Delta Plus Variant भारत में दे रहा दस्तक, कितना है घातक, क्या हैं लक्षण कैसे बचें इससे? 

हेल्थ
रवि वैश्य
Updated Jun 24, 2021 | 06:45 IST

Delta Plus variant in India:कोरोना वायरस के घातक बताए जा रहे  'डेल्टा प्लस वैरिएंट'  की आमद  भारत में हो चुकी है और इसके 22 केसों का पता चला है, सरकार इसको लेकर सचेत हो गई है, ये कितना घातक है जानें ये सब...

Delta Plus variant How much dangerous it is Will the third wave come because of
कोरोना का 'डेल्टा प्लस वैरिएंट' खासा घातक बताया जा रहा है (प्रतीकात्मक फोटो) 

कोरोना की दूसरी लहर (Corona Wave) के कहर बरपाने के बाद कोरोना के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस ने दस्तक दे दी है, सरकार ने कहा है कि भारत में अब तक कोरोना वायरस के 'डेल्टा प्लस वैरिएंट' (Delta Plus variant) के 22 मामलों का पता चला है। डेल्टा प्लस वैरिएंट के इन केसों में महाराष्ट्र के रत्नागिरि, जलगांव से 16 और मध्य प्रदेश तथा केरल से शेष मामले सामने आए हैं। स्वास्थ्य महकमे ने  इसे वेरिएंट ऑफ कंसर्न (variant of concern) बताया है।

सरकार ने बताया है कि INSACOG के ताजा निष्कर्षों के आधार पर  महाराष्ट्र, केरल और मध्य प्रदेश को डेल्टा प्लस वेरिएंट के बारे में सतर्क किया है और उन्हें सलाह दी है।

स्वास्थ्य विभाग ने कहा कि कि किसी भी स्वरूप के प्रसार और गंभीरता से यह तय होता है कि यह चिंताजनक स्वरूप है या नहीं। डेल्टा संस्करण भारत सहित दुनिया भर के 80 देशों में पाया गया है और यह चिंता की बात है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया के बारे में एक परामर्श जारी किया है कि महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश और केरल को इस मुद्दे को हल करने के लिए पहल करनी चाहिए। 

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
Mirror Now
Live TV
अगली खबर