Sushant Singh Rajput केस पर बोली बिहार पुलिस, चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें Rhea Chakraborty

बॉलीवुड
आईएएनएस
Updated Aug 02, 2020 | 13:29 IST

Bihar Police Ask Rhea Chakraborty Stop hide and seek Game: बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे का कहना है कि अगर रिया चक्रवर्ती खुद को दोषी नहीं मानती हैं तो फिर सामने आकर अपना बयान दर्ज कराएं...

Rhea Chakraborty Stop cat and mouse game If she is innocent Claim Bihar Police in Sushant Singh Rajput Case
सुशांत सिंह राजपूत और रिया चक्रवर्ती।  |  तस्वीर साभार: Instagram

मुख्य बातें

  • सुशांत के कथित आत्महत्या मामले की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को लोकेट नहीं कर सकी है।
  • बिहार पुलिस का कहना है कि उनका लक्ष्य किसी निर्दोष को सजा दिलाना नहीं है।
  • रिया ने अगर कुछ गलत नहीं किया है तो वह पुलिस के सामने आकर यथास्थिति स्पष्ट करें।

बिहार पुलिस स्वीकार कर चुकी है कि वह अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत के कथित आत्महत्या मामले की मुख्य आरोपी रिया चक्रवर्ती को लोकेट नहीं कर सकी है। बिहार पुलिस की दलील है कि उसका लक्ष्य किसी निर्दोष को सजा दिलाना नहीं है और रिया ने अगर कुछ गलत नहीं किया है तो वह पुलिस के साथ चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें और सामने आकर यथास्थिति स्पष्ट करें। बिहार पुलिस के महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडे शनिवार को सिलसिलेवार तरीके से मीडिया से मुखातिब हुए और इस मामले से जुड़ी कई बातों का स्पष्टीकरण पेश किया। इसी क्रम में पांडेय ने एक टीवी चैनल से कहा कि अगर रिया खुद को दोषी नहीं मानती हैं तो फिर वह पुलिस के साथ चूहे-बिल्ली का खेल बंद करें और सामने आकर अपना बयान दर्ज कराएं।

गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, रिया भाग क्यों रही हैं? अगर वह दोषी नहीं हैं तो सामने आएं और जांच में पुलिस की मदद करें। हम किसी निर्दोष को सजा देने के हिमायती नहीं हैं। हम चाहेंगे कि वह सामने आकर अपना पक्ष रखें और अगर वह खुद को निर्दोष साबित करने में सफल रहीं तो हम उन्हें हाथ भी नहीं लगाएंगे। लेकिन अगर वह हमसे भागेंगी तो मैं इतना जरूर कहूंगा कि हम एक न एक दिन उन तक जरूर पहुचेंगे और तब दूध का दूध और पानी का पानी हो ही जाएगा।

सुशांत ने 14 जून को मुम्बई में आत्महत्या की थी और उनके पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को पटना में एफआईआर दर्ज कराया, जिसमें रिया को मुख्य आरोपी बनाया गया है। पटना में एफआईआर दर्ज कराए जाने के बाद बिहार पुलिस भी जांच के लिए मुम्बई पहुंच चुकी है। इस बीच रिया ने पूरे मामले की सुनवाई पटना की जगह मुम्बई मे कराने के लिए सुप्रीम कोर्ट मे अर्जी दी है। सुशांत के पिता ने भी अपने वकील विकास सिंह के माध्यम से इस मामले को पटना में ही रखने के लिए काउंट पीटिशन दायर किया है। इस मामले की सुनवाई पांच अगस्त को होनी है।

उससे पहले रिया लापता हैं। बिहार पुलिस की टीम उनके फ्लैट पर भी गई थी लेकिन वह वहां नहीं मिली। इसी के बाद गुप्तेश्वर पांडे ने स्वीकार किया कि बिहार पुलिस रिया को लोकेट नहीं कर पाई है। रिया ने बीते दिनों एक वीडियो जारी कर खुद को निर्दोष बताया। इसी पर पांडे ने कहा कि वीडियो के जरिए खुद को निर्दोष बताने की जगह रिया पुलिस के सामने अपना बयान दर्ज कराएं और यही उनके हक में होगा।

गुप्तेश्वर पांडे ने कहा, रिया को अपना पक्ष रखना चाहिए। हम उनसे कोई दुश्मनी नहीं है लेकिन अगर वह इसी तरह भागती रहीं तो फिर उनके लिए मुश्किल हालात हो जाएंगे। मैं यकीन दिलाता हूं कि बिहार पुलिस अपने स्तर पर जांच कर रही है और जिस दिन हमे उनके खिलाफ सबूत मिल जाएगा, हम उन्हें पाताल से भी खोज निकालेंगे। बिहार पुलिस इस काम में पूरी तरह सक्षम है।

उल्लेखनीय है कि सुशांत के पिता केके सिंह ने 25 जुलाई को रिया चक्रवर्ती और उसके परिवार के सदस्यों के खिलाफ उनके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने को लेकर पटना के राजीवनगर थाना में एक मामला दर्ज करवाया है। मामला दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस मुंबई पहुंचकर मामले की जांच प्रारंभ कर दी है।

अगली खबर