Faridabad News: मानसून में अब फ्लड कंट्रोल सेल निपटेगा जलभराव से, सेल का हुआ गठन, मिली ये जिम्‍मेदारी

Faridabad News: मानसून के समय जलभराव की समस्‍या से निपटने के लिए एक फ्लड कंट्रोल सेल का गठन किया गया है। इस सेल में नगर निगम के साथ पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को रखा गया है, जो बिजली निगम, एचएसवीपी, स्मार्ट सिटी और एफएमडीए के साथ अन्य विभागों की मदद से इस समस्‍या को खत्‍म करने का कार्य करेगी।

Faridabad DC
फ्लड कंट्रोल सेल करेगी जलभराव की समस्‍या को खत्‍म  |  तस्वीर साभार: Twitter
मुख्य बातें
  • जलभराव से निपटने में 100 सिविल डिफेंस वालंटियर करेंगे मदद
  • शहर में जलभराव के 25 प्वाइंट चिन्हित, अधिकारी करेंगे देखरेख
  • फ्लड कंट्रोल सेल में कई विभाग के अधिकारी किए गए शामिल

Faridabad News: मानसून के समय शहर में होने वाली जलभराव की समस्‍या से नागरिकों को राहत देने के लिए जिला प्रशासन ने खास पहल की है। इस स्थिति से निपटने के लिए एक फ्लड कंट्रोल सेल का गठन किया गया है। इस सेल में नगर निगम के साथ पुलिस और राजस्व विभाग के अधिकारियों को रखा गया है, जो बिजली निगम, एचएसवीपी, स्मार्ट सिटी और एफएमडीए के साथ अन्य विभागों की मदद से इस समस्‍या को खत्‍म करने का कार्य करेगी। इस सेल का गठन जिला उपायुक्त जितेंद्र यादव ने लघु सचिवालय में बाढ़ नियंत्रण कार्यों की समीक्षा करने के दौरान की।

इस दौरान उपायुक्त ने अधिकारियों से कहा कि, मानसून के समय शहर में जलभराव को खत्‍म करना हमारी प्रमुख जिम्मेदारी है। इसके लिए सभी विभागों को मिलकर कार्य करना होगा। साथ ही इस कार्य में जनभागीदारी को भी शामिल करना होगा। ऐसे में निर्णय लिया गया है कि, शहर में इस कार्य के लिए 100 सिविल डिफेंस वालंटियर पुलिस की मदद करेंगे। इस बैठक में पुलिस विभाग द्वारा एक प्रेजेंटेशन प्रस्‍तुत कर बताया गया कि, अब तक शहर के ऐसे 25 प्वाइंट चिन्हित किए गए हैं जहां पर जलभराव होता है। जिसके बाद जिला उपायुक्‍त ने कहा कि, इन सभी स्थानों पर पुलिस विभाग से एक एसएचओ स्तर के अधिकारी और 25 ड्यूटी मजिस्ट्रेट नियुक्त किए जाएंगे।

डीसीपी-एसडीएम की भी बनेंगी एक कमेटी

जिला उपायुक्त ने बताया कि, इस कार्य को बेहतर तरीके से करने के लिए डीसीपी व एसडीएम की एक संयुक्त टीम भी गठित की जाएगी, जो पूरे कार्य की मॉनिटर करेगी। एनएचएआई के अधिकारियों ने बैठक में बताया कि, बदरपुर बार्डर से लेकर बल्लभगढ़ तक 10 स्थानों पर रेन वाटर हार्वेस्टिग सिस्टम तैयार किए जा रहे हैं, जो कुछ ही दिनों में पूरे हो जाएंगे। इससे काफी हद तक राष्ट्रीय राजमार्ग पर जलभराव से मुक्ति मिलेगी। वहीं उपायुक्त ने कहा कि, वे खुद भी सभी कार्यों का दौरा करेंगे। जल्द ही बदरपुर बार्डर से बल्लभगढ़ तक वह इस कमेटी के साथ एक संयुक्त दौरा करेंगे। बैठक में नगर निगम व एनएचएआई के अधिकारियों को निर्देश दिए कि, वह नालों की सफाई के कार्य को तेज करें।

Times Now Navbharat
Times now
zoom Live
ET Now
ET Now Swadesh
Live TV
अगली खबर