Happy Birthday Sonu Sood: अप्रवासियों के लिए हीरो बने सोनू सूद के बारे में कम ही लोग जानते हैं ये बातें

Sonu Sood Facts: लॉकडाउन के बीच बॉलीवुड सुपरस्टार सोनू सूद लगातार प्रवासी लोगों को उनके घर जाने में की मदद कर रहे हैं। आइए जानते हैं सोनू सूद और उनके करियर के बारे में कुछ अहम बातें।

Sonu Sood
सोनू सूद  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • असल जिंदगी में लोगों के हीरो साबित हो रहे हैं फिल्मों के विलेन सोनू सूद
  • जरूरतमंद अप्रवासियों की कठिन समय में कर रहे मदद
  • बॉलीवुड अभिनेता के बारे में बहुत कम लोग जानते हैं ये बातें

मुंबई: कोरोना वायरस जैसे संकट के समय में लॉकडाउन की परिस्थितियों के बीच सोनू सूद बॉलीवुड का एक ऐसा नाम हैं जो सबसे ज्यादा चर्चा में बना हुआ है। वह लगातार अप्रवासी जरूरतमंदों की अलग अलग तरह से मदद करने के लिए चर्चा में बने हुए हैं। सोनू सूद 1999 में कल्ज़ागर्ग और नेन्जिनाइल जैसी तमिल फिल्मों के साथ चर्चा में आना शुरु हुए थे। हालांकि, अपने ऑन-स्क्रीन काम के अलावा बॉलीवुड अभिनेता के बारे में ऐसे बहुत से तथ्य हैं जो फैंस को शायद पता नहीं होंगे। आइए जानते हैं सोनू सूद से जुड़ी कुछ ऐसी ही बातें।

बचपन से ही बनना चाहते थे स्टार:
सोनू सूद के माता पिता का नाम शक्ति सूद और सरोज सूद है। उनके पिता की बॉम्बे क्लॉथ हाउस नामक मोगा में कपड़े की दुकान थी और उनकी मां एक प्रोफेसर थीं। कथित तौर पर स्टार हमेशा एक अभिनेता बनना चाहते थे, हालांकि, उनकी मां चाहती थी कि वह बड़े होकर कुछ अच्छा काम करें और एक बड़े आदमी बनें। इसलिए, सोनू को इंजीनियरिंग करने के लिए नागपुर भेजा गया।

फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले की शादी:
वह एक इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियर बन गए थे, लेकिन फिर भी एक हीरो बनने की ललक ने उन्हें नहीं छोड़ा। दबंग अभिनेता ने फिल्म इंडस्ट्री में आने से पहले 23 वर्ष की कम उम्र में सोनाली सूद से शादी की थी। दंपति के अब ईशान और अयान नाम के दो बेटे हैं।

बाहरी होने की वजह से करना पड़ा संघर्ष:
IMDB की रिपोर्ट के अनुसार, सोनू सूद ने एक टीवी विज्ञापन में भारतीय सुपरहीरो नागराज (प्रालय) की भूमिका निभाई। शुरुआत में सोनू सूद को भी प्रोजेक्ट के लिए संघर्ष करना पड़ा था क्योंकि वह एक बाहरी व्यक्ति थे। कथित तौर पर, वह 5-6 लोगों के साथ एक फ्लैट में रहते था। रिपोर्ट्स के अनुसार, एक दिन सोनू को फोन आया कि उन्हें दक्षिण भारतीय फिल्म के लिए चुना गया है।

जोधा अकबर अभिनेता ने क्षेत्रीय फिल्मों में अपना नाम बनाते हुए बॉलीवुड फिल्मों में भी काम करना शुरू किया। बॉलीवुड में उनकी पहली फिल्म शहीद-ए-आज़म भगत सिंह थी, जिसमें सोनू ने भगत सिंह की भूमिका में नजर आए थे। 

सोनू सूद के शौक:
बाद में 2010 में, सोनू सूद को दबंग में छेदी सिंह के किरदार से व्यापक पहचान मिली। सोनू सूद को कथित तौर पर गिटार बजाना काफी पसंद है, उन्होंने किक बॉक्सिंग भी सीखी है। फिटनेस फ्रीक होने चलते अभिनेता को जिम में घंटों बिताना अच्छा लगता है।

अगली खबर