Blood Sugar: ब्लड शुगर लेवल कम करना है तो खाएं ये 5 चीजें, डायबिटीज का खतरा होगा कम

Blood Sugar Level: जब बॉडी में ब्लड शुगर लेवल की मात्रा बढ़ जाती है तो डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। जानिए ब्लड शुगर लेवल कम करने के लिए डाइट में क्या करें शामिल।

blood sugar level
ब्लड शुगर लेवल (Source: Pixabay) 

मुख्य बातें

  • डायबिटीज के मरीजों को अपने खान-पान पर विशेष रुप से ध्यान देना चाहिए
  • बॉडी में ब्लड शुगर लेवल की मात्रा बढ़ जाती है तो डायबिटीज जैसी खतरनाक बीमारी का खतरा बढ़ जाता है
  • डायबिटीज ऐसी स्थिति होती है जिसमें बॉडी में शुगर लेवल असंतुलित हो जाता है

ब्लड में शुगर की मात्रा बढ़ जाने के कारण डायबिटीज की बीमारी शुरू होती है। ब्लड में अधिक मात्रा में शुगर लेवल बढ़ जाने को हाइपरग्लाइसेमिया कहते हैं। अपनी बॉडी को हेल्दी रखने के लिए हमें एक्सरसाइज के साथ-साथ अपने खान-पान पर भी विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है। हमारे डाइट में पोषक तत्व उचित मात्रा में नहीं हैं तो बॉडी में असंतुलन पैदा हो जाता है।

डायबिटीज ऐसी ही स्थिति होती है जिसमें बॉडी में शुगर लेवल असंतुलित हो जाता है। इसी कारण से डायबिटीज की बीमारी होती है। जब बॉडी में शुगर या ग्लूकोज सामान्य से अधिक मात्रा में उत्पन्न हो जाता है तो इसी अवस्था को हाइपरग्लाइसेमिया कहा जाता है। 

यह डायबिटीज की शुरुआत होती है। एक्सपर्ट्स का मानना हैकि बॉडी में लगातार शुगर लेवल असंतुलित रहने से व्यक्ति को डायबिटीक कीटोएटीडोसिस हो सकता है। इसका समय पर इलाज नहीं किया गया तो व्यक्ति कोमा में भी जा सकता है।

अपने डाइट में ये ध्यान रखना जरूरी है कि आपके खाने में कार्बोहाइड्रेट ना हो। लो ग्लाईसेमिक इंडेक्स वाले फूड प्रोडक्ट डायबिटीक पेशेंट के लिए बेहतर होता है क्योंकि उसमें कार्बोहाइड्रेट की मात्रा कम होती है। जानिए उन 5 जरूरी फूड प्रोडक्ट के बारे में जिन्हें खाने से ब्लड शुगर लेवल कम रहता है-

दही-  योगर्ट का जीआई स्कोर 50 या उससे भी कम होता है। प्लेन दही यानि कम मीठापन वाला दही डायबिटीज के मरीजों के लिए एक प्रभावी फूड हो सकता है। रोजाना ऐसे व्यक्ति को दही अपने डाइट में जरूर शामिल करना चाहिए।

लहसुन- लहसुन के सेवन से शरीर में ब्लड शुगर लेवल कम होता है। खास तौर पर डायबिटीज के मरीजों को नियमित तौर पर लहसुन खाने की सलाह दी जाती है। यह शरीर में इंसुलिन की मात्रा को बढ़ाता है। यह कई अन्य बीमारियों में भी मददगार होता है।

अंडा- अंडे में 0 जीआई स्कोर होता है। इसे प्रोटीन का एक सबसे बढ़िया स्रोत माना जाता है। डायबिटीज के मरीजों को अपनी डाइट में अंडा जरूर शामिल करना चाहिए।

नट्स- नट्स यानि सूखे मेवों में फाइबर, प्रोटीन, फैटी एसिड, एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है। इसके अलावा इसमें कम जीआई लेवल भी होता है। डायबिटीज के मरीजों के लिए इसलिए सूखे मेवे खाने की सलाह दी जाती है। काजू में जीआई स्कोर 22 और मूंगफली में जीआई स्कोर 14 होता है।

साबुत अनाज- साबुत अनाज में फाइबर, पोषक तत्व पाया जाता है। शरीर में ब्लड शुगर लेवल को कम करने में ये काफी मददगार होता है। होल ग्रेन पास्ता में जीआई स्कोर 42 होता है जबकि होल ग्रेन ब्रेड में 51 होता है।

(डिस्क्लेमर: प्रस्तुत लेख में सुझाए गए टिप्स और सलाह केवल आम जानकारी के लिए है, इसे पेशेवर चिकित्सा सलाह के रुप में नहीं लिया जा सकता। कोई भी स्टेप लेने से पहले अपने चिकित्सक से परामर्श जरूर कर लें।)

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर