कवारंटाइन पीरियड में खाएं दही, इंफेक्शन से ही नहीं कई अन्य बीमारियों से बचाएगी दही

हेल्थ
Updated Mar 27, 2020 | 07:21 IST | Ritu Singh

Quarantine diet : देश भर में लोग क्वारंटाइन पीरियड में हैं और इस समय साफ-सफाई के साथ ही डाइट भी ऐसी होनी चाहिए जो आपकी इम्युनिटी को बढ़ाने के साथ अन्य रोगों से आपकी रक्षा करें।

Eating curd during quarantine period has many benefits, क्वारंटाइन पीरियड में रोज दही खाने के जानें फायदे
Eating curd during quarantine period has many benefits, क्वारंटाइन पीरियड में रोज दही खाने के जानें फायदे 

मुख्य बातें

  • दही रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाती है
  • वेट ही नहीं बीपी भी कम करने में सहायक है
  • हड्डियों की मजबूती में दही बहुत कारगर है

क्वारंटाइन पीरियड में सेहत को बेहतर बनाए रखना होगा। साथ ही इस समय ऐसी डाइट हमें लेनी होगी जो वेट भी कंट्रोल में रखे और प्रतिरक्षा प्रणाली को भी मजबूत बनाए। दही एक ऐसी ही चीज है जो दोनों ही काम करती है। दही कई रोगों का इलाज भी है। इसलिए क्वारंटाइन पीरियड में आप रोज अपनी डाइट में 300 ग्राम दही जरूर शामिल करें। दही में कैल्शियम और प्रोटीन दोनों ही उच्च होता है और इम्युनिटी के लिए इसमें मौजूद प्रोबॉयोटिक बैक्टिरया भी बहुत काम आएंगे। पेट से लेकर बीपी और हड्डियों सब के लिए दही कारगर है। तो आइए जानें की दही खाने के क्या-क्या फायदे हैं।

यीस्ट इंफेक्शन से बचाव

दही का सेवन यीस्ट इंफेक्शन से बचाव में बहुत कारगर है। साथ ही ये इम्युनिटी को भी बढ़ाता है इससे अन्य तरह के संक्रमण से भी बचा  जा सकता है। अपनी डाइट में आपको क्वारंटाइन समय में कम से कम एक कटोरी दही रोज खाना चाहिए।

हड्डियों के लिए अच्छी है

एक कटोरी दही में 300 ग्राम कैल्शियम पाया जाता है। इसलिए यदि आपको क्वारंटाइम टाइम में घर में धूप नहीं मिल पा रही तो आप दही का सेवन जरूर करें। ये आपकी कमजोर हड्डियों को मजबूत बनाएगी। इससे आपकी बोन डेंसिटी बेहतर होगी। साथ ही जिन बुजुर्गों को ऑस्टियोपोरोसिस का खतरा है, उनके लिए लंच के बाद रोजाना एक कप दही खाना जरूरी है।

वेट भी रहेगा मैनेज

दही का सेवन आपके वेट को भी मैनेज करेगा। लो फैट मिल्क से बना दही आप रोज अपने डाइट में शामिल करें। चाहे तो इसमें सूरजमूखी, कद्दू या अलसी का बीज भी मिला लें। ये आपके वेट को कम करने में दोगुनी तेजी से काम करेगा। साथ ही ये भूख को भी निंयत्रित करेगा और शरीर में ओमेगा थ्री फैटी एसिड की कमी भी पूरी करेगा। घर में बैठ कर इन दिनों काम ज्यादा नहीं है, इसलिए वेट बढ़ा सकता है।

मसल्स के लिए अच्छी

दही एमिनो एसिड से भी भरा होता और ये मांसपेशियों की मरम्मत में मदद करता है। दही के साथ एक गिलास पानी लेने से ये आंतों की गंदगी साफ कर उसे सक्रिय बनाता है।

ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करती है

उच्च रक्तचाप और गुर्दे की बीमारी दही में मौजूद पोटेशियम बहुत काम आता है। ये शरीर से सोडियम की अधिकता को दूर करने में मदद करता है।

प्रतिरक्षा बढ़ाती है

दही में मौजूद प्रोबायोटिक्स आपकी प्रतिरक्षा के निर्माण पर काम करता है और विभिन्न बीमारियों के के कारण को खत्म करता है। प्रोबायोटिक्स बैक्टिरियां आंतों की बीमारी में भी बहुत फायदेमंद होते हैं।

तो क्वारंटाइन टाइम में सेनेटाइजेशन के साथ अपनी डाइट पर भी फोकस करें ताकि इम्युनिटी आपकी मजबूत रहे।

अगली खबर
loadingLoading...
loadingLoading...
loadingLoading...