटी एसिड होता है जो त्वचा की अंदर और बाहर दोनों तरह से देखभाल करता है। इसके अलावा यह स्किन को मॉश्चराइज करता है और त्वचा को कोमल बनाता है। बकरी के दूध में उच्च मात्रा में विटामिन ए पाया जाता है जो मुहांसों को दूर करने में मदद करता है। इसके अलावा यह त्वचा का रंग निखारने में भी सहायक होता है।

कैल्शियम और खनिज से भरपूर
गाय के दूध में 28 प्रतिशत कैल्शियम पाया जाता है जबकि बकरी के दूध में 33 प्रतिशत कैल्शियम होता है। इसकी वजह से यह सेहत के लिए अधिक फायदेमंद होता है। कैल्शियम के अलावा बकरी के दूध में आयरन, मैग्निशियम और फॉस्फोरस भी उच्च मात्रा में मौजूद होता है।

सूजन से मुक्ति दिलाए
गाय के दूध में 20 अलग अलग प्रकार के एलर्जेंस मौजूद होते हैं। इसके सेवन से खासतौर से बच्चों को एलर्जी होती है जो उनके वयस्क होने तक बनी रहती है। जबकि बकरी के दूध में कोई एलर्जेंस नहीं होता बल्कि इसमें ए 2 केसीन पाया जाता है जिसका सेवन करने से शरीर में सूजन नहीं होती है।

कोलेस्ट्रॉल घटाता है
बकरी के दूध में उच्च मात्रा में फैटी एसिड होता है। इसे पीने से शरीर में फैट जमा नहीं होता है और अधिक ऊर्जा मिलती है। इसके अलावा यह हृदय रोगों से बचाना है और कोलेस्ट्रॉल को घटाता है।

महात्मा गांधी अपने पूरे जीवन काल में बकरी का दूध ही पीते थे और स्वस्थ एवं फिट रहते थे। विभिन्न पोषक तत्वों से युक्त होने के कारण आज भी बहुत से लोग बकरी के दूध का सेवन करना पसंद करते हैं।

अगली खबर