Bajra Health Benefits: कैंसर रोधी गुणों से है भरपूर, जानिए बाजरा के फायदे और नुकसान

Health Benefits And Side Effects of Bajra: बाजरा से बने पौष्टिक आहार ना केवल खाने में ही स्वादिष्ट होता है बल्कि इसके औषधीय गुण दर्दनिवारक और पेट संबंधी बीमारियों से निजात दिलाने में मदद करते हैं...

Health Benefits And Side Effects Of Bajra In Hindi
बाजरा के फायदे, Bajra Benefits  

मुख्य बातें

  • बाजरा कैंसर रोधी गुणों से भरपूर होता है, यह कैंसर कोशिकाओं को शरीर में फैलने से रोकता है।
  • मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर बाजरा हार्ट अटैक की संभावना को करता है कम।
  • थायराइड और पथरी से ग्रस्त लोग भूलकर भी ना करें बाजरे का सेवन।

पौष्टिक तत्वों से भरपूर बाजरा स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है। बाजरे में गेहूं और चावल से कई गुना अधिक पौष्टिकता की मात्रा पाई जाती है। बाजरे का सेवन ना केवल खाने के लिए किया जाता है बल्कि आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल औषधि के रूप में भी किया जाता है। बाजरा से बने पौष्टिक आहार ना केवल खाने में ही स्वादिष्ट होते हैं बल्कि इसके औषधीय गुण खाने की इच्छा बढ़ाने के साथ दर्दनिवारक और पेट संबंधी बीमारियों से निजात दिलाने और इनके संक्रमण से दूर रखने में भी मदद करता है। लेकिन कुछ लोगों के लिए इसका सेवन नुकसानदायक भी सिद्ध हो सकता है। ऐसे में आइए जानते हैं बाजरा खाने के फायदे और नुकसान।

  • बाजरा खाने के फायदे

बाजरा पाचनतंत्र को दुरुस्त रखने में मदद करता है। ऐसे में यदि आप गैस, कब्ज, उल्टी, दस्त की समस्या से ग्रसित रहते हैं तो नियमित तौर पर बाजरे की रोटी का सेवन करें। तथा पेट दर्द में बाजरा रामबांण सिद्ध होता है। इसके लिए पेट दर्द होने पर बाजरे की पोटली बनाकर उसे गर्म करके पेट की सिकाई करें। इससे पेट दर्द मिनटों में गायब हो जाएगा।

  • मिर्गी के इलाज में फायदेमंद

मिर्गी एक बहुत ही खतरनाक बीमारी है इससे निपटने के लिए बाजरे का सेवन आपके लिए लाभकारी हो सकता है। इसके लिए एक कटोरी दही में एक से दो चम्मच चीनी डालकर बाजरे की रोटी के साथ नियमित तौर पर इसका सेवन करें। एक से दो महीने लगातार इसका सेवन करने से आप बहुत जल्द इस समस्या से निपट सकते हैं। 

  • गठिया रोगियों के लिए लाभकारी

बाजरा गठिया के मरीजों के लिए रामबांण सिद्ध होता है। आपको बता दें बाजरे की तासीर गर्म होती हैं, ऐसे में यदि आप जोड़े में दर्द, घुटने में दर्द, पीठ में दर्द यानि गठिया की समस्या से ग्रसित रहते हैं, तो नियमित तौर पर बाजरे से बने पौष्टिक आहार का सेवन करें।

  • कैंसर रोधी गुणों से भरपूर

बाजरा कैंसर रोधी गुणों से भरपूर होता है। यह कैंसर कोशिकाओं को शरीर में फैलने से रोकता है, इसके नियमित सेवन से आप इस भयावह बीमारी से बच सकते हैं। तथा कैंसर के मरीजों के लिए इसका नियमित सेवन लाभकारी सिद्ध हो सकता है। ऐसे में नियमित तौर पर बाजरे को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करें।

  • आयरन से भरपूर

आयरन से भरपूर बाजरा स्वास्थ्य के लिए बेहद फायदेमंद होता है, इससे शरीर में आयरन की कमी नहीं होती हैं। ऐसे में जो लोग एनीमिया की समस्या से ग्रस्त हैं उन्हें नियमित तौर पर बाजरे का सेवन करना चाहिए। यह आपके शरीर में हीमोग्लोबिन का निर्माण तेजी से करता है और शरीर में प्लेटलेट्स सामान्य रहता है।

  • दिल के स्वास्थ्य के लिए लाभकारी

मैग्नीशियम और पोटेशियम से भरपूर बाजरा दिल संबंधी बीमारियों से निजात दिलाने औऱ इनके संक्रमण से दूर रखने में कारगार होता है। इसका नियमित सेवन हार्ट अटैक की संभावना को कम करता है और आपके दिल संबंधी स्वास्थ्य के लिए लाभकारी होता है।

  • ब्लड शुगर को करता है नियंत्रित

बाजरा ब्लड शुगर के मरीजों के लिए बेहद फायदेमंद होता है। यह ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में मदद करता है तथा शुगर टाइप 2 रोगियों के लिए रामबांण सिद्ध होता है। आपको बता दें बाजरे में मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो शरीर में ग्लूकोज और इंसुलिन रिसेप्टर की क्षमता बढ़ाने में कारगार होता है।

  • वजन कम करने में कारगार

फाइबर से भरपूर बाजरा वजन कम करने में कारगार होता है। इसे खाने के बाद आप लंबे समय तक पेट भरा हुआ महसूस कर सकते हैं। ऐसे में यदि आप वजन कम करना चाहते हैं तो नियमित तौर पर अपनी डाइट में बाजरे को अवश्य शामिल करें।

  • बाजरे के नुकसान

आपको बता दें बाजरे की तासीर गर्म होती है इसलिए अधिक मात्रा में इसका सेवन स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक सिद्ध हो सकता है। ऐसे में आइए जानते हैं स्वास्थ्य संबंधी बाजरे के सेवन के नुकसानदायक परिणाम।

  • थायराइस से पीड़ित लोग भूलकर भी ना करें इसका सेवन

थायराइड के मरीजों को भूलकर भी बाजरे का सेवन नहीं करना चाहिए। आपको बता दें बाजरे में गाइटेरोजेनिक पदार्थ पाया जाता है, जो आयोडीन के अवशोषण को रोकता है। जिससे घेंघा और थायराइड की बीमारी की संभावना बढ़ जाती है और यह थायराइड के मरीजों को और भी जोखिम में डाल सकता है। इसलिए थायराइड से ग्रस्त मरीजों को बाजरे के सेवन से पहले एक बार डॉक्टर की सलाह अवश्य लेनी चाहिए।

  • पथरी की समस्या 

गुर्दे या किडनी में पथरी की समस्या से ग्रस्त व्यक्तियों को भूलकर भी बाजरे का सेवन नहीं करना चाहिए। तथा अधिक मात्रा में बाजरे का सेवन करने से पथरी की समस्या होने की संभावना बढ़ जाती है।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर