Low BP Control: लो बीपी के लिए अचूक हैं ये घरेलू नुस्खे, घर बैठे करें कंट्रोल

हेल्थ
Updated Dec 22, 2019 | 07:13 IST | टाइम्स नाउ डिजिटल

बिगड़ती जीवनशैली (Lifestyle) तमाम रोग का कारण होती है। डायबिटीज, कोलेस्ट्रॉल और बीपी से जुड़ी समस्याएं खराब जीवनशैली का परिणाम हैं। लो बीपी (Low Bp)भी इनमें से एक है, जिसे कुछ टिप्स से कंट्रोल किया जा सकता है।

Low BP
Low BP 

मुख्य बातें

  • बीपी कम होते ही मुठ्ठी को खोलना-बंद करना शुरू कर दें।
  • यदि बार-बार चक्कर फील होता हो तो आंवले का रस पीएं।
  • लो बीपी महसूस होने पर अपने पैरों को हिलाना शुरू कर दें।

नई दिल्ली. भागदौड़ और तनाव भरी जिंदगी कई बीमारियों का कारण होती हैं। ये बीमारियां अचानक से कब जानलेवा बन जाती हैं, इसका पता नहीं चल पाता। लो ब्लडप्रेशर भी ऐसी ही बेहद  गंभीर बीमारी हैं। 

यदि आपको लगता है कि हाई बीपी होना ही खतरे का कारण होता है तो यह सही नहीं। लो बीपी भी जानलेवा साबित हो सकती है, लेकिन कुछ नुस्खे ऐसे हैं जिन्हें आप डेली रुटीन में शामिल करें।  इन छोटे लेकिन महत्वपूर्ण उपाय से आप आसानी से लो बीपी की समस्या को दूर कर सकते हैं। 

 लो ब्लड प्रेशर में भी हाई ब्लड प्रेशर की तरह ही लगभग लक्षण नजर आते हैं। यदि आपको बार बार अचानक से चक्कर आता है, आंखों के सामने अंधेरा छाता है, हाथ-पैर ठंडे हो जाते हों, बेहोशी या लेटने, खड़े होने और बैठने पर बार बार समस्या नजर आए तो आपको समझ लेना चाहिए कि आपको लो बीपी की समस्या हो रही है। 

 लो-बीपी में कारगर हैं दस उपाय 
 किशमिश का प्रयोग करें 

यदि आपको लो बीपी की समस्या रहती हो तो आप एक कांच के बर्तन में 50 ग्राम चना और 10 ग्राम किशमिश को रात भर के लिए भिगो दें और सुबह इसे चबा-चबा कर रोज खाएं। ये आपके बीपी को कंट्रोल करेगा।  यदि आपको अचानक से चक्कर आने लगे या बेहोशी फील हो तो नमक का पानी पींए। 

मुठ्ठी बांधे और खोलें 
जब भी आपको ये फील होने लगे की आपका बीपी लो हो रहा है तो आपको अपनी मुट्ठी को बांधते और खोलते रहना चाहिए। ये एक्सरसाइज आपके बीपी को कंट्रोल करेगा। यदि आपको लो बीपी फील हो तो आप अपने पैरों को कुछ देर तक हिलाते रहें । इससे आपका ब्लड सर्कुलेशन तेज होगा और बीपी सामान्य। 

दालचीनी का पाउडर लें 
दालचीनी का पाउडर रोज गर्म पानी से लेना शुरू कर दें। सुबह-शाम लेने से आपका बीपी कंट्रोल रहेगा। लो ब्लडप्रेशर में कई बार लोगों को बार बार चक्कर आता रहता है। ऐसी स्थिति में आंवले के रस को शहद के साथ पीना शुरू कर दें। तुरंत आराम मिलेगा। आंवले का मुरब्बा भी फायदेमंद होता है। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर