milk amount per day : ज्‍यादा दूध पीने के होते हैं नुकसान, जानें एक द‍िन में क‍ितना दूध पीना है सही

how much milk is too much : दूध पीने के यूं तो कई फायदे हैं। लेक‍िन ज्‍यादा दूध पीने से आपकी सेहत को नुकसान भी पहुंच सकता है। जानें एक द‍िन में क‍ितना दूध पीना चाह‍िए।

how much milk should to drink in one day ek din mein kitna doodh peena sahi hai
how much milk is too much, एक द‍िन में क‍ितना दूध पीना चाह‍िए  

मुख्य बातें

  • दूध में कई पोषक तत्‍व होते हैं
  • लेक‍िन दूध एक मात्रा में ही रोजाना पीना चाह‍िए
  • भारी होने की वजह से दूध को पचने में टाइम लगता है

दूध हमारे ल‍िए कैल्शियम, खनिज, विटामिन बी 12, विटामिन डी, प्रोटीन, अच्छा वसा, पोटेशियम और यहां तक ​​कि फास्फोरस का एक समृद्ध स्रोत है। बच्चों से लेकर बड़ों तक, यह सलाह दी जाती है कि सभी को किसी न किसी रूप में दूध पीना चाहिए। कई शोध इस तथ्य का भी समर्थन करते हैं कि दूध वजन घटाने में भी सहायक होता है, मजबूत हड्डियों का निर्माण करने में मदद कर सकता है और आपकी इम्यूनिटी को भी मजबूत कर सकता है।

इतने अधिक अच्छे गुणों के बावजूद दूध आपके लिए हानिकारक भी हो सकता है। क्या आप जानते हैं कि बहुत अधिक दूध वास्तव में स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है?

बचपन से ही, हमें यह मानने के लिए मजबूर किया जाता है कि दूध आपके लिए सबसे फायदेमंद पेय है। हालांकि, किसी भी चीज का अत्याधिक प्रयोग हानिकारक ही होता है, वही हाल दूध के साथ भी है। कुछ शोध इस दावे को मजबूत करते हैं कि अधिक दूध पीने से आप को स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के साथ-साथ कैंसर के कुछ रूपों के विकास का खतरा भी हो सकता है।

68.4% milk in India is adulterated, finds survey! - Times of India

जानें अधिक दूध पीने से आपको किन-किन समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है - 

  1. पाचन संबंधी समस्या : दूध पीने से आपका पेट भर जाता है हालांकि कई बार ज्यादा दूध पी लेने से आपको पेट फुला-फुला महसूस होगा अंदर से मिचली और बेचैनी महसूस हो सकती है। दूध हैवी होता है इसलिए इसे पचाने में भी अधिक समय लगता है। ज्यादा दूध आपके शरीर में कुछ ऐसे एंजाइमों को छोड़ सकता है जो आपको आंत संबंधी परेशानियां भी दे सकते हैं।
  2. शरीर को सुस्त कर देता है : मानो या न मानो, यदि आपके शरीर को दूध सूट नहीं करता तो इसके परिणामस्वरूप आपको 'लीकी-गट' सिंड्रोम हो सकता है जो थकान और सुस्ती के लक्षणों से जुड़ा हुआ है। ए 1 कैसिइन, दूध में पाया जाता है जो कभी-कभी आंत में सूजन के साथ-साथ बैक्टीरिया को बढ़ावा दे सकता है। इसीलिए बहुत सारे लोग जो दूध की एलर्जी से पीड़ित हैं, उन्हें ए 2 मिल्क वेरिएंट आज़माने की सलाह दी जाती है।
  3. त्वचा पर ब्रेकआउट : दूध की अधिकता से आपके चेहरे या आपकी त्वचा के अन्य हिस्सों पर भी एलर्जी और ब्रेकआउट हो सकता है। यदि आपके शरीर पर अक्सर लाल मुहांसे स्पॉट या चकत्ते होते हैं तो यह आपके लिए संकेत है कि आपको अपने खाने पीने की चीजों का चयन सोच कर करना चाहिए। आहार की जांच करने का समय हो सकता है। त्वचा पर ब्रेकआउट की समस्या पुरुषों की तुलना में महिलाओं में अधिक देखी जाती है।
  4. हड्डियों को कमजोर और पतला करता है : दूध मजबूत हड्डियों के निर्माण के लिए अच्छा है- ऐसा आमतौर पर माना जाता है। हालांकि आवश्यक मात्रा से अधिक दूध पीना कभी भी अच्छा नहीं हो सकता। 2014 के बीएमजे अध्ययन में इस बात के प्रमाण मिले कि जिन पुरुषों ने बहुत कम दूध पिया था, उन्हें हड्डियों के टूटने या उन महिलाओं की सूजन से पीड़ित होने की संभावना कम थी, उनकी अपेक्षा जो पुरुष या महिलाएं अधिक दूध पी रही थीं।
  5. मस्तिष्क संबंधी समस्याएं उत्पन्न कर सकता है : बहुत अधिक मात्रा में दूध पीने से आपको मस्तिष्क संबंधी समस्याओं का भी सामना करना पड़ सकता है जिनमें याददाश्त कमजोर होना एकाग्रता की कमी आना या चीजों को बार-बार भूल जाना इस तरह की तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
  6. हृदय के लिए भी हानिकारक साबित हो सकता है : हालांकि इस दावे को पूरी तरह से सत्यापित किया जाना बाकी है, लेकिन बीएमजे द्वारा किए गए एक छोटे से अध्ययन में पाया गया कि जो लोग एक दिन में तीन लाख से ज्यादा दूध पीते थे उन पुरुषों के हृदय में कुछ समस्याएं देखी गई। वही ज्यादा दूध पीने से महिलाओं में कैंसर होने की संभावनाओं को बढ़ा हुआ महसूस किया गया।

Can't have cow's milk? Try these alternate options - Times of India

एक दिन में कितना दूध पीना चाहिए (Right amount of Milk to drink daily)
हमने आपको ज्यादा दूध पीने से होने वाली सभी समस्याओं के बारे में लगभग बता ही दिया है। अब हम आपको बताएंगे एक दिन में आपको कितना दूध पीना चाहिए, जानकारों के अनुसार आपको एक दिन में एक से दो ग्लास ही दूध पीना चाहिए। आप दूध को पनीर, मट्ठा, दही इत्यादि के रूप में भी ले सकते हैं।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर