कोविड-19 में कारगर दवा Remdesivir को भारत में इस नाम से उतारने का ऐलान

हेल्थ
आईएएनएस
Updated Jun 22, 2020 | 10:08 IST

Remdisivir by Cipla: दवाई निर्माता कंपनी सिप्ला ने ऐलान किया है कि कोरोना वायरस से लड़ाई में कारगर साबित हुई दवा रेमडेसिविर को भारत में वो किस नए नाम से उतारने जा रही है।

Covid-19 Remdesivir to be launched in India with name Cipremi
Covid-19 Remdesivir to be launched, भारत में नए नाम से लॉन्च होगी रेमडेसिविर  |  तस्वीर साभार: Representative Image
मुख्य बातें
  • कोरोना वायरस से भारत की जंग
  • कोविड-19 से लड़ाई में कारगर साबित हुई रेमडेसिविर दवाई को लॉन्च करने की तैयारी
  • सिप्ला ने भारत में रेमडेसिविर को नए नाम से उतारने का ऐलान किया

मुंबई: दवा निर्माता सिप्ला लिमिटेड ने रविवार को प्रायोगिक एंडी-वायरल दवा रेमडेसिवीर को अपने ब्रांड नेम, सिप्रेमी के तहत लॉन्च करने की घोषणा की। रेमडेसिवीर कोविड-19 संक्रमण के संदिग्ध या प्रयोगशाला में पुष्टि होने के बाद अस्पताल में भर्ती वयस्क या अवयस्क मरीजों के लिए अमेरिकी एफडीए से स्वीकृत एकमात्र इमर्जेंसी यूज अथराइजेशन (ईयूए) इलाज है।

अमेरिकी दवा निर्माता गिलीड साइंसेस ने मई में सिप्ला को रेमडिसवीर के सिप्ला के जेनेरिक संस्करण सिप्रेमी के विनिर्माण और विपणन के लिए एक स्वैच्छिक नॉन-एक्सक्लूसिव लाइसेंस दिए थे। कंपनी ने एक बयान में कहा कि ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (डीसीजीआई) ने आवश्यक चिकित्सा जरूरत पर विचार करते हुए संवर्धित स्वीकृति प्रक्रिया के हिस्से के रूप में देश में सीमित इमर्जेसी इस्तेमाल के लिए सिप्ला को नियामकीय मंजूरी दे दी है।

एक जोखिम प्रबंधन योजना के हिस्से के रूप में सिप्ला इस दवा के इस्तेमाल पर प्रशिक्षण मुहैया कराएगी, मरीज के सहमति दस्तावेज के बारे में सूचित करेगी, पोस्ट मार्केटिंग सर्विलांस कराएगी और साथ ही भारतीय मरीजों पर एक चौथे चरण का क्लीनिकल ट्रायल कराएगी।

'भारतीय जिंदगियों को बचाने की तरफ कदम'

सिप्ला के प्रबंध निदेशक और वैश्विक सीईओ, उमंग वोहरा ने कहा, सिप्ला भारत में मरीजों के लिए रेमडेसिवीर को लाने के लिए गिलीड के साथ मजबूत साझेदारी की सराहना करती है। हमने कोविड-19 महामारी से प्रभावित लाखों जिंदगियों को बचाने के सभी संभावित उपायों को तलाशने में गंभीर रूप से निवेश किया है, और यह लॉन्च इस दिशा में एक महत्वपूर्ण मील का पत्थर है।

रिकवरी की रफ्तार इस दवा से तेज हुई

एसीटीटी-1 (एडेप्टिव कोविड-19 ट्रीटमेंट ट्रायल 1) अध्ययन के अनुसार, अमेरिका, यूरोप और एशिया में 60 से अधिक केंद्रों पर 1,063 मरीजों पर रेमडिसिवीर के एक रैंडम क्लिनिकल ट्रायल से पता चला है कि इस दवा से अस्पताल में भर्ती मरीजों की क्लिनकल रिकवरी की रफ्तार प्लैसिबो की तुलना में तेज है।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर