Nail Fungus: नाखूनों में फंगल इन्फेक्शन को न करें इग्नोर, हो सकता है गंभीर रोग, जानिए कारण और उपचार

Nail Fungus Remedies: अक्सर नाखूनों में पीलापन व दरारें पड़ने लगती हैं। यह नेल फंगल की वजह से होता है। नाखूनों में कई कारण से नेल फंगल हो जाता है, जिसका विशेष ध्यान देना चाहिए। इसका सही समय पर उपचार बेहद जरूरी है वरना यह कई और रोगों को जन्म देता है।

Fungal Nail
Nail Fungus treatment  |  तस्वीर साभार: Instagram
मुख्य बातें
  • नाखून व्यक्ति की खूबसूरती को और बढ़ाता है
  • हाथ पैरों के नाखून सिर्फ सुंदरता ही नहीं बढ़ाते बल्कि यह शरीर के स्वास्थ्य के व अस्वास्थ्य होने के बारे में जानकारी देते हैं
  • हाथ पैरों में चार चांद लगाने वाले नाखून कई बार फंगस का शिकार हो जाते हैं, जो दिखने में काफी खराब लगते हैं

Fungal Nail Infection: सुंदर और चमकदार नाखून हर कोई पाना चाहता है। नाखून व्यक्ति की खूबसूरती को और बढ़ाता है। हाथ पैरों के नाखून सिर्फ सुंदरता ही नहीं बढ़ाते बल्कि यह शरीर के स्वास्थ्य के व अस्वास्थ्य होने के बारे में जानकारी देते हैं। हाथ पैरों में चार चांद लगाने वाले नाखून कई बार फंगस का शिकार हो जाते हैं, जो दिखने में काफी खराब लगते हैं। हाथ पैरों के फंगस शरीर में भी कई बीमारियां पैदा करते हैं। यह फंगस फंगल इनफेक्शन की वजह से होता है। इन फंगल इन्फेक्शन का अगर तुरंत इलाज न किया जाए तो यह शरीर में कई और रोग पैदा कर देते हैं। आइए जानते हैं नाखूनों में फंगस क्यों लग जाता है और इसके होने के कारण व उपचार के बारे में..

Also Read-  Benefits of Tulsi: तेज बुखार उतारने में कारगर हैं तुलसी सहित ये आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां, जानिए सेवन का तरीका

क्या है नेल फंगल इन्फेक्शन
नेल फंगल नाखुनों का इन्फेक्शन है, जो हाथ पैरो की उंगलियों के नाखुन में होता है। इस इन्फेक्शन के कारण आपके नाखून रंगहीन व मोटे हो जाते हैं और उनमें दरार भी पड़ जाती हैं। ये दिखने में भी काफी खराब लगते हैं। यह फंगल उंगलियों के नाखून से ज्यादा अंगूठे के नाखून में देखा जाता है। इस संक्रमण को ऑनिओमाइकोसिस के नाम से जाना जाता है।

नेल फंगस के कारण
नेल फंगस होने के कई कारण हैं। कई बार पैरों में ब्लड सरकुलेशन कम होना भी फंगल इन्फेक्शन का कारण होता है। कई बार पैरों और नाखूनों में गंदगी जमा होने से भी फंगल इंफेक्शन हो जाता है। व कई बार जरूरत से ज्यादा पसीना आने पर भी नेल फंगस का खतरा रहता है। इसके अलावा कई बार बढ़ती उम्र के साथ नेल फंगस की समस्या हो जाती है।

Also Read- Benefits of dancing: हर दिन 30 मिनट करें डांस और इन बीमारियों को कहें 'गुडबाय', तेजी से घटेगा मोटापा

नेल फंगस के उपाय
नेल फंगस से बचने के लिए नियमित रूप से हाथ पैरों को ठीक से धोएं। नाखून को हमेशा छोटा और साफ रखें। अगर आप मोजे पहनते हैं तो ऐसे मोजे का इस्तेमाल करें जो साफ हो और जिस से पसीना नहीं आता हो। अगर आपको नेल फंगस की समस्या है तो उस समय जूते न पहने, न ही नेल पेंट व आर्टिफिशियल नाखून का इस्तेमाल करें। अपने हाथ पैरों को हफ्ते में तीन बार गर्म पानी में नमक डालकर जरूर साफ करें।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए हैं और इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रूप में नहीं लिया जा सकता। किसी भी तरह का फिटनेस प्रोग्राम शुरू करने अथवा अपनी डाइट में किसी तरह का बदलाव करने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श जरूर लें।)

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर