'ऐ मेरे वतन के लोगों' गाने से पहले लता मंगेशकर को हो गया था पेट में दर्द,आशा भोसले ने गाने से कर दिया था इंकार

Ae Mere Watan Ke Logon Song: गणतंत्र दिवस बिना लता मंगेशकर के गाने ऐ मेरे वतन के लोगों के अधूरा है। 1962 के चीन यु्द्ध के बाद लता मंगेशकर ने ये गाना गाया था। जानिए गाने की कहानी...

Lata Mangeshkar
Lata Mangeshkar 

मुख्य बातें

  • गणतंत्र दिवस बिना ऐ मेरे वतन के लोगों के अधूरा है।
  • साल 1963 में पहली बार गणतंत्र दिवस के मौके पर लता मंगेशकर ने ये गाना गाया था।
  • लता मंगेशकर ने ये गाना गाने से साफ इंकार कर दिया था।

मुंबई. पूरा देश आज गणतंत्र दिवस मना रहा है। भारत का कोई भी राष्ट्रीय त्योहार बिना लता मंगेशकर के गाने 'ऐ मेरे वतन के लोगों' के पूरा नहीं होता है। 26 जनवरी 1963 में ही पहली बार लता मंगेशकर ने ये गाना गाया है। हालांकि, पहले लता मंगेशकर ने ये गाना गाने से इंकार कर दिया था। 

Spotboye को दिए एक इंटरव्यू में लता मंगेशकर ने बताया था कि जब उन्हें गणतंत्र दिवस समारोह में ये गाना गाने का ऑफर दिया गया तो उन्होंने मना कर दिया था। 

स्वर कोकिला के मुताबिक वह पिछले 24 घंटों से काम कर थीं। ऐसे में गाने को खास अटेंशन देना उनके लिए संभव नहीं था। जब गीत के लेखक कवि प्रदीप ने उनसे रिक्वेस्ट की तो लता मंगेशकर अपनी बहन आशा भोसले के साथ इसे गाने को राजी हो गई। 

Snapchat: Lata Mangeshkar finally breaks her silence on the Tanmay Bhat  controversy | Hindi Movie News - Times of India

आशा भोसले ने कर दिया था इंकार 
लता मंगेशकर के मुताबिक आशा भोसले ने दिल्ली रवाना होने से पहले गाना करने से साफ इंकार कर दिया। लता मंगेशकर ने उन्हें मनाया लेकिन वह बिल्कुल भी नहीं मानी।

आशा भोसले के मुताबिक 'ए मेरे वतन के लोगों' प्रोजेक्ट को ऑर्केस्ट्रेटेड करने वाले म्यूजिक कंपोजर हेमंत कुमार ने भी आशा को मनाने की कोशिश की। इसके बाद लता मंगेशकर को अकेले ही गाने की तैयारी की।

Lata Mangeshkar always feels Kishore Kumar's absence | Hindi Movie News -  Times of India

पेट में होने लगा था दर्द 
लता मंगेशकर ने बताया, 'मैं अपनी सबसे खास दोस्त नलिनी म्हात्रे के साथ थीं। हम रात में दिल्ली पहुंचे तो मेरे पेट में बहुत तेज दर्द होने लगा। मैंने नलिनी से कहा कि इस स्थिति में मैं कैसे गा पाऊंगी? वह बोली- 'चिंता मत करो, सब ठीक हो जाएगा।' 

गाना खत्म होने के बाद जब मैं बैक स्टेज गई। मुझे महबूब खान ने मुझे बुलाया और कहा कि, 'पंडित जी ने बुलाया।' जब मेहबूब खान ने पंडित जी से गाने के बारे में पूछा तो उन्होंने कहा- 'बहुत अच्छा, मेरी आंखों में पानी आ गया।'

Bollywood News in Hindi (बॉलीवुड न्यूज़), Times now के हिंदी न्यूज़ वेबसाइट -Times Network Hindi पर । साथ ही और भी Hindi News (हिंदी समाचार) केअपडेट के लिए हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करें ।

Times now
Mirror Now
ET Now
zoom Live
Live TV
अगली खबर