Amla ke fayde : आंवला देगा एयर पलूशन से सुरक्षा, जानें अध‍िक फायदे के ल‍िए कब और कैसे करना चाह‍िए सेवन

Amla kab or kaise khayein : बढ़ती ठंड के साथ एयर पॉल्यूशन भी धीरे-धीरे बढ़ता जा रहा है। ऐसे में यह जरूरी है कि हम अपने और अपने परिवार के हेल्थ का ध्यान अच्छे से रखें। इसके ल‍िए जरूरी है आंवले का सेवन।

Amla benefits in hindi how and when to take to stay healthy in air pollution
Amla benefits in hindi 

मुख्य बातें

  • आंवले में प्रचुर मात्रा में व‍िटामिन सी होता है जो इम्‍यून स‍िस्‍टम को दुरुस्‍त रखता है
  • द‍िल के स्‍वास्‍थ्‍य के ल‍िए भी आंवले का सेवन जरूरी है
  • ठंड के मौसम में फ्रेश आंवला खाना सबसे ज्‍याद अच्‍छा माना जाता है

ठंड के मौसम में अपने इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए आंवला सबसे फायदेमंद फल है। आंवला एक खट्टा फल है जो हमारे इम्यून हेल्थ को बढ़ाता है। साथ में एयर पॉल्यूशन से होने वाले कठिनाइयों को दूर करता है। यूं तो बाजारों में आंवला के कई प्रोडक्ट शामिल है जिसमें आमला जूस, आचार और कैंडीज आते हैं। लेकिन ठंड के समय में फ्रेश आंवला खाना फायदेमंद होता है। 

आंवले को सही समय, सही तरीके से और सही क्वांटिटी में लेना बहुत आवश्यक है। इसीलिए इस लेख को पढ़िए और आंवला के गुणवत्ता के साथ इसको सेवन करने का सही समय, सही तरीका और सही क्वांटिटी जानिए। 

आंवले की गुणवत्ता (Qualities of Amla)
ठंड का मौसम सिर्फ कोल्ड और फ्लू जैसी परेशानियों को ही नहीं लाता है। इस मौसम में हार्ट अटैक, हाई ब्लड प्रेशर और रेस्पिरेट्री प्रॉब्लम्स भी बढ़ जाती है। ऐसा एयर पॉल्यूशन की वजह से भी होता है जो ठंड के मौसम में अत्यधिक होती है। इसलिए इन सभी प्रॉब्लम्स से बचने के लिए आंवला खाना आवश्यक है। आंवले के अंदर एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-इन्फ्लेमेटरी प्रॉपर्टीज होती है जो हमारे दिल के स्वास्थ्य को बेहतर करता है, हमारा ब्लड प्रेशर लेवल नियमित रखता है और हमारे फेफड़ों को किसी भी तरह की परेशानियों से बचाता है।‌ 

आंवला में विटामिन सी अधिक मात्रा में मौजूद होता है जिससे हमारा इम्यून सिस्टम मजबूत होता है और विटामिन सी के वजह से सेल्यूलर डैमेज कम होता है। सेल्यूलर डैमेज कम होने की वजह से नेचुरल एजिंग का प्रोसेस भी धीमे होने लगता है। 

सबसे महत्वपूर्ण, आंवला के वजह से हमारा फेफड़ा और बाकी रेस्पिरेट्री ट्रैक्ट भी हेल्दी रहता है। विटामिन सी की मौजूदगी की वजह से यह हमारे शरीर को एयर पॉल्यूशन से होने वाली बीमारियों से दूर रखता है। 

आंवला खाने का सही समय और सही तरीका (how and when to take amla)
आंवला कैंडी या जूस पीने से अच्छा है कि आप ठंड के मौसम में फ्रेश आंवला खाएं। बाकी साल आप कैंडीज, आंवला का अचार और आंवला जूस का सेवन कर सकते हैं लेकिन ठंड में फ्रेश आंवला खाना बहुत हेल्दी होता है। हर सुबह खाली पेट एक या दो आंवला खाने से इसका लाभ ज्यादा मिलता है। ‌लेकिन याद रहे कि आंवला को दो से ज्यादा नहीं खाना चाहिए क्योंकि इसके अंदर मौजूद विटामिन सी कॉन्स्टिपेशन को बुलावा दे सकता है। आंवला खाने के साथ अपने आप को पूरा दिन हाइड्रेटेड रखना भी इंपोर्टेंट है। 

और किन तरीकों से आप आंवला खा सकते हैं (how to eat amla , amla ka sewan kaise karein)
आंवला बहुत खट्टा होता है और कुछ लोगों को इसे कच्चा खाने में प्रॉब्लम होती है। अगर आप भी उनमें से एक हैं तो आप आंवले को काटकर उसके ऊपर नमक और लाल मिर्च पाउडर छिड़क कर खा सकते हैं। इसके साथ आप आंवला को नमक और हल्दी के जड़ के साथ उबाल कर भी खा सकते हैं। आंवला खाने का तीसरा तरीका है आंवला की चटनी। ‌

कब आंवले का सेवन है हानिकारक (amla ke nuksan, amla for pregnant ladies)
आंवला बहुत ही गुणकारी फल है लेकिन कुछ सिचुएशन्स में हमें आंवला नहीं खाना चाहिए। अगर आप खून को पतला करने की दवाइयां खाते हैं या आप कोई सर्जरी कराने जा रहे हैं तो इस समय आपको‌ आंवला खाने के लिए अपने डॉक्टर से जरूर पूछना चाहिए। गर्भवती, स्तन पिलाने वाली और गर्भधारण करने की तैयारी करने वाले महिलाओं को आंवला नहीं खाना चाहिए। 

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर