सुशांत सिंह राजपूत मामले को सीबीआई को नहीं सौंपेगी महाराष्ट्र सरकार, मुंबई पुलिस ही करेगी जांच

Anil Deshmukh on Sushant Singh Rajput death case: महाराष्ट्र सरकार सुशांत सिंह राजपूत के मामले को सीबीआई को नहीं सौंपेगी। मुंबई पुलिस ही इस केस की जांच करेगी।

Sushant Singh Rajput Anil Deshmukh
सुशांत सिंह राजपूत और अनिल देशमुख। 

मुख्य बातें

  • सुशांत का केस सीबीआई को नहीं सौंपा जाएगा
  • मुंबई पुलिस के पास ही सुशांत का केस रहेगा
  • महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने यह जानकारी दी है

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत ने 14 जून को मुंबई में बांद्रा स्थित अपने अपार्टमेंट में आत्महत्या कर ली थी। उनके निधन के बाद से मुंबई पुलिस लगातार जांच में जुटी है। लेकिन साथ ही कई सेलेब्स, नेता और सुशांत के फैंस इस केस को सीबीआई को सौंपे जाने की मांग कर रहे है। हालांकि, अब महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने साफ कर दिया है कि इस केस की जांच सीबीआई को ट्रांसफर नहीं की जाएगी। मुंबई पुलिस ही इस केस की जांच जारी रखेगी। गृहमंत्री देशमुख ने बुधवार को कहा कि मुंबई पुलिस मामले की जांच कर रही है और इसे सीबीआई को ट्रांसफर नहीं किया जाएगा।

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई से जांच करवाने को लेकर लाखों फैंस ने पिछले कई हफ्तों से सोशल मीडिया पर कैंपेन चला रखा है। इसके अलावा देश के अलग-अलग राजनीतिक पार्टियों से जुड़े नेताओं ने भी सुशांत केस की सीबीआई से जांच कराने की मांग की है। नेताओं की इस फेहरिस्त में सांसद सुब्रमण्यम स्वामी, एक्टर शेखर सुमन, बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी प्रसाद यादव, जन अधिकार पार्टी के नेता पप्पू यादव, लोक जनशक्ति पार्टी (लोजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान शामिल हैं। वहीं, महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार के बेटे पार्थ पवार ने भी सीबीआई जांच की मांग की है।
 

Sushant Singh Rajput

गौरतलब है कि मुंबई पुलिस अभी तक सुशांत के परिवारवालों के अलावा उनके फ्लैटमेट, दोस्त, डायरेक्टर मुकेश छाबड़ा, एक्ट्रेस संजना संघी, डायरेक्टर संजय लीला भंसाली और आदित्य चोपड़ा जैसे 35 से अधिक लोगों के बयान दर्ज कर चुकी है। पुलिस इस केस की दुश्मनी सहित हर एंगल से जांच कर रही है। दूसरी ओर, मुंबई पुलिस की जांच से परिवार वाले संतुष्ट नहीं है। सुशांत के पिता केके सिंह ने हाल ही में एक्ट्रेस रिया चक्रवर्ती और उनके परिवार के खिलाफ पटना में एफआईआर दर्ज कराई है। केके सिंह का कहना है कि मुंबई पुलिस मुख्य आरोपित के बाबत जांच नहीं कर रही है। उन्होंने कि अगर पटना पुलिस इस मामले की छानबीन करेगी तो सच्चाई सामने आ सकती है।
 

अगली खबर